• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Bihar Politics: 'सन ऑफ मल्लाह हूं, पर्दे में आग लगा दूंगा', पढ़ें मुकेश सहनी के 'सियासी डर' की कहानी

Bihar Politics: 'सन ऑफ मल्लाह हूं, पर्दे में आग लगा दूंगा', पढ़ें मुकेश सहनी के 'सियासी डर' की कहानी

मुकेश सहनी ने एनडीए में मोर्चा खोला.

मुकेश सहनी ने एनडीए में मोर्चा खोला.

Mukesh Sahni News: सहनी ने पार्टी तोड़ने की कोशिश करने वालों में किसी का नाम नहीं लिया. उन्होंने सिर्फ इशारा करते हुए कहा कि कुछ लोग हमारी पार्टी को तोड़ने की कोशिश में हैं. दुनिया का कोई व्यक्ति उनकी पार्टी को नहीं तोड़ सकता है.

  • Share this:

पटना. बनारस में फूलन देवी की मूर्ति लगाने से रोकने पर योगी आदित्यनाथ ( Yogi Adityanath) को अपने निशाने पर लेने वाले विकासशील इंसान पार्टी के अध्यक्ष मुकेश साहनी (Mukesh Sahni) ने पहले एनडीए के खिलाफ मोर्चा खोला तो उनके अपने विधायकों ने ही उनका साथ छोड़ दिया. विधायकों के तेवर के बाद मुकेश सहनी ने भी यू टर्न मारते हुए बिहार एनडीए (Bihar NDA) में सब ठीक होने की बात करने लगे. लेकिन एक बार फिर उन्होंने तल्ख तेवर दिखाए हैं और बिना किसी का नाम लिए कहा कि कुछ लोग पर्दे के पीछे से राजनीति कर रहे हैं वे सावधान रहें, और पर्दे के पीछे से राजनीति बंद करें. नहीं तो पर्दे में ही आग लगा देंगे.  उन्होंने यह भी कहा कि पर्दे के पीछे से साजिश रचने वाले साथियों को वे मुंहतोड़ जवाब देंगे. सहनी ने दावा किया कि उनके  सारे विधायक एकजुट हैं और उनके साथ हैं.

हालांकि VIP अध्यक्ष साफ-साफ आरोप लगाया कि पर्दे के पीछे से कोई उनकी पार्टी को तोड़ने की कोशिश कर रहा है. सहनी ने पार्टी तोड़ने वालों को चुनौती देते हुए कहा कि कुछ लोग पर्दे के पीछे से काम कर रहे हैं. पार्टी को तोड़ना चाह रहे हैं, लेकिन हमारे विधायक मजबूती से मेरे साथ हैं और कोई ताक़त उसे तोड़ नहीं सकता. सहनी ने चुनौती देते हुए कहा की पार्टी को तोड़ने वाले को अगर हैसियत है तो पर्दे से बाहर आए नहीं तो हम पर्दे में आग लगा देंगे मैं भी ‘सन ऑफ मल्लाह’ हूं.

किसी का नहीं लिया नाम
हालांकि, सहनी ने पार्टी तोड़ने की कोशिश करने वालों में किसी का नाम नहीं लिया. उन्होंने सिर्फ इशारा करते हुए कहा कि कुछ लोग हमारी पार्टी को तोड़ने की कोशिश में हैं. दुनिया का कोई व्यक्ति उनकी पार्टी को नहीं तोड़ सकता है. हमारे यहां विधायकों को पूरी आजादी है वे कहीं नहीं जाने वाले हैं. कुछ लोग गुमराह करना चाह रहे लेकिन वो कभी सफल नहीं होंगे. हालांकि उनके इस दावे को राजनीतिक जानकार उनके डर से भी जोड़कर देख रहे हैं.

वीआईपी विधायकों का BJP कनेक्शन
दरअसल विधानसभा चुनाव में मुकेश सहनी के चार विधायक जीत कर आए हैं और इनमें से 3 विधायकों का बीजेपी से पुराना नाता रहा है. वीआईपी विधायक राजू सिंह 2015 में बीजेपी के टिकट से चुनाव लड़ चुके हैं तो वहीं विधायक मिश्री लाल यादव भी बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं. वे बीजेपी के सक्रिय नेता रहे हैं. वीआईपी विधायक स्वर्णा सिंह के पिता बीजेपी से एमएलसी रहे हैं. ऐसे में चार में से इन 3 विधायकों का बीजेपी से सीधा संबंध रहा है.

अपने विधायकों से मिले सहनी
सियासी जानकार बताते हैं कि मुकेश सहनी को अब ये डर सता रहा है कि अगर वो एनडीए के ख़िलाफ जाते हैं तो उनकी पार्टी में टूट हो सकती है. बता दें कि इन विधायकों ने मुकेश साहनी के फैसले पर सवाल उठाया था. हालांकि आज वीआईपी के  के दो विधायकों ने पार्टी अध्यक्ष मुकेश साहनी के आवास पर मुलाकात की. दोनों ने पार्टी सुप्रीमो की कार्यशैली पर सवाल खडे किये थे. बताया जा रहा है कि आज तीनों लोगों के बीच इसी बात को लेकर मंत्रणा हुई कि पार्टी को कैसे एकजुट रखा जाए.

ओसामा शहाब से मिले सहनी
इसके बाद वीआईपी सुप्रीमो मुकेश सहनी अपनी पार्टी के बोचहा से विधायक मुसाफिर पासवान का हाल चाल लेने पटना के पारस हॉस्पिटल पहुंचे. इसके बाद सिवान के दिवंगत सांसद मों शहाबुद्दीन के पुत्र ओसामा से भी मुलाकात की. उनकी माता हिना साहेब भी पारस हॉस्पिटल में भर्ती हैं. हालांकि ओसामा सहाब से उनकी मुलाकात के सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं.

मुकेश सहनी एनडीए से चल रहे थे नाराज
गौरतलब है कि बनारस में फूलन देवी की मूर्ति लगाने के विवाद के बाद वीआईपी अध्यक्ष मुकेश साहनी ने एनडीए मैं सब कुछ ठीक-ठाक नहीं होने की बात कही थी. बीते 26 जुलाई को विधानसभा के मानसून सत्र को लेकर बुलाई गई एनडीए की बैठक में भी वे अपने विधायकों के साथ शामिल नहीं हुए थे.

सियासी दम दिखाएंगे सहनी!
हालांकि बाद में एनडीए की बैठक में नहीं जाने को उन्होंने अपनी भूल कहा था. लेकिन अपने विधायकों से मुलाकात के बाद  सहनी ने तल्ख तेवर दिखाते हुए कहा कि उनकी पार्टी में लोकतंत्र है. हर नेता कार्यकर्ता को बोलने की आजादी है, लेकिन इसका यह मतलब ना निकाला जाए कि कोई उनके विधायकों को तोड़ सकता है. बहरहाल मुकेश सहनी के ये तल्ख तेवर किसी डर का नतीजा है या फिर वास्तव में कोई दम है यह देखना दिलचस्प होगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज