CM नीतीश कुमार की स्पेशल टास्क फोर्स, प्रवासी श्रमिकों को राज्य में ही मुहैया करवाएगी रोजगार
Patna News in Hindi

CM नीतीश कुमार की स्पेशल टास्क फोर्स, प्रवासी श्रमिकों को राज्य में ही मुहैया करवाएगी रोजगार
जल संसाधन मंत्री संजय झा का कहना है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक बार जो कमिटमेंट कर देते हैं तो फिर अपने आप की भी नहीं सुनते हैं.

सीएम नीतीश ने लोगों को अपने राज्य व जनपद में काम मिले इसके लिए रोजगार सृजन हेतु विकास आयुक्त की अध्यक्षता में एक टास्क फोर्स गठित की गई है. साथ ही सभी जिलों के डीएम को अपने जिले की स्किल मैपिंग (Skill Mapping) के अनुसार रोजगार सृजन के संबंध में समुचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं.

  • Share this:
पटना. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (Pandemic Coronvirus) के संक्रमण से बचाव के मद्देनजर देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) चौथे चरण में है. लॉकडाउन के चलते काम-धंधे सब ठप हो जाने के चलते बड़े पैमाने पर देश भर में प्रवासी कामगारों का अपने घरों की ओर रिवर्स पलायन शुरू हो गया. इसी क्रम में बिहार में भी लाखों की तादाद में प्रवासी लोगों की घर वापसी हुई है. इन प्रवासियों से कोरोना संक्रमण न फैले इस लिए पहले इन्हें क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Center) पर एक निश्चित अवधि के लिए रहना होता है. लगातार वापस आ रहे इन कामगारों के लिए बिहार सीएम नीतीश कुमार ने एक स्पेशल टास्क फोर्स का गठन किया है. इस टास्क फोर्स का काम बाहर से आए इन कामगारों के लिए राज्य और उनके गृह जनपद में रोजगार सृजन का मार्ग प्रशस्त करना होगा. जिससे कि ये श्रमिक मजबूरी में आजीविका के लिए दूसरे राज्यों में न जाएं.

एक-दो दिन में बचे लोगों की घर वापसी भी होगी सुनिश्चित
साथ ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया है कि क्वारंटाइन सेंटर्स पर आ रहे नए लोगों को पुराने आवासीय लोगों के साथ न रखा जाये बल्कि उनके रहने की अलग से व्यवस्था करें. साथ ही उन्होंने बताया कि किसी को भी मजबूरी में बाहर नहीं जाना पड़े, लोगों को अपने राज्य व जनपद में काम मिले इसके लिए रोजगार सृजन हेतु विकास आयुक्त की अध्यक्षता में एक टास्क फोर्स गठित की गई है. साथ ही सभी जिलों के डीएम को अपने जिले की स्किल मैपिंग (Skill Mapping) के अनुसार रोजगार सृजन के संबंध में समुचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं.

लोगों को राशन की कमी ना हो इसके लिए स्वीकृत राशन कार्ड की प्रिंटिंग में तेजी लाते हुए तथा राशन कार्ड का वितरण भी प्रारंभ करने के उन्होंने निर्देश दिए हैं. सीएम नीतीश कुमार ने विदेश से आ रहे लोगों को भी क्वॉरेंटाइन किए जाने की समुचित व्यवस्था के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया. उन्होंने कहा कि अधिकांश लोग बिहार के बाहर से वापस बिहार आ चुके हैं अभी भी जो लोग बिहार के बाहर फंसे हुए हैं उन्हें एक-दो दिनों में वापस बुलाने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया.



ये भी पढ़ें- अजित जोगी ने एक-दो नहीं, बल्कि 7 बार दिया था मौत को चकमा


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading