SSR Death Case: केंद्रीय मंत्री बोले- संजय राउत को जेल की सलाखों के पीछे होना चाहिए
Patna News in Hindi

SSR Death Case: केंद्रीय मंत्री बोले- संजय राउत को जेल की सलाखों के पीछे होना चाहिए
केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने शिवसेना सांसद संजय राउत की गिरफ्तारी की मांग की.

अश्विनी कुमार चौबे (Ashwini Kumar Chaubey) ने सुशांत सिंह राजपूत (Sushant singh rajput) के पिता केके सिंह पर टिप्पणी को बिहारवासियों का अपमान बताते हुए आरोप लगाया कि महाराष्ट्र सरकार (Government of Maharashtra) गुनहगारों को बचाने में लगी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 12, 2020, 8:00 PM IST
  • Share this:
पटना. शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) द्वारा लगातार सुशांत सिंह राजपूत ( Sushant singh rajput) और उनके परिजनों को टारगेट किए जाने के बाद बिहार के नेताओं में काफी रोष है. इसी क्रम में बीजेपी नेता व केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे (Ashwini Kumar Chaubey) ने न्यूज 18 से कहा कि शिव सेना सांसद ने सिर्फ सुशांत के पिता का ही अपमान नहीं किया है बल्कि पूरे बिहार को अपमान किया है. संजय राउत को सुशांत सिंह राजपूत के पिता से माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने बिहार में संजय राउत के खिलाफ दर्ज शिकायत एफआईआर पर कहा कि सिर्फ मुकदमा से काम नहीं चलने वाला है बल्कि उन्हें जेल की सलाखों के पीछे होना चाहिए.

अश्विनी चौबे ने आरोप लगाया कि सुशांत सिंह राजपूत के गुनहगारों को महाराष्ट्र सरकार बचाने में लगी है. उन्होंने सवाल पूछा किमुंबई पुलिस ने अभी तक नहीं एफआईआर दर्ज क्यों नहीं की. बीजेपी नेता ने कहा कि बिहार पुलिस को भी जांच करने के लिए रोका गया था, सीबीआई से जांच हो रही है. अब सच्चाई सबके सामने आयेगी कि इसमें कौन-कौन शामिल हैं.

बता दें कि शिवसेना सांसद ने सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह की दो शादी होने की बात कही थी जिसका परिवार ने खंडन किया था. इसी तरह सुशांत के चरित्र को लेकर भी शिवसेना सांसद ने कई सवाल खड़े किए थे. इसके बाद बिहार के आम लोगों और नेताओं में संजय राउत के बयान पर रोष है.



इसी क्रम में बिहार बीजेपी के प्रवक्ता निखिल आनंद ने सुशांत सिंह राजपूत के पिता को लेकर शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' में छपे आलेख पर नाराजगी जताते हुए कहा कि महाराष्ट्र में अंधेरगर्दी है, जिसके चौपट राजा श्रीमान उद्धव ठाकरे बन गए हैं.
निखिल ने कहा कि महाराष्ट्र में गुंडागर्दी है और यही कारण है कि सुशांत मामले से जुड़े तथ्यों-सबूतों को मिटाया जा रहा है. बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि सामना का आलेख सुशांत की मृतआत्मा के चरित्रहनन का घटिया प्रयास है. उन्‍होंने कहा कि दिशा सालियान की फाइल डिलीट करने के बाद अब उसके कपड़े फ़ोरेंसिक जांच के लिए भेजे जा रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज