SSR Suicide Case: पटना पुलिस ने 3 लोगों से की पूछताछ, फोन पर लिया गया सिद्धार्थ पीठानी का बयान

सुशांत सिंह की मौत मामले में पटना पुलिस ने सिद्धार्थ पीठानी को पूछताछ के लिए बुलाया था.  (फाइल फोटो)
सुशांत सिंह की मौत मामले में पटना पुलिस ने सिद्धार्थ पीठानी को पूछताछ के लिए बुलाया था. (फाइल फोटो)

पुलिस ने दीपेश सावंत (Deepesh Sawant) से भी करीब 2 घंटे तक की पूछताछ की है. पूछताछ के दौरान उसके बयान को पटना पुलिस ने दर्ज किया है. इसके अलावा सिद्धार्थ पीठानी का भी बयान दर्ज किया गया है.

  • Share this:
पटना. फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या (Sushant Singh Rajput Suicide) मामले में पटना पुलिस लगातार साक्ष्य जुटा रही है. मुंबई में सामने आ रही कई प्रकार के अड़चनों के बाद भी पटना पुलिस की टीम रुकी नहीं है. भले ही पटना पुलिस (Patna Police) की रफ्तार थोड़ी धीमी हुई है, मगर  वह आज भी उसी ऊर्जा के साथ अपना काम करने में जुटी हुई है. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, पटना पुलिस की टीम ठोस तरीके से काम कर रही है और हर दिन मुंबई पुलिस (Mumbai Police) को बेनकाव कर रही है. दरअसल, सुशांत सिंह राजपूत मामले में पुलिस डिपार्टमेंट के आधिकारिक सूत्रों से जो अहम जानकारी मिली है उसके अनुसार सोमवार को तीन महत्वपूर्ण बयान दर्ज किए गए हैं. जिन लोगों के बयान दर्ज किए गए हैं उनमें सुशांत सिंह राजपूत के करीबी सिद्धार्थ पीठानी (Siddharth Peethani) , दूसरा दीपेश सावंत और तीसरा सिद्धार्थ गुप्ता (Siddharth Gupta) का नाम शामिल है.

सूत्रों के अनुसार, सुशांत सिंह की मौत मामले में पटना पुलिस ने सिद्धार्थ पीठानी को पूछताछ के लिए बुलाया था. लेकिन वो हैदराबाद में है. इस कारण वो पुलिस के सामने नहीं आया. ऐसे में बिहार पुलिस की टीम ने फोन कॉल के द्वारा सिद्धार्थ पीठानी का किया बयान दर्ज किया है. पुलिस सूत्रों का कहना है कि सिद्धार्थ पीठानी को इसके बाद भी सामने बुलाया जाएगा. फिर सामने बैठाकर उससे पूछताछ की जाएगी. उसका फिर से बयान दर्ज किया जाएगा. पुलिस सामने से उसके बयान को कलमबद्ध करेगी.

दीपेश सावंत से भी करीब 2 घंटे तक पूछताछ की गई है
कहा जा रहा है कि पुलिस ने दीपेश सावंत (Deepesh Sawant) से भी करीब 2 घंटे तक की पूछताछ की है. पूछताछ के दौरान उसके बयान को पटना पुलिस ने दर्ज किया है. यहां यह बताते चलें कि दीपेश सावंत वो शख्श है जो आखिरी समय में सुशांत के साथ उसके घर पर मौजूद था. सूत्रों के अनुसार, पटना पुलिस ने अब तक दस लोगों का बयान दर्ज किया है. अपने बयान में इन तीनों ने पुलिस को किस तरह की जानकारी दी है यह अभी साफ नहीं हो पाया है. गौरतलब है कि रविवार की देर रात पटना से मुंबई पहुंचे सिटी एसपी सेंट्रल विनय तिवारी को जबरन बीएमसी के अधिकारियों ने क्वारेंटिन कर दिया था. महाराष्ट्र का सरकारी सिस्टम लगातार बिहार पुलिस की टीम को रोकने की कोशिश में लगा हुआ है. बावजूद इसके बिहार पुलिस की टीम अपने काम को अंजाम तक पहुंचाने में लगी हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज