नक्सली हमले की बड़ी साजिश नाकाम, अधबने रॉकेट लांचर और हथियार समेत पकड़े गए तीन आर्म्स सप्लायर

 (फाइल फोटो)

(फाइल फोटो)

Naxalite Conspiracy: दानापुर पुलिस और एसटीएफ की टीम ने नक्सली गतिविधियों और हमले की साजिश का पर्दाफाश करते हुए हथियारों के जखीरे के साथ तीन कुख्यात नक्सलियों को गिरफ्तार किया है. साथ ही हथियार बनाने की एक मिनी फैक्ट्री का भी भंडाफोड़ किया है.

  • Share this:
पटना. बिहार की दानापुर पुलिस और एसटीएफ ने नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई में बड़ी सफलता हासिल की है. दानापुर के गजधारचक इलाके में पुलिस ने नक्सलियों के लिए विस्फोटक और हथियार बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है और भारी मात्रा में विस्फोटक और अर्धनिर्मित रॉकेट लॉन्चर बरामद किया है. गुप्त सूचना के आधार पर हुई छापेमारी के दौरान तीन कुख्यात नक्सलियों को भी गिरफ्तार किया गया है.

बता दें कि जहानाबाद में पकड़े गए नक्सली के निशानदेही पर दानापुर के रामजीचक गजधारचक में छापेमारी की गई.गिरफ्तार नक्सलियों में से परशुराम सिंह का पुत्र प्रेम राज उर्फ गौतम और राकेश कुमार के साथ मो. बदरुदीन भी शामिल है. इनके पास से 605 पीस डेटोनेटर, एक राइफल, सात मैगजीन, दो वायरलेस, 25 जिंदा कारतूस, पुलिस कमांडो की वर्दी, नक्सली साहित्य, अधूरा हैंड ग्रेनेड के साथ भारी मात्रा में पार्ट्स समेत अन्य आपत्तिजनक समान बरामद किया गया है. पुलिस ने हथियारों की जिस मिनी फैक्ट्री का भांडा फोड़ा है, उसे फैक्ट्री परशुराम सिंह चलाता था.

बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे नक्सली

गिरफ्तार नक्सलियों से एसटीएफ की टीम पूछताछ कर रही है. अजित कुमार साहा, थानाध्यक्ष दानापुर के मुताबिक पूछताछ के दौरान ये जानकारी मिली कि नक्सलियों द्वारा किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की साजिश रची जा रही थी, जिसे एसटीफ और दानापुर पुलिस ने समय रहते नाकामयाब किया है. पूछताछ में और भी कई खुलासे होने के आसार हैं. इस मामले के तार जहानाबाद के नक्सलियों से जुड़े हुए बताए जाते हैं.
जहानाबाद से पकड़ा गया था परशुराम

एसटीएफ की निशानदेही पर जहानाबाद से परशुराम को गिरफ्तार किया गया था और उसी के निशानदेही पर दानापुर में छापेमारी की गई जहां से पुलिस की टीम को भारी मात्रा में अर्धनिर्मित रॉकेट लांचर बनाने के सामान और विस्फोटक इत्यादि मिले हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज