Home /News /bihar /

बिहार के फार्मा इंस्टीट्यूट में तेलंगाना के छात्र की मौत, डायरेक्टर समेत तीन के खिलाफ केस

बिहार के फार्मा इंस्टीट्यूट में तेलंगाना के छात्र की मौत, डायरेक्टर समेत तीन के खिलाफ केस

परिजन की मौत के बाद अस्पताल में जमा भीड़

परिजन की मौत के बाद अस्पताल में जमा भीड़

तेलंगाना (Telangana) से आए मृतक छात्र के चाचा मो.जहीरूद्दीन ने भी निदेशक (Director) से काफी सवाल जवाब किया और सरकार से बर्खास्तगी की मांग की.

वैशाली. हाजीपुर के नाइपर (NIPER) इंस्टीच्यूट में तेलंगाना के छात्र की मौत के बाद संस्थान पर सवाल उठने लगा है. मौत के विरोध में संस्थान के छात्रों ने पीएमसीएच (PMCH) में जमकर हंगामा भी किया. छात्रों और परिजनों ने आरोप लगाते हुए कहा कि एम फॉर्मा के छात्र खलिल मेहताब जो कि तलंगाना का रहनेवाला था और पिछले कई माह से चिकनगुनिया से पीड़ित था. परिजनों की माने तो बीमारी के बाद भी संस्थान ने ना तो छुट्टी दी और ना ही इलाज करवाया जिसकी वजह से हालत गंभीर हो गई थी और छात्र ने आखिरकार दम तोड़ दिया.

'तानाशाह हैं निदेशक'

मौत के बाद संस्थान के निदेशक पर खलील के साथियों ने भी आरोप लगाते हुए कहा कि निदेशिका गायत्री विश्नाथ पाटिल तानाशाह हैं और आए दिन छात्रों को टॉर्चर करती हैं यहां तक की कोई छात्र बीमार पड़ जाता है तो छुट्टी तक नहीं दी जाती है. खलील की बीमारी में भी संस्थान ने जब अंतिम अंतिम तक साथ नहीं दिया तो कल गंभीर हालत में संस्थान के छात्रों ने ही पीएमसीएच लाने की कोशिश की लेकिन रास्ते में ही खलील की मौत हो गई बावजूद संतुष्टि के लिए पीएमसीएच लाया गया लेकिन डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया.

परिजन बोले- बेटे से थी काफी उम्मीदें

मौत की खबर मिलते ही सुबह ही परिजन सीधा पीएमसीएच पहुंचे जहां परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था और संस्थान के प्रति गुस्सा भी. इस बीच छात्रों के आक्रोश के बीच ही नाइपर की निदेशक जब पीएमसीएच पहुंची तो छात्रों ने जमकर विरोध जतााया और गो-बैक के नारे भी लगाए. तेलंगाना से आए मृतक छात्र के चाचा मो.जहीरूद्दीन ने भी निदेशक से काफी सवाल जवाब किया और सरकार से बर्खास्तगी की मांग की. मृतक के चाचा ने रो-रोकर कहा कि खलील पढ़ने में काफी मेधावी था और बड़ी उम्मीद से परिजनों ने इस संस्थान में दाखिला कराया था ताकि आगे चलकर मुकाम हासिल करे.

डायरेक्टर समेत तीन के खिलाफ केस

पीएमसीएच में देर रात तक मृतक छात्र का शव पड़ा रहा और परिजन डेथ सर्टिफिकेट के इंतजार में था. मृतक के परिजनों और साथियों ने हाजीपुर इंडस्ट्रियल एरिया की पुलिस के पहुंचने पर संस्थान के खिलाफ फर्द बयान भी दर्ज करवाया और डायरेक्टर, एकेडमिक कंट्रोलर और एचओडी के खिलाफ केस भी दर्ज कराया. नाइपर संस्थान में वैसे छात्र पढ़ाई जब मदद नहीं मिला तो छात्रों ने पीएमसीएच लाने का प्रयास किया लेकिन रास्ते में ही खलील की मौत हो गई. मौत के बाद पीएमसीएच में शव पड़ा है और छात्र और परिजन भी निदेशिका पर कार्रवाई की मांग को लेकर डटे हैं. साथी की मौत से आक्रोशित छात्रों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि जब तक डाइरेक्टर की बर्खास्तगी नहीं होती तब तक कॉलेज में पठन पाठन ठप रहेगा और कल से छात्र अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे. ​

ये भी पढ़ें- बिहार दारोगा परीक्षा का प्रश्न पत्र वायरल, विभाग ने दिए जांच के आदेश

ये भी पढ़ें- नीतीश की चिठ्ठी का नहीं हुआ असर, IMA देहरादून में शिफ्ट होगा गया का OTA

Tags: Bihar News, Department of Pharmaceuticals, Telangana

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर