अपना शहर चुनें

States

'नंबर दिखाओ-नौकरी पाओ' आधार पर Sunny Leone बनी इंजीनियरिंग टॉपर

PHED ने नए नियमों के तहत संविदा पर 214 जूनियर इंजीनियर की बहाली के लिए वैकेंसी निकली थी. इसमें जूनियर इंजीनियरों से ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे. कुल 17, 000 आवेदन विभाग को प्राप्त हुए जिसके आधार पर विभाग ने सभी 17, 000 की मेरिट लिस्ट वेबसाइट पर जारी कर दी.

  • Share this:
'नंबर लाओ- नौकरी पाओ' के तर्ज पर संविदा जूनियर इंजीनियर की बहाली प्रक्रिया ने एकबार फिर सिस्टम पर सवाल खड़ा कर दिया है. वजह लोक स्वास्थ्य एवं अभियंत्रण विभाग यानि PHED की जूनियर इंजीनियर की बहाली में मेरिट लिस्ट में सन्नी लीयोन का टॉपर होना है. 17, 000 आवेदकों में सन्नी लीयोन 98.5 स्कोर लाकर मेरिट लिस्ट में पहले स्थान पर आई है. बड़ा सवाल ये है कि आखिर ये सन्नी लीयोन कौन है विभाग को यह भी नहीं मालूम. वहीं खराब स्कोर की वजह से सही आवेदकों में विभाग के रवैये को लेकर नाराजगी है.

दरअसल PHED ने नए नियमों के तहत संविदा पर 214 जूनियर इंजीनियर की बहाली के लिए वैकेंसी निकली थी. इसमें जूनियर इंजीनियरों से ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे. कुल 17, 000 आवेदन विभाग को प्राप्त हुए जिसके आधार पर विभाग ने सभी 17, 000 की मेरिट लिस्ट वेबसाइट पर जारी कर दी.

ये भी पढ़ें- सनी लियोनी को बिहार में मिली इंजीनियर की नौकरी तो तेजस्वी ने नीतीश से पूछा ये सवाल



इसके तहत बहाली में ना तो कोई परीक्षा ली जानी है और ना ही कोई साक्षात्कार. यानि नंबर दिखाओ और नौकरी पाओ के तहत बहाली होनी है. लेकिन मेरिट लिस्ट जारी होते ही विभाग के पसीने छूटने लगे क्योंकि इसमें सन्नी लियोन नाम की अभ्यर्थी पहले स्थान पर है.
इसे ना सिर्फ 98.5 स्कोर मिला है बल्कि एजुकेशन प्वाइंट में 73.50 अंक भी मिले हैं. जबकि एक्सपेरिएंस प्वाइंट में 25 अंक प्राप्त हुए हैं. अभ्यर्थी सन्नी लियोनी ने अपना डेट ऑफ बर्थ 13 मई 1991 अंकित किया है. इसका आवेदन नंबर JEC-0031211 है. यही नहीं सन्नी लीयोनी के पिता का नाम भी लियोनी-लियोनी कुछ अजीब सा है.

ये भी पढ़ें- चारा घोटाला: जमानत के लिए लालू प्रसाद ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की याचिका

वहीं सन्नी लियोनी के अलावा बाकी और कैंडिडेट भी कुछ ऐसे ही हैं. तीसरे नंबर पर BVCXZ नाम का अभ्यर्थी है. गौरतलब है कि ये मेरिट लिस्ट नेशनल इन्फॉर्मेशन सिस्टम ने तैयार किया है.

अब मेरिट लिस्ट में निचले पायदान पर आनेवाले अभ्यर्थी सीधे PHED पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए गड़बड़ी का आरोप लगा रहे हैं. दरअसल शिकायत करने आए अभ्यर्थियों में ज्यादातर ऐसे हैं जिनको 3400 और 3500 स्कोर प्राप्त हुआ है. ये लोग विभाग पर मेरिट के साथ मजाक का आरोप लगा रहे हैं.

ये भी पढ़ें- बिहार बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा आज से, परीक्षार्थी भूलकर भी न करें ये काम

हालांकि इस बारे में विभाग के विशेष सचिव सतीश चंद्र मिश्र की अपनी दलील है. वे बताते हैं कि ऑनलाइन फॉर्म के माध्यम से बहाली होनी है जिसमें 17, 000 का लिस्ट एक साथ जारी किया गया है. आवेदकों से 7 दिनों के अंदर आपत्ति पत्र भी मांगे गए हैं.

सन्नी लियोन कौन है इसकी जानकारी भी विभाग के विशेष सचिव के पास नहीं है और ये साफ कह रहे हैं कि किसी ने मजाक किया है. जब बहाली होगी उस वक्त सभी सर्टिफिकेट चेक करने के बाद ही बहाली होगी और उसी वक्त पता चल पाएगा कि असली अभ्यर्थी कौन है.

रिपोर्ट- रजनीश कुमार

ये भी पढ़ें-  लोकसभा चुनाव: मांझी ने मांगी 20 सीटें, कहा- बिहार में 'हम' से कमजोर है कांग्रेस
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज