लालू यादव को बड़ा झटका, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका

इस याचिका पर बुधवार को सुनवाई करते हुए अदालत ने कहा कि हमें नहीं लगता कि आपको जमानत दी जाए.

News18 Bihar
Updated: April 10, 2019, 11:19 AM IST
लालू यादव को बड़ा झटका, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका
इस याचिका पर बुधवार को सुनवाई करते हुए अदालत ने कहा कि हमें नहीं लगता कि आपको जमानत दी जाए.
News18 Bihar
Updated: April 10, 2019, 11:19 AM IST
चारा घोटाले से जुड़े मामलों में दोषी करार दिए जा चुके राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की ओर से सुप्रीम कोर्ट में दाखिल जमानत याचिका खारिज हो गई है. इस याचिका पर बुधवार को सुनवाई करते हुए अदालत ने कहा कि हमें नहीं लगता कि आपको जमानत दी जाए. बता दें इससे पहले मंगलवार को सीबीआई की ओर से लालू प्रसाद को जमानत नहीं देने को लेकर पुरजोर विरोध किया गया था.

सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर कहा कि लालू प्रसाद यादव अस्पताल से राजनीतिक गतिविधियों का संचालन कर रहे हैं. वह लोकसभा चुनाव के मद्देनजर जमानत मांग रहे हैं. वह अब मेडिकल आधार पर जमानत मांगकर कोर्ट को गुमराह कर रहे हैं.

सीबीआई ने कहा कि लालू यादव को अपनी राजनीतिक गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए जमानत नहीं मिलनी चाहिए. अगर सभी सजाओं को एक साथ जोड़कर देखा जाए तो लालू को साढ़े तीन साल नहीं, बल्कि 27.5 साल की जेल हुई है. वह जेल में न रहकर अस्पताल के विशेष वार्ड में रह रहे हैं.

 यह भी पढ़ें- रविशंकर प्रसाद ने थामा बल्ला और पब्लिक की डिमांड पर जड़ दिया छक्का

बता दें कि लालू प्रसाद यादव ने उम्र और बीमारी का हवाला देते हुए सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका दायर की. उन्होंने एसएलपी दायर कर कहा कि वह 71 साल के बुजुर्ग हैं और लंबे समय से बीमार चल रहे हैं. बिहार की सियासत में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बड़ी भूमिका रही है. लालू के समर्थकों को उम्मीद थी कि लोकसभा चुनाव से पहले वे जमानत पर छूट जाएंगे. लेकिन सुप्रीम कोर्ट द्वारा याचिका खारिजए किए जाने के बाद उनकी उम्मीदों काे बड़ा झटका लगा है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

यह भी पढ़ें- राहुल के सामने 'शत्रु' ने लगवाए 'चौकीदार चोर है' के नारे, BJP के संकल्प पत्र को बताया ढकोसला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 10, 2019, 7:52 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...