सुशील मोदी की JDU को सलाह-चुनाव दूर, विकास पर ध्यान दीजिए

News18 Bihar
Updated: September 3, 2019, 9:39 PM IST
सुशील मोदी की JDU को सलाह-चुनाव दूर, विकास पर ध्यान दीजिए
दरअसल एक दिन पहले पटना स्थित जेडीयू दफ्तर के बाहर एक पोस्टर लगा जिस पर राज्य में खूब चर्चा हो रही है.

बिहार के उपमुख्यमंत्री (Deputy Chief Minister of Bihar) सुशील मोदी (Sushil Kumar Modi) ने सहयोगी जनता दल यूनाइटेड को बिना नाम लिए सलाह दी है. सुशील मोदी ने ट्वीट किया है-'राज्य में विधानसभा चुनाव होने में जब एक साल से ज्यादा वक्त बचा है

  • Share this:
पटना. बिहार के उपमुख्यमंत्री (Deputy Chief Minister of Bihar) सुशील मोदी (Sushil Kumar Modi) ने सहयोगी जनता दल यूनाइटेड को बिना नाम लिए सलाह दी है. सुशील मोदी ने ट्वीट किया है-'राज्य में विधानसभा चुनाव होने में जब एक साल से ज्यादा वक्त बचा है, तब एनडीए के लिए यह चुनावी मोड में आने का नहीं, कार्यकाल की शेष अवधि में विकास के ज्यादा से ज्यादा काम करने का समय है.' हालांकि इसके साथ सुशील मोदी ने गठबंधन को किसी भी तरह की आशंका को खारिज किया है. उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि हमारे यहां नेतृत्व को लेकर न कोई संशय है, न कोई अन्तर्कलह.

ये है मामला
दरअसल एक दिन पहले पटना स्थित जेडीयू दफ्तर के बाहर एक पोस्टर लगा जिस पर राज्य में खूब चर्चा हो रही है. 'क्यूं करें विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार' (Kyu Karein Vichaar, Theeke Toh Hain Nitish Kumar), यह स्लोगन बिहार में इस वक्त चर्चा का विषय बना हुआ है. चर्चा इस बात को लेकर हो रही है कि आखिर इस स्लोगन की जरूरत क्यों पड़ी? जेडीयू (JDU) दफ्तर के सामने लगे इस पोस्टर ने बिहार में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के अलावा किसी और के विकल्प की संभावना को खत्म कर दिया है. तो सवाल उठता है क्या जेडीयू के मन में किसी तरह की शंका है जिसके चलते वो पहले से ही नीतीश कुमार के विकल्प की संभावना को खारिज कर देना चाहती है.

Loading...



कई मुद्दों पर जेडूयू और बीजेपी की अलग राय
दरअसल, बीच बीच में जेडीयू और बीजेपी के बीच कई मुद्दों पर अलग-अलग राय देखने को मिल जाती है. चाहे धारा 370 हटाने का मामला हो या फिर तीन तलाक का मसला. जेडीयू ने हमेशा इस मुद्दे पर विरोध जताया. दोनों दलों के बीच कई बार दिख रही तल्खी उनके साथ लड़ने की संभावना पर सवाल खड़ा करती रही है. ऐसे में इस तरह का पोस्टर जेडीयू के दावे को मजबूत करने वाला लग रहा है.

एनडीए और महागठबंधन को संदेश देने की कोशिश
इसके अलावा महागठबंधन की तरफ से भी नीतीश कुमार से कुर्सी खाली करने की अपील की जाती रही है. लिहाजा इस पोस्टर के जरिए अपनी सहयोगी बीजेपी और एलजेपी के अलावा महागठबंधन के घटक दलों को भी एक संदेश देने की कोशिश की गई है कि नीतीश कुमार का कोई विकल्प फिलहाल नहीं है.
ये भी पढ़ें:

कश्मीरी युवती को फिर भाया 'बिहारी युवक', 3 बच्चों के पिता से भागकर रचाई शादी

BPSC में मेरिट घोटाला! फेल किए गए 73 कार्यरत दंत चिकित्सकों का भविष्य दांव पर, आत्मदाह की धमकी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 9:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...