लाइव टीवी
Elec-widget

सुशील मोदी का सवाल-लालू प्रसाद यादव किसे धोखा देना चाहते हैं?

News18 Bihar
Updated: November 27, 2019, 9:04 AM IST
सुशील मोदी का सवाल-लालू प्रसाद यादव किसे धोखा देना चाहते हैं?
जगदानंद सिंह को बिहार आरजेडी का अध्यक्ष बनाए जाने को सुशील मोदी ने लालू यादव का धोखा करार दिया है.

सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, जिस सीनियर व्यक्ति को पत्नी-पुत्र-पुत्री मोह के चलते राजद में कभी सीएम-मैटीरियल नहीं समझा गया, उन्हें अचानक पिछवाड़े के अंधेरे कमरे से ड्राइंग रूम में लाकर लालू प्रसाद किसे धोखा देना चाहते हैं?

  • Share this:
पटना. वर्ष 1997 में राष्ट्रीय जनता दल की स्थापना हुई तो इसके संस्थापक लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) ने यही संदेश दिया कि उनकी पार्टी सिर्फ पिछड़ों, दलितों और मुस्लिमों के हित के लिए काम करेगी. जाहिर है इस सोच के साथ पली-बढ़ी पार्टी में सवर्णों को कोई खास जगह नहीं दी गई. पर अब बदलते वक्त के साथ आरजेडी ने भी अपनी सोच बदली और पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व सांसद जगदानंद सिंह (Jagdanand Singh) (सवर्ण समुदाय से आते हैं) को प्रदेश राजद की कमान सौंप दी. जाहिर है लालू यादव की पहल पर किया गया यह बदलाव राजद की निचली इकाइयों में भी नजर आएगा. हालांकि आरजेडी (RJD) का यह बदलाव भाजपा (BJP) नेता और बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी (Sushil Kumar modi) को रास नहीं आ रहा है. उन्होंने इसको लेकर तंज कसते हुए कहा है कि ये लालू यादव का धोखा है.

सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने अपनी पहली पारी में जब दलितों-पिछड़ों के रिजर्वेशन में कोई कटौती किये बिना ऊंची जाति के गरीबों को नौकरियों और दाखिलों में 10 फीसद रिजर्वेशन देने का बिल पास कराया था, तब राजद ने संसद में इसका कड़ा विरोध किया था. इस रिजर्वेशन को लाली पॉप बताया गया था. 2019 के संसदीय चुनाव में राजद को इसकी ऐसी सजा मिली कि बिहार की सभी 40 सीटों पर पार्टी हार गई. अब बिहार प्रदेश राजद की कमान ऊंची जाति को सौंप कर सवर्ण समाज को लालीपॉप से बहलाने की कोशिश की गई है.

उन्होंने आगे लिखा,  जिस सीनियर व्यक्ति को पत्नी-पुत्र-पुत्री मोह के चलते राजद में कभी सीएम-मैटीरियल नहीं समझा गया, उन्हें अचानक पिछवाड़े के अंधेरे कमरे से ड्राइंग रूम में लाकर लालू प्रसाद किसे धोखा देना चाहते हैं?


Loading...

बता दें कि राष्ट्रीय जनता दल (Rashtriya Janata Dal) ने पार्टी के वरिष्ठ नेता जगदानंद सिंह को प्रदेश आरजेडी की कमान सौंप दी है. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) इस इस फैसले में तेजस्वी यादव की भी पूरी सहमति कही जा रही है.

दरअसल न सिर्फ आरजेडी में, बल्कि बिहार की राजनीति में जगदानंद सिंह की छवि एक ईमानदार और कर्मठ नेता के तौर पर है. वह लालू यादव के खास तो हैं ही, साथ ही पूरे परिवार के करीबी भी हैं. उन्होंने कई बार न सिर्फ लालू परिवार और उनकी पार्टी को संकटों से उबारा है, बल्कि पार्टी की नींव भी मज़बूत रखी.

ये भी पढ़ें

बिहार: 'अर्जुन के द्रोणाचार्य' की ताजपोशी की इनसाइड स्टोरी, पढ़ें 10 कारण

तेजप्रताप ने जगदानंद सिंह, तेजस्वी और पूर्वे पर कही बड़ी बात, बयां किया दर्द

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 8:29 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...