• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • तेजस्वी का बड़ा हमला- क्राइम, करप्शन और कम्युनलिज्म पर समझौता को तैयार हैं नीतीश कुमार

तेजस्वी का बड़ा हमला- क्राइम, करप्शन और कम्युनलिज्म पर समझौता को तैयार हैं नीतीश कुमार

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर बीजेपी नेताओं के भ्रष्टाचार के सामने सरेंडर कर देने का आरोप लगाया.

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर बीजेपी नेताओं के भ्रष्टाचार के सामने सरेंडर कर देने का आरोप लगाया.

Tarkishore Prasad Nal Jal Yojana Corruption: तेजस्वी यादव ने सुशील मोदी पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि सुशील मोदी के डिप्टी सीएम रहते टेंडर मिला. तारकिशोर प्रसाद उस समय कटिहार के विधायक थे. सुशील मोदी के रेकमेंडेशन से तारकिशोर प्रसाद डिप्टी सीएम बने. क्या इस पैसे के भागीदार नीतीश और सुशील मोदी हैं?

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

पटना. बिहार के उप मुख्यमंत्री व भारतीय जनता पार्टी के नेता तारकिशोर प्रसाद (Bihar Deputy CM Tarkishore Prasad ) के परिजनों को 53 करोड़ रुपये का ठेका दिए जाने के मामले ने सियासी रंग ले लिया है. इस मामले को लेकर राजद व कांग्रेस (RJD-Congress) समेत पूरे विपक्ष की ओर से नीतीश सरकार (Nitish Government) पर सवाल उठाए जा रहे हैं. राजद नेता व बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (RJD Leader Tejaswi Yadav) ने गुरुवार को एक प्रेस वार्ता कर सीएम नीतीश कुमार को डरपोक और कमजोर मुख्यमंत्री कह दिया है. इसके साथ ही तेजस्वी ने कहा कि उनकी हिम्मत नहीं है कि वह बीजेपी पर कार्रवाई कर सकें. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार पूरे तरह से थक गए हैं और अब वे क्राइम, करप्शन और कम्युनलिज्म से समझौता करने को नीतीश कुमार तैयार हैं. तेजस्वी ने इस मामले में बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ( Sushil Kumar Modi) पर भी निशाना साधते हुए कहा कि भ्रष्टाचार पर हर वक्त बोलने वाले सुशील मोदी की जुबान आज क्यों बंद है?

बता दें कि सीएम नीतीश कुमार के ड्रीम प्रोजेक्ट नल जल योजना में डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद के साले, बहू व रिश्तेदारों पर योजना में ठेका लेने का आरोप लगाया गया है. तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि सिर्फ तारकिशोर प्रसाद ही नहीं कई जेडीयू नेताओं और उनके संबंधियों को नल जल योजना के तहत लाभ पहुंचाया गया है. उन्होंने कहा कि बिजनेस करना बुरी बात नहीं है, लेकिन भ्रष्टाचार करना ही इनका बिजनेस है. अगर विपक्ष की पार्टी होती तो अबतक ईडी और सीबीआई पहुंच गई होती.

तेजस्वी यादव ने कहा कि नल जल योजना सरकार की ड्रीम योजना है. इस योजना में कैसा भ्रष्टाचार हुआ है सब जानते हैं.  अखबारों में सारा खुलासा हो गया है. आरजेडी के कटिहार के नेता राम प्रकाश महतो ने इसकी जानकारी अगस्त 2020 में ही दी थी. उसके बाद मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिखकर भी कहा गया था कि इस योजना के जरिये धन की सप्लाई बीजेपी अकाउंट में हो  रही है.

ये भी पढ़ें-  बिहार में शराबबंदी कानून में कितनी छूट मिली? 7 प्वाइंट्स में साफ-साफ जानें क्या हैं नये नियम

नल जल योजना का तेजस्वी ने नया नाम देते हुए नल धन योजना कहकर संबोधित किया. उन्होंने सीएम नीतीश कुमार को चुनौती देते हुए कहा कि 50 ऐसे पंचायत का नाम बताएं जहां योजना ठीक से चल रही हो. जेडीयू और बीजेपी नेताओं को कांट्रेक्ट दिया जा रहा है. जिस कंपनी को कांट्रेक्ट दिया है वो डिप्टी सीएम के साले और दामाद हैं.  सरकारी काम में अनुभव वालों को ही कॉन्ट्रैक्ट दिया जा सकता है. इस कंपनी को पहले कोई काम करने का अनुभव नहीं था.

तेजस्वी ने यह भी कहा कि डिप्टी सीएम के दामाद की कंपनी भी मानती है कि उन्हें अनुभव नही है.  ऑडिट रिपोर्ट में बताया है कि कोई सरकारी काम नहीं कर रहे. फिर सारा पैसा कहां जा रहा? यह डिप्टी सीएम बताएं. सीएम नीतीश पर तेजस्वी ने बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि नीतीश कुमार का भ्रष्टाचार  पर सुचिता की बात बनावटी है. करप्शन पर सुविधा की बात करते हैं. भ्रष्टाचार को नीतीश कुमार का प्रोटेक्शन और एक्सेप्टेंस है.

ये भी पढ़ें- देखिये Video: दो अर्धनग्न बार बालाओं के बीच कैसे ठुमके लगा रहे सफेद कुर्ता-पायजामा पहने मुखिया जी!

तेजस्वी ने सुशील मोदी पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि सुशील मोदी के डिप्टी सीएम रहते टेंडर मिला.  तारकिशोर प्रसाद उस समय कटिहार के विधायक थे. सुशील मोदी के रेकमेंडेशन से तारकिशोर प्रसाद डिप्टी सीएम बने. क्या इस पैसे के भागीदार नीतीश और सुशील मोदी हैं? तेजस्वी ने आरोप लगाया कि यह 2020 के चुनाव की तैयारी की गई थी. चुनाव में पैसे लाने के लिए इसे किया गया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज