अपना शहर चुनें

States

टीम इंडिया में एंट्री के लिए पसीना बहा रहे IPL स्टार ईशान किशन, धोनी को लेकर कही ये बात

पटना पहुंचे क्रिकेटर ईशान किशन
पटना पहुंचे क्रिकेटर ईशान किशन

Cricketer Ishan Kishan: ईशान किशन मूल रूप से बिहार के रहने वाले हैं और मुंबई इंडियन्स के प्रमुख बल्लेबाजों में से एक हैं. इस बार के आईपीएल में उनका बल्ला बखूबी बोला है.

  • Share this:
पटना. भारत के स्टार क्रिकेटर और विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन (Cricketer Ishan Kishan) ने कहा है कि मेरा भी सपना है कि मैं भारतीय टीम (Team India) का कप्तान बनूं. पटना पहुंचे ईशान ने कहा कि ये हर क्रिकेटर की इच्छा होती है कि वो भारतीय टीम की नीली जर्सी पहने और भारतीय टीम का हिस्सा बने, मेरा भी यही सपना है और कप्तान बनना तो मेरा शुरू से ही सपना रहा है. मुंबई इंडियन टीम को IPL जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले ईशान किशन ने अपने दिल की ख़्वाहिश को NEWS 18 से बातचीत में व्यक्त किया.

पटना के रहने वाले ईशान किशन जिनका बचपन पटना में गुजरा और क्रिकेट का ककहरा भी पटना में ही सिखा का पटना में ही सम्मान समारोह आयोजित किया गया था जहां आकर वो बेहद इमोशनल दिखे. ईशान किशन बेहद आक्रामक बल्लेबाज़ और विकेटकीपर हैं उनसे जब आक्रामकता के बारे में पूछा गया तो किशन ने कहा कि मैच के पहले जो कठिन ट्रेनिंग और प्रैक्टिस होती है वहीं से उनके अंदर आक्रामकता आ जाती है.

ईशान किशन की मानें तो आज तक उन्हें किसी भी गेंदबाज़ से डर नहीं लगा है. वो बैटिंग करते वक्त किसी भी नामी गेंदबाज़ के नाम को अपने ऊपर हावी नहीं होने देते हैं जिसकी वजह से वो आक्रामक बल्लेबाज़ी कर लेते हैं. ईशान किशन इस वक़्त झारखंड से खेलते है और क्रिकेट में अपना आदर्श महेंद्र सिंह धोनी को मानते है और धोनी जैसा ही विकेट कीपर, बल्लेबाज़ और कप्तान बनना चाहते हैं. ईशान कहते है धोनी भाई में जो धैर्य और हिम्मत के साथ साथ जो लीडरशीप क्वालिटी है उसका कोई जवाब नहीं है.



ईशान किशन को इस बात का मलाल है कि बिहार में क्रिकेट उतना आगे नही बढ़ पाया है लेकिन उनकी कोशिश होगी जो भी कुछ हो सके वो बिहार क्रिकेट को आगे बढ़ाने में अपना योगदान ज़रूर करेंगे. ईशान किशन ने अपना टार्गेट सेट किया है कि बहुत जल्द भारतीय टीम का हिस्सा बनें और नीली जर्सी पहन गेंदबाज़ों की बखिया उधेड़ें. मुंबई इंडियंस के अपने सहयोगी हार्दिक पांडया से किसी भी मैच के बाद मिली सीख को वो बेहद महत्वपूर्ण मानते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज