लाइव टीवी

पटना में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर दागे गए आंसू गैस के गोले, MLA सहित कई घायल

News18 Bihar
Updated: November 24, 2019, 4:36 PM IST
पटना में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर दागे गए आंसू गैस के गोले, MLA सहित कई घायल
पटना में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर पानी की बौछार करती पुलिस

कांग्रेस (Congress) समर्थकों को पटना (Patna) के हड़ताली मोड़ पर रोकने की कोशिश की गई लेकिन वो एक न माने. इसके बाद पुलिस ने बल का प्रयोग कर कार्यकर्ताओं को रोकने की कोशिश की है.

  • Share this:
पटना. देश में बेरोजगारी और महंगाई समेत कई अन्य मुद्दों को लेकर कांग्रेस (Congress) ने पटना (Patna) में 'जनवेदना मार्च' निकाला है. पटना में आयोजित इस मार्च के दौरान कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने आंसू गैस (Tear Gas) के गोले छोड़े हैं और वाटर कैनन से पानी की बौछार भी की है.

बछवाड़ा के विधायक हुए घायल

इस विरोध प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस के विधायक रामदेव राय घायल हो गए. पुलिस लाठीचार्ज और धक्का मुक्की में बछवाड़ा के विधायक रामदेव राय के सिर और हाथ में चोट लगी है. घायल होने के के बाद विधायक को अस्पताल ले जाया गया. इस दौरान विधायक रामदेव राय ने पुलिस पर आरोप लगाया. पुलिस ने पटना में इस प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस के कई नेताओं को भी हिरासत में ले लिया. कांग्रेस सांसद अखिलेश सिंह, एमएलसी प्रेमचन्द मिश्रा, प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा को पुलिस कोतवाली थाना ले गई.

थाना पहुंचे कुशवाहा

नेताओं के हिरासत में लिए जाने की सूचना मिलते ही RLSP प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा भी कोतवाली थाना पहुंचे. उन्होंने इस दौरान कांग्रेस के मॉर्च में हुए लाठीचार्ज की घटना का विरोध किया और कहा कि ये सरकार विरोधियों की आवाज को दबाना चाहती है.

सदन में उठेगा लाठीचार्ज का मुद्दा

कुशवाहा ने कहा कि ये सरकार नहीं चाहती कि विपक्ष कोई आंदोलन करे. आंदोलन करने पर नीतीश जी सरकार आंसू गैस के गोले छोड़ती है. लोगों पर पानी की बौछार और लाठियां बरसाती है. कुशवाहा ने कहा कि अब ये लड़ाई अकेले कांग्रेस की नहीं बल्कि महागठबन्धन की भी है. हम शांत नहीं बैठेंगे और सरकार पर जोरदार प्रहार होगा. हमलोग तेजस्वी से बात करेंगे और अब लाठीचार्ज का मुद्दा कल सदन में भी उठेगा.
Loading...

पानी की बौछार से भी नहीं माने कार्यकर्ता

पुलिस ने हड़ताली मोड़ पर वज्र वाहन और वाटर कैनन लगाया था. शक्ति सिंह गोहिल सहित कांग्रेस के तमाम नेता जैसे ही हड़ताली मोड़ से आगे बढ़ने की कोशिश की उन पर पानी की बौछार शुरू की गई इस दौरान आंसू गैस के चार गोले भी छोड़े गए. वाटर कैनन के बावजूद भी कांग्रेस के नेता डंटे रहे. पटना में आयोजित इस विरोध मार्च के माध्यम से कांग्रेस की मंशा सरकार को घेरने की की है.

इन मुद्दों को लेकर है विरोध मार्च

बिहार कांग्रेस की ओर से इस मार्च में प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल, अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा, विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह और अखिलेश सिंह शामिल समेत कई नेता शामिल हो रहे हैं. विरोध और प्रदर्शन का मुद्दा देश और प्रदेश में बढ़ती महंगाई, मंदी, बेरोजगारी, बैंकों में व्याप्त भ्रष्टाचार और किसानों की समस्या है. इस विरोध के लेकर पार्टी के कार्यकर्ताओं में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है.

इनपुट- अमित कुमार सिंह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 24, 2019, 2:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...