Home /News /bihar /

Bihar: पिता लालू यादव से बात कर मान गये 'रूठे' तेज प्रताप! RJD के पोस्टरों में फिर दिखे

Bihar: पिता लालू यादव से बात कर मान गये 'रूठे' तेज प्रताप! RJD के पोस्टरों में फिर दिखे

आरजेडी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक लालू यादव ने तेज प्रताप यादव के साथ डेढ़ घंटे तक बातचीत की जिसके बाद कहा जा रहा है कि तेज प्रताप की नाराजगी दूर हो गई (फाइल फोटो)

आरजेडी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक लालू यादव ने तेज प्रताप यादव के साथ डेढ़ घंटे तक बातचीत की जिसके बाद कहा जा रहा है कि तेज प्रताप की नाराजगी दूर हो गई (फाइल फोटो)

Bihar News: आरजेडी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक लगभग तीन साल बाद पटना लौटने के बाद लालू यादव ने राबड़ी आवास के स्टाफ और परिवार के लोगों से तेज प्रताप के मुद्दे पर अलग-अलग बात की. इसके बाद लालू यादव ने तेज प्रताप को बुलाया और उनके साथ लगभग डेढ़ घंटे तक बैठ कर बातचीत की

अधिक पढ़ें ...

    पटना. अपनों से रूठे तेज प्रताप यादव की नाराजगी दूर हो गयी है. राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू यादव (Lalu Yadav) ने अपने बड़े बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) को मना लिया है. इसी के साथ आरजेडी (RJD) में पिता-पुत्र के बीच चल रही तकरार खत्म हो गई है. पिछले कुछ समय से आरजेडी के पोस्टरों से गायब रहने वाले तेज प्रताप की अब इनमें वापसी हो गई है. माना जा रहा है कि अब तेज प्रताप बिहार विधानसभा के दो सीटों के लिए हो रहे उपचुनाव (Bihar Assembly Byelection) में पार्टी का प्रचार करते दिखेंगे.

    आरजेडी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक लगभग तीन साल बाद पटना लौटने के बाद लालू यादव ने राबड़ी आवास के स्टाफ और परिवार के लोगों से तेज प्रताप के मुद्दे पर अलग-अलग बात की. इसके बाद लालू यादव ने तेज प्रताप को बुलाया और उनके साथ लगभग डेढ़ घंटे तक बैठ कर बातचीत की. सूत्रों की मानें तो तेज प्रताप ने पिता के सामने अपनी व्यथा और दिल की भड़ास निकाल दी. उन्होंने कहा कि आपके जाने के बाद मेरे साथ दुर्व्यवहार किया गया. न पार्टी से संबंधित बातों को बताया जाता है और ना ही घर में होने वाले किसी भी कार्यक्रम की जानकारी दी जाती है.

    तेज प्रताप ने पिता लालू यादव के साथ डेढ़ घंटे तक बातचीत की

    तेज प्रताप ने यह भी कहा कि तेजस्वी यादव को नेता बनाने में सबसे साथ उनकी भी सहमति थी तभी वो नेता बने थे. यह भी सहमति बनी थी कि तेजस्वी यादव उपमुख्यमंत्री बनेंगे और आरजेडी के मुख्य नेता बनेंगे. लेकिन इसके बावजूद मेरे साथ सौतेला व्यवहार किया गया. उन्होंने अपने पिता के सामने तेजस्वी यादव के साथियों की भी शिकायत करते हुए कहा कि हमारे संबंध बिगाड़ने के लिए वो लोग भी जिम्मेदार हैं. मैं आज भी अपने छोटे भाई से बहुत प्यार करता हूं और चाहता हूं कि तेजस्वी यादव बिहार के मुख्यमंत्री बनें.

    तेजस्वी यादव ने अपने बड़े भाई तेजप्रताप यादव को जनशक्ति यात्रा के लिए शुभकामना दी है.

    तेज प्रताप यादव अक्सर सार्वजनिक रूप से यह कहते हैं कि वो अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव को बिहार का मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं (फाइल फोटो)

    सूत्रों के मुताबिक आरजेडी अध्यक्ष ने तेज प्रताप की बातों को काफी ध्यान से सुना और इसके बाद जिसने उनके साथ गड़बड़ी की है, उनको एक-एक कर बुलाकर फटकार लगाई. इसके अलावा उन्होंने उन लोगों को फोन लगाकर खरी-खोटी सुनाई, जिन्होंने पोस्टर से तेज प्रताप को गायब किया था. लालू ने फौरन यह निर्देश दिया कि बगैर तेज प्रताप की तस्वीर वाले पोस्टरों को हटाया जाए. अपने सर्वोच्च नेता के आदेश पर आरजेडी नेताओं ने फौरन पुराने पोस्टरों को हटाकर नए पोस्टर लगाना शुरू कर दिया. इन पोस्टरों में तेजस्वी यादव के साथ तेज प्रताप यादव भी दिख रहे हैं.

    Tags: Bihar politics, Lalu Yadav, Tej Pratap Yadav, Tejashwi Yadav

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर