अपना शहर चुनें

States

लालू यादव से मिलकर पटना लौटे तेजप्रताप, पिता के स्वास्थ्य के बारे में कही ये बात

लालू यादव से मिलकर पटना लौटे तेजप्रताप यादव (File Photo)
लालू यादव से मिलकर पटना लौटे तेजप्रताप यादव (File Photo)

मुजफ्फरपुर में मिले नर कंकाल मामले पर बोलते हुए तेजप्रताप ने नीतीश सरकार पर निशाना साधा. तेजप्रताप ने कहा कि सरकार पूरी तरह से फेल है. सरकार को जवाब देना चाहिए.

  • Share this:
बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने शनिवार को रांची में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख और अपने पिता लालू प्रसाद यादव से मुलाकात की. लालू यादव से मुलाकात के बाद पटना पहुंचे तेज प्रताप ने मीडिया से बात करते हुए पिता के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दी. तेजप्रताप ने कहा कि लालू यादव की तबीयत ठीक नहीं है. उनकी बल्ड शुगर बढ़ी हुई है. जिसके चलते डॉक्टरों ने उन्हें सावधानी रखने की सलाह दी है.

आम खाने की वजह से बढ़ा शुगर लेवल
बता दें, आम के शौकीन लालू प्रसाद यादव को रिम्स के डॉक्टर ने इस शर्त पर आम खाने की इजाजत दी थी कि वो एक दिन में एक मालदा आम ही खाएंगे. लेकिन लालू यादव ने डॉक्टर की सलाह नहीं मानी. आम के शौकीन लालू यादव हर दिन 2 से 3 मालदा आम खा रहे थे. जिसके चलते लालू का ब्लड शुगर बढ़ गया है. ब्लड शुगर बढ़ने के बाद लालू का इलाज कर रहे डॉक्टर ने उनके आम खाने पर रोक लगा दी है.

नीतीश सरकार पूरी तरह से फेल
मुजफ्फरपुर में मिले नर कंकाल मामले पर बोलते हुए तेजप्रताप ने नीतीश सरकार पर निशाना साधा. तेजप्रताप ने कहा कि सरकार पूरी तरह से फेल है. सरकार को जवाब देना चाहिए. सरकारी अव्यवस्था के खिलाफ 23 जून को राजभवन तक होने वाली मार्च में शामिल होने के सवाल पर एक बार फिर तेजप्रताप बोलने से बचे. तेजप्रताप ने सिर्फ इतना ही कहा कि छात्र राजद मार्च में शामिल होगी.



बता दें, बिहार में चमकी बुखार से 160 से ज्यादा बच्चों की मौत हो चुकी है. अकेले मुजफ्फरपुर में 131 बच्चे अपनी जान गंवा चुके हैं. राज्य के 16 जिले इस बीमारी की चपेट में हैं. बच्चों की मौत को रोक पाने में असफल रहने वाली बिहार की नीतीश सरकार की हरतरफ आलोचना हो रही है.

ये भी पढ़ें..

महीने में 30 आम खाने की थी इजाजत, लालू ने 10 दिन में ही पूरा किया कोटा

उत्तराखंडः न्यूज 18 के पत्रकार को धमकाने के मामले में BJP विधायक निलंबित
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज