कोरोना पर हालात देख इमोशनल हुए तेजस्वी यादव, CM नीतीश से कहा- अप्रोच बदलिये वरना साफ दिख रहा है तबाही का मंजर

राजद नेता तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

राजद नेता तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

Bihar News: तेजस्वी यादव ने लिखा, नीतीश जी, Caseload कम दिखाने के चक्कर में आप बिहार का नुक़सान कर रहे हैं. वाइरस का चेन बढ़ता जा रहा है. कम आंकड़े दिखाने की वजह से केंद्र से जरूरी सहायता भी नहीं मिल रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2021, 9:23 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में कोरोना के 85 हजार से अधिक संक्रमित सामने आ चुके हैं. रिकवरी रेट 77 के नीचे पहुंच चुका है और इसमें भी लगातार गिरावट जारी है. इसके साथ ही मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है. वहीं, अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत और कुव्यवस्थाओं की खबरें भी लगातार सामने आ रही हैं. ऐसे में बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव सीएम नीतीश कुमार को कोरोना के हालात बिगड़ने के लिए जिम्मेदार ठहरा रहे हैं. उन्होंने मंगलवार को लोगों की मदद नहीं कर पाने को लेकर अपनी बेबसी का इजहार किया था तो बुधवार को एक बार फिर एक के बाद एक कई ट्वीट किए और सीएम नीतीश की कार्यशैली पर सवाल उठाया.

तेजस्वी यादव ने अपने ट्वीट में लिखा, आदरणीय नीतीश जी, आपसे विनम्र निवेदन है कि पिछले साल वाली गलती दोबारा मत करिए. आंकड़ो में हेराफेरी कर छवि बचाने से ज़्यादा जरूरी लोगों का स्वास्थ्य है. आप जांच घटा रहे है लेकिन Positivity rate बढ़ गया है. जांच कम होने से संक्रमण की वास्तविकता नहीं मालूम होगी, उसका फैलाव बढ़ता जाएगा.

उन्होंने आंकड़ों को प्रस्तुत कर आगे लिखा, एक साल बाद भी बिहार की कुल कोरोना जांच में Anti-gen tests की संख्या 65-70% है जबकि RT-PCR सबसे कम मात्र 30-35% ही है. RT-PCR जांच की रिपोर्ट आने में 14-15 लग रहे हैं. Asymptomatic मरीज़ों की जांच ही नहीं हो रही है. ऑक्सिजन, वेंटिलेटर की छोड़िए बिहार अभी जांच के स्तर पर ही जूझ रहा है.

Youtube Video

तेजस्वी ने आगे लिखा, नीतीश जी, Caseload कम दिखाने के चक्कर में आप बिहार का नुक़सान कर रहे हैं. वाइरस का चेन बढ़ता जा रहा है. कम आंकड़े दिखाने की वजह से केंद्र से ऑक्सीजन, वैक्सीन, इंजेक्शन Remdesivir, O2 Concentrators, वेंटिलेटर इत्यादि अन्य जरूरी सहायता भी नहीं मिल रही है और आप कुछ बोल भी नहीं रहे.

राजद नेता ने लिखा,  मुझे ये समझ नहीं आता कि नीतीश जी की तथाकथित हाई लेवल क्राइसिस ग्रूप की मीटिंग में कोरोना बचाव पर चर्चा होती है या छवि बचाव पर. अभी तक एक भी ऐसा ठोस कदम या निर्णय नहीं लिया गया है जिससे कोरोना संक्रमण को कम किया जाए, मरीज़ों का उचित इलाज हो सके, अस्पतालों का क्षमतावर्धन हो सके.

तेजस्वी यादव का ट्वीट




नेता प्रतिपक्ष ने आगे लिखा,  संक्रमण गांव-गांव फैल चुका है. अब भी अपना अप्रोच बदलिये वरना तबाही का मंजर साफ दिख रहा है. केंद्र से बिहार का वाजिब हक मांगिये. हमसे छोटे राज्यों का आवंटन ज़्यादा हो रहा है. अन्य राज्यों का अनुसरण कर देश-विदेश की कंपनियों से सम्पर्क कर medical supplies, वैक्सीन इत्यादि सीधा खरीदिये.

बता दें कि मंगलवार को तेजस्वी यादव ने खुद को असहाय बताते हुए लोगों की मदद नहीं कर पाने पर क्षोभ व्यक्त किया था. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, इतना असहाय, असमर्थ कभी अनुभव नहीं किया. एक इंसान होने के नाते चाहकर भी मदद की गुहार लगा रहे लोगों और जरूरतमंदों की मदद नहीं कर पा रहा हूं. उन्होंने स्थिति को बयां करते हुए लिखा, अस्पतालों में फोन लगवाओ तो जवाब आता है, कुछ नहीं कर सकते सर! बेड नहीं है। इंजेक्शन नहीं है, ऑक्सीजन नहीं है। कैसे मदद करें?

तेजस्वी यादव का ट्वीट


आरजेडी नेता ने कहा कि बिहार के 39 जिलों में से 10 जिलों में 5 से अधिक वेंटिलेटर तक नहीं है. कितनी शर्मनाक बात है कि बिहार के जिला मुख्यालयों में वेंटिलेटर ऑपरेटर तक नहीं हैं. उन्होंने कहा, अधिकारियों को फोन लगवाओ तो फोन बजते रह जाता है. कोई उठाता नहीं है. अधिकारी या तो मुख्यमंत्री की भी सुन नहीं रहे या मुख्यमंत्री को व्यवस्था दुरुस्त करने में कोई रुचि ही नहीं. कोई ऐसी समर्पित हेल्पलाइन नहीं है जहां लोग फोन कर बेड, ऑक्सीजन या दवाओं की उपलब्धता की जानकारी ले पाएं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज