• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • तेजस्वी का बड़ा आरोप- CM नीतीश ने विधायकों को पिटवाया, सदन में देना होगा जवाब

तेजस्वी का बड़ा आरोप- CM नीतीश ने विधायकों को पिटवाया, सदन में देना होगा जवाब

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर फिर निशाना साधा.

तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर फिर निशाना साधा.

Bihar News: तेजस्वी यादव ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने 15 दिन पहले कहा कि बिहार में कानून का राज नहीं पुलिस का राज है. हाई कोर्ट ने तो कहा बिहार में माइंडलेस गवर्मेंट है. नेता विरोधी दल के नाते हम चाहते थे कि प्रस्ताव रखते, उसपर चर्चा होती मगर वो नहीं हुआ.

  • Share this:
    पटना. बिहार विधान मंडल का मानसून सत्र (Monsoon session of Bihar Legislature) सोमवार से शुरू हो गया जो 30 जुलाई तक चलेगा. महज पांच दिन के इस सत्र के शुरू होने के साथ ही यह पता लग गया कि अल्प अवधि का सत्र भी काफी हंगामेदार रहने वाला है. दरअसल सोमवार को शोक प्रस्ताव के बाद विपक्ष के हंगामे के बाद दोनों सदनों को मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया. इसके बाद नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) ने विधानसभा परिसर में मीडिया के साथ बातचीत में कहा कि 23 मार्च काला दिन था, आज उसका विरोध हम लोग काला मास्क लगाकर कर रहे हैं.  हम लोग जनता से जुड़े मुद्दों को उठाते रहे हैं और आगे भी उठाते रहेंगे. लोकतंत्र के मंदिर में विधायकों को पुलिस द्वारा पिटवाया गया, जो गलत था. विधायकों का मान सम्मान नहीं रहेगा, विधायकों को अपनी बात रखने का मौका नहीं दिया जाएगा, तो क्या मतलब रह जाएगा?

    तेजस्वी यादव  ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने 15 दिन पहले कहा कि बिहार में कानून का राज नहीं पुलिस का राज है. हाई कोर्ट ने तो कहा बिहार में माइंडलेस गवर्मेंट है. नेता विरोधी दल के नाते हम चाहते थे कि प्रस्ताव रखते, उसपर चर्चा होती मगर वो नहीं हुआ. विपक्ष की अहम भूमिका होती है. विधानसभा अध्यक्ष से हमने दो प्रस्ताव पर बोलने की अनुमति की मांग की है. उन्होंने मौखिक रूप से कहा है मौका दिया जाएगा. हम उनसे मिले हैं. नेता प्रतिपक्ष को अपनी बात रखने के लिये मांग रखना पर रही है.

    तेजस्वी यादव ने कहा कि 23 मार्च को बिहार विधानसभा के बजट सत्र के दौरान विपक्ष के विधायकों को पुलिस से पिटवाया गया. यह विधानसभा के इतिहास में काला दिवस रहा. इस मामले में कार्रवाई के नाम पर आईवाश किया गया है. महागठबंधन के विधायक इसका विरोध काला मास्क लगाकर कर रहे हैं. विधायकों को लाखों लोग चुनकर भेजते हैं. विपक्ष का धर्म होता है विरोध करना। विपक्ष विरोध करेगा तो पुलिस से पिटाइएगा.

    तेजस्वी ने आरोप लगाया कि विधानसभा में विधायकों को मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के इशारे पर ही पीटा गया था. इस मामले में केवल दो सिपाहियों को निलंबित कर केवल औपचारिकता की गई है. तेजस्‍वी ने म‍हंगाई , बेरोजगारी और जातिगत जनगणना आदि के अन्‍य मुद्दों को लेकर कहा कि नीतीश सरकार को सदन में सभी बातों के जवाब देने होंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज