होम /न्यूज /बिहार /तेजप्रताप यादव के 'खास' सृजन स्वराज तेजस्वी के पाले में, लालू के लालों के बीच जारी है जंग

तेजप्रताप यादव के 'खास' सृजन स्वराज तेजस्वी के पाले में, लालू के लालों के बीच जारी है जंग

तेजस्वी यादव ने एक बार फिर से तेजप्रताप के खास माने जाने वाले एक चेहरे को अपने पाले में लिया है (फाइल फोटो)

तेजस्वी यादव ने एक बार फिर से तेजप्रताप के खास माने जाने वाले एक चेहरे को अपने पाले में लिया है (फाइल फोटो)

Bihar Politics: बिहार की राजनीति में तेजस्वी यादव ने तेजप्रताप यादव को कमजोर करने के लिए उनकी हर एक गतिविधियों पर नजर र ...अधिक पढ़ें

पटना. बिहार में लालू प्रसाद यादव (Lalu Family) के परिवार में सह और मात का खेल चरम पर है. कभी तेजप्रताप (Tejpratap Yadav) तेजस्वी यादव को झटका दे रहे हैं तो कभी तेजस्वी तेजप्रताप को. इन दोनों के बीच जारी शीत युद्ध अब अपने आख़री परवान ओर चढ़ चुका है. हाल ही में तेजप्रताप ने RJD के तरफ से जारी की गई स्टार प्रचारकों की सूची में राबड़ी और मीसा (Misa Bharti) का नाम नही होने को लेकर तेजस्वी पर करारा हमला बोला था. इधर तेजस्वी ने तेजप्रताप के इस आरोप पर कुछ बोलने के बजाए कभी तेजप्रताप के बेहद करीब रहे सृजन स्वराज को अपने पाले में कर लिया है.

तेजस्वी ने सृजन स्वराज को RJD के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के मार्फ़त युवा RJD का प्रदेश उपाध्यक्ष मनोनीत करवा दिया है. जगदनंद सिंह ने सृजन स्वराज का स्वागत युवा RJD में उनके मनोनयन पत्र देकर और माला पहनाकर किया.

2019 में सृजन स्वराज बने थे छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष 
सृजन स्वराज वैसे तो 2015 से ही तेजप्रताप यादव के कदम से कदम मिलाकर सियासत करते नजर आ रहे थे मगर तेजप्रताप यादव का आशीर्वाद सृजन को 2019 में तब मिला जब पटना स्थित तेजप्रताप यादव के सरकारी आवास पर आयोजित छात्र राजद की बैठक के बाद हुए चुनाव में सृजन स्वराज ने अपने प्रतिद्वंद्वी को 52 वोट से मात देकर छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी पर अपना कब्ज़ा जमाया था. तब तेजप्रताप ने सृजन को माला पहनाकर उनका ना सिर्फ अभिवादन किया था बल्कि उनका मुंह भी मीठा करवााया था.

जगदानंद सिंह के साथ राजद नेता सृजन स्वराज

लंबे समय तक छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष का बेहतर तरीके से बागडोर संभालने के बाद एक दिन अचानक तेजप्रताप ने छात्र राजद की वर्तमान इकाई को भंग कर दिया और इसके बाद जब तेजप्रताप ने पुनः छात्र राजद के पुर्नगठन किया तब छात्र राजद की कुर्सी तेजप्रताप ने सृजन से छीन ली, मगर वजह नहीं बताई, तब से लेकर अब तक सृजन बिना किसी पद के राजद की सेवा करते रहे थे.

जानकारों का मानना है कि अब जब तेजस्वी और तेजप्रताप यादव के बीच तलवार तनी हुई है तब तेजस्वी ने तेजप्रताप को कमजोर करने और उनके हर एक गतिविधियों पर नजर रखने के साथ साथ उनके हर एक राज को जानने के लिये सृजन स्वराज को अपने पाले में करते हुए उन्हें युवा राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष बना डाला है. बहरहाल सृजन तेजस्वी के लिये कितनी मजबूत साबित होते है यह तो आने वाला वक़्त ही बतायेगा.

Tags: Bihar News, Bihar politics, Tej Pratap Yadav

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें