• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • जातीय जनगणना पर साथ आए तेजस्वी-नीतीश, मुख्यमंत्री पीएम मोदी से मुलाकात का मांगेंगे समय

जातीय जनगणना पर साथ आए तेजस्वी-नीतीश, मुख्यमंत्री पीएम मोदी से मुलाकात का मांगेंगे समय

जातीय जनगणना करवाने पर सीएम नीतीश व तेजस्वी यादव में सहमति.

जातीय जनगणना करवाने पर सीएम नीतीश व तेजस्वी यादव में सहमति.

Bihar News: विधान सभा मे हुई तेजस्वी और नीतीश कुमार की मुलाकात के दौरान राजद नेता ने सीएम से कहा कि प्रधानमंत्री मोदी से बात करके उनसे समय लीजिए. विधानसभा के सभी दलों के नेताओं का डेलिगेशन उनसे मिल कर अपनी मांग रखेगा.

  • Share this:

पटना. जाति जनगणना के मसले पर बिहार में एक नई सियासत दिखाई पड़ने लगी है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने शुक्रवार को  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kuma) से मुलाकात की. विधानसभा स्थित CM कक्ष में मुख्यमंत्री नीतीश  और  महागठबंधन के सभी दलीय नेताओं के साथ मीटिंग हुई. तेजस्वी ने मांग की कि बिहार की ओर से केंद्र सरकार पर यह दबाव डाला जाए कि सरकार जातीय जनगणना (Caste Census) कराए. तेजस्वी यादव ने कहा कि CM नीतीश ने आश्वासन दिया है कि जब वे दिल्ली से लौटेंगे उसके बाद 2 अगस्त को प्रधानमंत्री से मिलने के लिए समय मांगेंगे और पत्र भी लिखेंगे.

तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद कहा जाति जनगणना को लेकर बिहार विधानसभा ने सर्वसम्मति से सब दलों ने इस पर प्रस्ताव पारित किया. प्रस्ताव केंद्र को भेजा भेजा, लेकिन इस पर काम नहीं हुआ. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद तेजस्वी ने कहा कि मुख्यमंत्री भी इसके पक्ष में होने की बात करते रहते हैं, लेकिन डबल इंजन की सरकार है तो इस पर काम करेगा कौन?

राजद नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी से बात करके उनसे समय लीजिए और विधानसभा के सभी दलों के नेताओं का डेलिगेशन उनसे जाकर मिल कर अपनी मांग रखेगा. अभी  सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात हुई तो उन्होंने इस पर अपनी सहमति देते हुए आश्वासन दिया कि 2 अगस्त को वह पत्र लिखकर के पीएम मोदी से मिलने का वक्त मांगेंगे.

मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद तेजस्वी यादव ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार को उन्होंने दूसरा प्रस्ताव भी दिया जिसमें कर्नाटक के आधार पर राज्य सरकार के स्तर पर जाति जनगणना की बात करने का सुझाव है. जिस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें इस मामले की जानकारी नहीं है. उन्होंने इस संबंध में दस्तावेज मंगाए हैं. देखने के बाद वह फैसला लेंगे. नेता प्रतिपक्ष ने आगे कहा कि जाति जनगणना होने के बाद सरकार उनके विकास के लिए योजनाएं बनाएगी. देश के हर नागरिक को यह जानने का अधिकार है कि किस जाति की क्या स्थिति है.

तेजस्वी यादव और नीतीश कुमार की मुलाकात से यह तय हो गया कि जातीय जनगणना का मामला अब ठंडे बस्ते में नहीं पड़ने वाला बल्कि इसको लेकर अब एक बड़ी सियासत की तैयारी शुरू हो चुकी है. तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद कहा कि मुख्यमंत्री भी मेरी बातों से सहमत हैं और वह भी चाहते हैं की जातीय जनगणना होनी चाहिए. बहरहाल सीएम नीतीश और तेजस्वी के साथ-साथ आने को लेकर एक बार फिर सियासी मायने निकाले जाने लगे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज