होम /न्यूज /बिहार /Fodder Scam: पिता लालू यादव की सज़ा पर तेजस्वी यादव बोले- BJP प्रकोष्ठ की तरह काम करती है CBI

Fodder Scam: पिता लालू यादव की सज़ा पर तेजस्वी यादव बोले- BJP प्रकोष्ठ की तरह काम करती है CBI

आरजेडी प्रमुख लालू यादव को चारा घोटाला के पांचवे मामले में सजा सुनाए जाने के बाद प्रतिक्रिया देते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि सीबीआई बीजेपी की एक प्रकोष्ठ की तरह है (फोटो साभार: ANI)

आरजेडी प्रमुख लालू यादव को चारा घोटाला के पांचवे मामले में सजा सुनाए जाने के बाद प्रतिक्रिया देते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि सीबीआई बीजेपी की एक प्रकोष्ठ की तरह है (फोटो साभार: ANI)

Bihar News: तेजस्वी यादव ने आरजेडी प्रमुख लालू यादव को चारा घोटाले के पांचवे मामले में सजा सुनाए जाने पर सीबीआई पर सवाल ...अधिक पढ़ें

पटना. बहुचर्चित चारा घोटाला (Fodder Scam) के सबसे बड़े मामले डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी मामले में रांची की सीबीआई की विशेष कोर्ट (CBI Special Court) ने दोषी करार दिए गए आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव (Lalu Yadav) को पांच साल की सजा और 60 लाख रुपये का अर्थ दंड (जुर्माना) सुनाया है. कोर्ट के फैसले के बाद जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने आरजेडी (RJD) पर तंज कसा है. वहीं, बिहार विधानसभा में नेता विपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने बीजेपी और सीबीआई पर सवाल खड़ा किया है. तेजस्वी ने कहा कि यह कोई अंतिम न्यायालय का फैसला नहीं है, बल्कि निचली अदालत का है जिसका हम सभी सम्मान करते हैं. इस फैसले को उपरी अदालत में चैलेंज किया जाएगा और मुझे विश्वास है कि लालू जी के पक्ष में यह फैसला पलट जाएगा.

तेजस्वी यादव ने सीबीआई पर सवाल खड़ा करते हुए कहा इन दिनों सीबीआई और अन्य एजेंसियां स्वतंत्र नहीं बल्कि बीजेपी के प्रकोष्ठ की तरह काम करने लगी हैं. इनका राजनीतिक दुरुपयोग खुलकर किया जा रहा है. मुझ पर भी लुकआउट नोटिस जारी किया गया था जिसके कारण मुझे अपने हनीमून के लिए बाहर (विदेश) जाने में दिक्कत हुई थी. नेता विपक्ष ने कहा कि लालू यादव को सजा सिर्फ इसलिए मिली है क्योंकि वो बीजेपी के खिलाफ हैं. अगर लालू यादव ने बीजेपी से हाथ मिला लिया होता, तो बीजेपी आज लालू यादव को राजा हरिशचंद्र मानती.

News18 Hindi

‘आजादी के बाद ऐसा पहला मामला’
तेजस्वी यादव ने कोर्ट के इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि आजादी के बाद पहला ऐसा मौका आया है जब किसी मामले में इस तरह अलग-अलग सजा सुनाई गई है. चारा घोटाले के नाम पर क्या यह इकलौता ट्रेजरी घोटाला है जबकि इसे अलग-अलग सजा दी गई है. जब चारा घोटाला में सजा सुनाई गयी है तो फिर सृजन घोटाला मामले में कार्रवाई क्यों नहीं, दोनों मामले एक तरह के ही हैं. चारा घोटाले मामले में तो लालू यादव ने खुद जांच के अनुशंसा की थी. आज सीबीआई बिहार के घोटालों पर चुप्पी क्यों साधे हुए है.

‘लालू यादव को सक्रिय होने के कारण मिली सज़ा’
नेता विपक्ष ने कहा कि लालू यादव जमानत से छूटने के बाद बिहार की राजनीति में थोड़ा सक्रिय हुए तो लोगों को डर हो गया. बिहार विधानसभा के उपचुनाव में मंच पर लालू दिखे थे. साथ ही आरेजडी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने के लिए लालू यादव दिल्ली से पटना पहुंचे थे. तेजस्वी ने कहा कि लालू यादव के सक्रिय होते ही बीजेपी ने सीबीआई को सक्रिय कर दिया और मामले को गलत तरीके से पेश किया गया.

‘सजा के बाद आरजेडी और मजबूत होगी’ 
लालू को सजा के एलान के बाद तेजस्वी ने कहा कि लोगो को लगता था कि लालू के जेल जाने से पार्टी कमजोर हो जाएगी पर पार्टी और मजबूत हुई है।लालू प्रसाद को जेल हुई है वैसे समय मे तमाम कार्यकर्ता आज पार्टी के साथ मजबूती से खड़े है।लालू के जेल जाने पर तमाम कार्यकर्ता आरजेड़ी के साथ खड़े होकर बीजेपी से बदला लेना चाहते है।तेजस्वी ने लालू की सजा को यूपी से जोड़ते हुए कहा कि यूपी के लोग इसके बाद बीजेपी के खिलाफ मतदान करेंगे।

Tags: Bihar News in hindi, CBI, Lalu Prasad Yadav, Lalu Yadav News, Tejashwi Yadav

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें