• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • तेजस्वी का तीखा तंज- नीतीश कुमार कोई नेता नहीं, अब वो बन गए हैं अधिकारी! मुझे CM बनने की जल्दी नहीं

तेजस्वी का तीखा तंज- नीतीश कुमार कोई नेता नहीं, अब वो बन गए हैं अधिकारी! मुझे CM बनने की जल्दी नहीं

पटना में राजद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए तेजस्वी यादव

पटना में राजद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए तेजस्वी यादव

Bihar Politics: नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि उन्हें बिहार की चिंता है इसलिए मुद्दों को उठाते हैं. मुझे सीएम बनने की कोई जल्दी नहीं है और न ही कोई लालच है. मुख्यमंत्री बनाने का जनता का जब मन होगा बना ही देगी.

  • Share this:

पटना. शाहाबाद क्षेत्र (Shahabad area) के कद्दावर नेता और सीएम नीतीश कुमार के करीबी कहे जाने वाले पूर्व एमएलसी कृष्ण कुमार सिंह (Former MLC Krishna Kumar Singh) ने जेडीयू छोड़ राजद (JDU-RJD) का दामन थाम लिया है. पटना के राजद पार्टी कार्यालय में मिलन समारोह का आयोजन किया गया था. इस मिलन कार्यक्रम में पूर्व विधान पार्षद कृष्ण कुमार सिंह अपने समर्थकों के साथ जनता दल यू से त्याग पत्र दे कर राजद में शामिल हो गए. इस अवसर पर उन्‍होंने कहा कि शाहाबाद क्षेत्र में राजद अब और भी मजबूत होगा. इस अवसर पर तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) ने कहा कि राजद पर जाति धर्म विशेष के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाते हैं लोग जो गलत है. राजद की कोशिश है सभी लोगों को साथ लेकर चलने की.

मिलन समारोह के दौरान मंगलवार को तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार और केंद्र सरकार पर महगाई, बेरोजगारी, किसान और छात्र के सवाल पर निशाना साधा. तेजस्वी यादव ने कहा नितीश कुमार खुश हो रहे है सबसे लंबे समय के मुख्य मंत्री बनने का, मगर नीतीश कुमार पर ही जनता के हित में काम नहीं करने का आरोप है.

तेजस्वी ने कहा कि मुख्यमंत्री का जनता दरबार को सिर्फ दिखावा करार देते हुए कहा कि गरीबों को जनता दरबार मे जाने को नहीं मिलता है. राजद नेता ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि सीएम नीतीश कुमार जनता दरबार नहीं लगाते बल्कि दिखावा करते हैं. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार कोई नेता नहीं है अब तो वो एक अधिकारी बन गए हैं यह बात तय है.

ये भी पढ़ें- Explained: पूर्व MLC कृष्ण कुमार सिंह को राजद में लेकर तेजस्वी ने नीतीश को कितना बड़ा झटका दिया?

जनता दरबार में जाने के लिए लंबी प्रक्रिया पर कटाक्ष करते हुए कहा कि लालू जी के समय में किसी को समस्या लेकर आने के लिए खुला दरबार था. कोई भी व्यक्ति अपनी समस्या लेकर कभी भी आ सकता था लेकिन आज पीड़ित को सीएम से मिलने के लिए लंबी प्रक्रिया से गुजरनी पड़ती है. नीतीश कुमार अकेले सत्ता में कभी नहीं आये हैं. लालू प्रसाद अपने दम पर मुख्यमंत्री बनते थे. नीतीश कुमार हमेशा पलटी मार कर दूसरों के सहारे से मुख्यमंत्री बने हैं.

तेजस्वी ने कहा की जनता को शिक्षा स्वास्थ्य और रोजगार चाहिए. राज्य में यूरिया की कमी है. यूरिया बेचने वाली जगहों पर पुलिस की तैनाती करनी पड़ रही है.  राज्य में अपराध लूट की घटनाएं बढ़ चुकी हैं. बिना पैसा दिए कोई काम नहीं हो रहा है. बिहार में आपदा पीड़ितों को मदद करने के लिए सरकार के पास पैसा नहीं है, लेकिन केंद्र सरकार और राज्य सरकार विज्ञापन के माध्यम से अपना चेहरा चमका रहे हैं. विज्ञापन पर 7 साल में केंद्र सरकार ने 5749 करोड़ खर्च किये हैं. 100 करोड़ बिहार सरकार विज्ञापन पर हर साल खर्च कर रही है.

ये भी पढ़ें बिहार में आज से सड़क दुर्घटना में मौत पर परिजनों को मिलेंगे 5 लाख रुपए, जानें नए नियम

तेजस्वी ने कहा कि बिहार में शराबबंदी है. 200 की बोतल 1000 में मिलती है. बिहार में शराबबंदी से और अपराध बढ़ गए हैं. बिहार में बेरोजगारी का केंद्र बना हुआ है. हायर डिग्री पास छात्र आज चपरासी की नौकरी का आवेदन कर रहे हैं. भाजपा केंद्र में आने पर महंगाई खत्म की बात करती थी. भाजपा के केंद्र में आने से पेट्रोल डीजल के दाम ₹100 से ऊपर हो गए. बीजेपी को देश की जनता के दुख दर्द कोई मतलब नहीं है. बीजेपी के लोग डिवाइड एंड रूल पॉलिसी के तहत काम करते हैं.

राजद नेता ने कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं मिला. देश की सम्पत्ति बेचने वाले देशभक्त बन रहे हैं. बिहार में सरकारी नोकरियों के पद खाली हैं, मगर सरकार युवाओं की जॉइनिंग नहीं करवा रही है. बिहार में कोई भी परीक्षा कदाचार मुक्त नहीं हो रहा है. मुझे सीएम बनने की कोई जल्दी नहीं है और न ही कोई लालच है. जनता का जब बनाने का मन होगा वह मुख्यमंत्री बना देगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज