Assembly Banner 2021

जब डिप्टी सीएम के सामने शायराना हुए तेजस्वी- 'मुझमें हजार खामियां हैं, माफ कीजिये लेकिन...'

तेजस्वी यादव सरकार को घेरने की पूरी तैयारी करके आए थे.

तेजस्वी यादव सरकार को घेरने की पूरी तैयारी करके आए थे.

तेजस्वी सरकार पर हमलावर तो थे, सरकार की कमियों को एक-एक कर उजागार करते रहे. डिप्टी सीएम तारकेश्वर प्रसाद के शायरी का जवाब उन्होंने शायराना अंदाज में दिया. पहली बार विधानसभा के अंदर तेजस्वी यादव ने सरकार को आंकड़ों के हिसाब से नीतीश सरकार की खामियों को उजागर किया.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: February 26, 2021, 10:22 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा के बजट सत्र में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के निशाने पर अब तक पूरा एनडीए का कुनबा रहा है. तेजस्वी कल विधानसभा में शायराना अंदाज में नजर आए. तेजस्वी सरकार पर हमलावर तो थे, सरकार की कमियों को एक-एक कर उजागार करते रहे. डिप्टी सीएम तारकेश्वर प्रसाद के शायरी का जवाब उन्होंने शायराना अंदाज में दिया. उन्होंने कहा कि मुझमें हाज़र खामियां हैं माफ कीजिये, पर अपने आईने को भी साफ कीजिये. तेजस्वी के इस शायरी का जबाब तारकिशोर प्रसाद दे पाते कि उससे पहले ही तेजस्वी ने दूसरी शेर पढ़ डाला. उन्होंने कहा कि मेरे लिए फकत आसमा है उड़ने के लिए, मेरे लिए ज़मीन है साफ करके चलने के लिए.

मुकेश साहनी को बता दिया रिचार्ज कूपन
तेजस्वी नीतीश कुमार और बीजेपी के नेताओं पर हमलावर तो थे ही, कल उन्होंने वीआईपी पार्टी के सुप्रीमो और बिहार सरकार के पशु एवं मत्स्य मंत्री मुकेश साहनी के लिए भी बड़ी बात कह दी. तेजस्वी यादव बीजेपी और जेडीयू में हुए मंत्रालयों की बंटवारे की चर्चा कर रहे थे. इसमें उन्होंने कहा कि जेडीयू के पास जो मंत्रालय हैं, उन सभी को जोड़ दिया जाए तो जो बजट की राशि है, बीजेपी के सभी मंत्रालयों से ज्यादा है. इसी बीच वीआईपी प्रमुख मुकेश साहनी ने तेजस्वी को रोकना चाहा. इस पर तेजस्वी ने मुकेश साहनी को यह कह कर बैठ जाने की बात कही कि आप तो कुछ नहीं बोलिए, यही अच्छा है क्योंकि आप खुद रिचार्ज कूपन हैं.

आकड़ों से सरकार को घेरा
तेजस्वी यादव आज सरकार को घेरने की पूरी तैयारी करके आए थे. पहली बार विधानसभा के अंदर तेजस्वी यादव ने सरकार को आंकड़ों के हिसाब से नीतीश सरकार की खामियों को उजागर किया. तेजस्वी ने आंकड़ों के जरिये कहा कि सरकार में पारदर्शिता नाम की कोई चीज नहीं है. नीतीश कुमार बिजली को लेकर बड़ी-बड़ी बातें किया करते हैं लेकिन यह नहीं बताते कि बिहार में बिजली कंज्यूम करने की कितनी क्षमता है. तेजस्वी ने कहा कि शराब बंदी पर हमने आप का साथ दिया था लेकिन क्या हुआ शराबबंदी करने के बाद पैरलर मार्केट बन गया है. 200 रुपए की शराब 1500 का बिक रहा है. पहले दुकान जा कर लेना पड़ता था, अब शराब घर पहुंच जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज