Assembly Banner 2021

तेजस्वी यादव बोले- अगर मंत्री को गिरफ्तार नहीं करवा सकते तो CM हाउस में शराब का ठेका खोल लें नीतीश कुमार

तेजस्वी यादव ने एक बार फिर नीतीश कुमार से इस्तीफा मांगा.

तेजस्वी यादव ने एक बार फिर नीतीश कुमार से इस्तीफा मांगा.

Patna News: तेजस्वी यादव ने कहा कि एक सप्ताह में कार्रवाई का समय तय किया गया है. एक सप्ताह में स्कूल में अगर थाना नहीं खुला तो फिर आरजेडी सीएम आवास का घेराव करेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 17, 2021, 10:27 AM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने शराब प्रकरण में बिहार सरकार के मंत्री के भाई का कथित रूप से नाम आने के बाद सरकार (Nitish Government) पर अपना हमला तेज कर दिया है. बुधवार की सुबह पत्रकारों से बात करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार की नीतीश सरकार 1 अप्रैल तक मंत्री रामसूरत राय (Minister RamSurat Rai) के भाई को गिरफ्तार करे. अगर 1 अप्रैल तक सरकार उनको गिरफ्तार नहीं कर पाती है तो फिर सीएम आवास में शराब का ठेका खोल दें. साथ ही अपने सभी मंत्रियों को भी शराब का ठेका दे दें.

दरअसल, बिहार में 1 अप्रैल को शराबबंदी के 5 साल पूरे हो रहे हैं. इसको लेकर तेजस्वी ने नीतीश कुमार की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सीएम आवास पर शराब का ठेका खोलने से इसका अवैध व्यापार नहीं होगा. उन्होंने कहा कि विधानसभा में एक मंत्री मुझे गांधी मैदान में देख लेने की बात करते हैं तो दूसरे मंत्री मुक्का दिखाते हैं. वहीं, डिप्टी सीएम मेज थपथपाते रहते हैं. तेजस्वी ने कहा कि सीएम की मौजूदगी में यह शर्मनाक घटना हुई है, क्योंकि मेरे पास विधानसभा में ही बात रखने का प्लेटफार्म है.

तेजस्‍वी ने कहा कि मंत्री मानहानि करने का दावा करते हैं, लेकिन मानहानि का मुकदमा करने में वह लोग इतनी देर क्यों करते हैं? तेजस्वी यादव ने पिछले दिनों सदन में हुए हंगामे पर सवाल उठाते हुए कहा कि मंगलवार को सदन में जो कुछ हुआ वह शोभनीय नहीं हुआ. सीएम नीतीश कुमार की मौजूदगी में यह सब चलता रहा, लेकिन वह चुपचाप बैठे रहे और तमाशा देखते रहे.



मंत्री रामसूरत राय के भाई पर लगे आरोपों का जिक्र करते हुए तेजस्वी ने कहा, 'मैं बिना सबूत के कभी कोई बात नहीं करता और सबूतों के साथ ही हमेशा अपनी बात रखता हूं. पुलिस मंत्री और उनके भाई का सीडीआर निकाल दे, फिर सारी हकीकत सामने आ जाएगी.' तेजस्वी ने कहा कि रामसूरत राय खानदान की बात करते हैं, लेकिन जब उनके भाई को डीएम ने थप्पड़ मारा था तो रामसूरत राय का परिवार सीएम लालू प्रसाद यादव से मिलने आया था. उस समय डीएम का ट्रांसफर किया गया था, लेकिन आज रामसूरत राय खानदान की बात करते हैं. तेजस्वी ने कहा कि जब पुलिस डायरी में दोषी मान रही है तो फिर नीतीश कुमार कार्रवाई करने में देर क्यों कर रहे हैं?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज