लाइव टीवी

बर्थ डे स्पेशल: 'क्रिकेटर' से 'डिप्टी सीएम' तक, कुछ ऐसा है तेजस्वी यादव का करियर
Patna News in Hindi

Amrendra Kumar | News18Hindi
Updated: November 9, 2017, 2:29 PM IST
बर्थ डे स्पेशल: 'क्रिकेटर' से 'डिप्टी सीएम' तक, कुछ ऐसा है तेजस्वी यादव का करियर
फोटो- साभार तेजस्वी का फेसबुक पेज

तेजस्‍वी यादव ने कभी क्रिकेट को अपना करियर बनाया था और इसमें उन्हें उनके परिवार का भी सहयोग मिल था. तेजस्वी जब 20 साल के थे यानी 2009 में उन्होंने इसकी शुरुआत की. इसी साल तेजस्‍वी झारखंड के प्रथम श्रेणी क्रिकेट टीम में शामिल किये गये.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2017, 2:29 PM IST
  • Share this:
बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव गुरूवार को अपना जन्मदिन मना रहे हैं. जीवन के 28 साल पूरे कर चुके तेजस्वी आज बिहार की राजनीति के अहम किरदार बन चुके हैं और कम उम्र में ही मंझे हुए राजनेता की तरह राजनीति कर रहे हैं.

बतौर डिप्टी सीएम बिहार की सत्ता को डेढ़ साल संभालने वाले तेजस्वी फिलहाल बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के किरदार में हैं लेकिन वो सत्ता जाने के बाद भी लगातार अपने विपक्षियों पर दवाब बनाये हुए हैं. सदन से ले कर सड़क तक विरोधियों पर आग उगलने वाले तेजस्वी के जन्मदिन पर न्यूज 18 हिन्दी आपको बता रहा है उनके क्रिकेटर से राजनेता बनने तक के सफर के बारे में.

20 में क्रिकेटर 26 में डिप्टी सीएम

तेजस्‍वी यादव ने कभी क्रिकेट को अपना करियर बनाया था और इसमें उन्हें उनके परिवार का भी सहयोग मिल था. तब लालू भी बतौर प्रशासक क्रिकेट से जुड़े हुए थे. तेजस्वी जब 20 साल के थे यानी 2009 में उन्होंने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की. इसी साल तेजस्‍वी झारखंड के प्रथम श्रेणी क्रिकेट टीम में शामिल किये गये. वो हरफनमौला की हैसियत से खेलने लगे और उन्होंने क्रिकेटर की तरह अपना लुक भी बना लिया. तेजस्वी ने क्रिकेट खेलना तो शुरू किया लेकिन सही तौर पर प्रदर्शन नहीं कर सके. तेजस्‍वी ने रणजी के साथ-साथ आईपीएल का भी रूख किया. वो आईपीएल के कई सीजन्स में दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स टीम का हिस्सा रहे लेकिन उन्‍हें एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिल सका. तेजस्‍वी टीम में एक ऑलराउंडर थे जो बल्‍लेबाजी के साथ-साथ स्पिन गेंदबाजी भी करते थे.



लड़कियों के बीच है खास क्रेज

यूं तो लालू के दोनों बेटों में तेजस्वी छोटे हैं लेकिन मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक के लाइम लाइट में वो अपने बड़े भाई तेजप्रताप यादव से कहीं ज्यादा आगे हैं. तेजस्वी ने बिहार की कमान संभालने से पहले ही सोशल मीडिया पर अपनी सक्रियता दिखाई और इलेक्शन के टाइम वार रूम बनाया. वो अपने फेसबुक पेज से लेकर ट्विटर हैंडल तक पर खासे सक्रिय रहते हैं. तेजस्वी का क्रेज लड़कियों के बीच कितना है इसकी बानगी उस वक्त देखने को मिली थी जब वो डिप्टी सीएम के साथ-साथ बिहार के पथ निर्माण मंत्री भी थे. उनके विभाग के हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत और सुझावों से ज्यादा उन्हें शादी के प्रोपोजल मिलते थे. तब तेजस्वी को लगभग 40 हजार से ज्यादा लड़कियों ने शादी के लिये प्रपोज किया था, हालांकि शादी के मसले पर तेजस्वी ने अब तक यही कहा है कि ये फैसला परिवार का है जो समय आने पर परिवार के लोग ही लेंगे.

छोटे भाई तेजस्वी को केक खिलाते तेजप्रताप


क्रिकेट में 'फ्लॉप' लेकिन पॉलिटिक्स में 'हिट'

तेजस्वी का क्रिकेटर बनने का सपना इसलिये पूरा नहीं हो सका क्योंकि वो न तो गेंद और न ही बल्ले से मैदान पर जलवा बिखेर सके. अपने छोटे से क्रिकेटिंग करियर में तेजस्‍वी ने मात्र एक प्रथम श्रेणी मैच, दो 'ए' श्रेणी की क्रिकेट और 4 टी-20 मैच खेले. बल्‍लेबाजी में उनका उच्‍चतम स्‍कोर 19 रन रहा है. वहीं गेंदबाजी में उन्‍होंने 10 ओवर में महज एक विकेट लिये लेकिन अपने दो साल के पॉलिटिकल करियर में तेजस्वी अब तक हिट रहे हैं. यही कारण है कि विपक्षियों पर उनके निशाने सटीक बैठते हैं और युवा उन्हें यूथ आइकन के नाम से ही पुकारते हैं.

युवाओं से मिलते तेजस्वी


भविष्य का चेहरा

तेजस्‍वी यादव का राजनीति का सफर यूं तो सात साल पहले यानी 2010 में ही शुरू हुआ लेकिन अब वो अपनी पार्टी यानी राजद के लिये भविष्य का चेहरा बन गये हैं. हाल में ही उनकी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने भी कहा कि हम तेजस्वी की अगुआई में ही 2020 का विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. तेजस्वी ने खुद की पहचान बनाई 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में.  2010 में उनके पिता लालू यादव ने उन्‍हें अपने साथ-साथ रैलियों में शामिल करने लगे थे और लोगों को उनका परिचय दिया करते थे. लेकिन 2015 के चुनाव में तेजस्‍वी अपनी पार्टी के स्टार बन गये. अपनी पार्टी के गढ़ माने जाने वाले वैशाली जिले के राघोपुर से तेजस्वी पहली बार विधायक और फिर डिप्टी सीएम बने.

जन्मदिन मनाते तेजस्वी


बड़े भाई का मिलता है साथ

तेजस्वी भले ही उम्र में अपने बड़े भाई तेजप्रताप से छोटे हैं लेकिन प्राय: सभी लोग उन्हें ही बड़ा मानते हैं, कारण तेजस्वी की राजनीति में सक्रियता. घोटाले के आरोप लगने के बाद भी तेजस्वी को उनके बड़े भाई तेजप्रताप का लगातार साथ मिलता रहता है. दोनों भाई सदन में भी साथ ही दिखते हैं जबकि सोशल मीडिया पर भी दोनों की सक्रियता देखने को मिलती है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2017, 11:08 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,218

     
  • कुल केस

    5,865

     
  • ठीक हुए

    477

     
  • मृत्यु

    169

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (05:00 PM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,135,668

     
  • कुल केस

    1,577,445

    +59,485
  • ठीक हुए

    348,111

     
  • मृत्यु

    93,666

    +5,211
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर