लोकसभा चुनाव 2019: तेजस्वी के ट्वीट से गरमाई सियासत, सीट शेयरिंग की घोषणा पर भी लगा ग्रहण

तेजस्वी के ट्वीट पर उनकी ही पार्टी के सीनियर नेता और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा कि कांग्रेस को बड़ा दिल दिखाना चाहिए

News18 Bihar
Updated: March 17, 2019, 9:59 AM IST
लोकसभा चुनाव 2019: तेजस्वी के ट्वीट से गरमाई सियासत, सीट शेयरिंग की घोषणा पर भी लगा ग्रहण
फाइल फोटो
News18 Bihar
Updated: March 17, 2019, 9:59 AM IST
लोकसभा चुनाव को लेकर महागठबंधन में जारी विवाद अब खुलकर सामने आ गया है. इस कड़ी में राजद नेता तेजस्वी यादव के ट्वीट ने सियासी गलियारे में गर्मी बढ़ा दी है. शनिवार को तेजस्वी यादव ने जहां कांग्रेस पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया और पार्टी को इशारों ही इशारे में अहंकारी तक करार दे दिया वहीं इस ट्वीट के बाद रविवार को सीटों को लेकर होने वाले ऐलान पर भी असमंजस की स्थिति है.

ये भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव 2019: बाहुबली अनंत सिंह की पत्नी होंगी मुंगेर सीट से महागठबंधन की उम्मीदवार !

तेजस्वी यादव आज दिल्ली में हैं और वो महागठबन्धन में सीटों के बंटवारे को लेकर लगातार नेताओं के साथ कैंप किए हुए हैं. जानकारी के मुताबिक तेजस्वी सीट बंटवारे के मसले पर कांग्रेस आलाकमान के संपर्क में हैं ऐसे में महागठबन्धन के सीटों का ऐलान आज टल सकता है. पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज ही महागठबन्धन के सीटों की घोषणा होनी थी लेकिन तेजस्वी की नाराजगी की वजह से आज भी महागठबन्धन में सीटों को लेकर पेंच फंस गया है.



ये भी पढ़ें- तेजस्वी यादव बोले- सीटों के लिए अहंकार छोड़े सहयोगी दल

तेजस्वी के ट्वीट पर जब कांग्रेस के नेताओं से सवाल किया गया तो वो बैकफूट पर नजर आये. पार्टी के नेता सदानंद सिंह ने इस मामले में किसी जानकारी से इंकार किया और कहा कि सब कुछ तो तय था पता नहीं क्या दिक़्क़त हो गई. उन्होंने बताया कि अंतिम कड़ी में राहुल गांधी से बात होनी थी. दूसरी ओऱ तेजस्वी के ट्वीट पर उनकी ही पार्टी के सीनियर नेता और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा कि कांग्रेस को बड़ा दिल दिखाना चाहिए. कांग्रेस राष्ट्रीय पार्टी है और उसकी भूमिका बड़ी है. तिवारी ने कहा कि हमलोगों का गठबंधन मज़बूत है हालांकि तिवारी ने यह भी कहा कि हर पार्टी का इगो होता है.

मालूम हो कि बिहार में होने वाले लोकसभा चुनाव में राजद और कांग्रेस समेत हम, रालोसपा, लेफ्ट, और वीआईपी पार्टी महागठबंधन का हिस्सा हैं. इन सभी दलों के बीच अभी तक सीटों के बंटवारे को लेकर स्थिति साफ नहीं हो सकी है.

इनपुट- अमित कुमार/साकेत सिंह
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...