16 अगस्त को 'कमबैक' करेंगे तेजस्वी यादव! पार्टी की अहम बैठक में होंगे शामिल

लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद से ही तेजस्‍वी यादव (Tejaswi Yadav) की सक्रियता कम गई है. अब बताया जा रहा है कि वह आरजेडी (RJD) की अहम बैठक में शामिल होने वाले हैं.

News18 Bihar
Updated: August 13, 2019, 4:48 PM IST
16 अगस्त को 'कमबैक' करेंगे तेजस्वी यादव! पार्टी की अहम बैठक में होंगे शामिल
तेजस्वी यादव की फाइल फोटो
News18 Bihar
Updated: August 13, 2019, 4:48 PM IST
लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में मिली हार के बाद से ही बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) सक्रिय राजनीति से गायब हैं. लोगों के जेहन में ये सवाल बार-बार आ रहा है कि तेजस्वी आखिर कहांं हैं? हालांकि, इस सवाल का मुकम्‍मल जवाब नहीं मिल सका है. अब जानकारी मिल रही है कि लालू के छोटे बेटे 16 अगस्त को राजनीति में कमबैक करेंगे.

बैठक में शामिल होंगे तेजस्वी और राबड़ी

दरअसल, उसी दिन आरजेडी के विधानमंडल दल और जिलाध्यक्षों की बैठक बुलाई गई है. राबड़ी देवी के आवास 10 सर्कुलर रोड पर यह बैठक होगी और कहा जा रहा है कि इसका नेतृत्व राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव दोनों करेंगे. इस बैठक में आरजेडी के सभी 79 विधायकों के अलावा 2015 में विधानसभा का चुनाव लड़ने वाले सभी प्रत्याशी, सभी जिलाध्यक्ष और जिला प्रभारी मौजूद रहेंगे.

विधायकों को एकजुट दिखाने की कोशिश

वर्ष 2020 में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव, सदस्यता अभियान और पार्टी-संगठन के लिहाज से यह बैठक बेहद महत्वपूर्ण मानी जा रही है. सबसे बड़ी बात यह है कि इस बैठक के जरिये आरजेडी अपने सभी विधायकों की एकजुटता दिखाने की कोशिश करेगा.

आरजेडी विधायक के तल्‍ख बोल

तेजस्वी के नहीं रहने से पार्टी पर इसका असर पड़ रहा है, यह बात विधायक भाई वीरेंद्र मानने को तैयार नहीं हैं. वीरेंद्र ने कहा कि तेजस्वी के रहने और नहीं रहने से पार्टी पर कोई असर नहीं पड़ रहा है. पार्टी के नेता-कार्यकर्ता इस काम में लगे हुए हैं. उन्होंने कहा कि तेजस्वी अभी क़ानूनी मामलों में लगे हैं. 16 अगस्त को होने वाले बैठक पर भाई वीरेंद्र ने कहा कि ऐसी किसी बैठक की हमें जानकारी नहीं है और न ही पार्टी की तरफ़ से ऐसी कोई सूचना नहीं दी गई है.
Loading...

बीजेपी की चुटकी

तेजस्वी पर बीजेपी ने भी निशाना साधा है. बीजेपी नेता और विधायक नितिन नवीन ने कहा कि तेजस्वी में संघर्ष करने का माद्दा नहीं है. उन्होंने राजनीति के लिए अपरिपक्‍व व्यवाहार किया है. अगर कोई व्यक्तिगत कारण है तो उनको पद से हटकर किसी दूसरे को मौक़ा देना चाहिए.

ये भी पढ़ें- शर्मनाक: अस्पताल ने नहीं दी गाड़ी तो बच्चे के शव को बाइक से ले गए परिजन

ये भी पढ़ें- 'कश्मीर पर मुस्लिमों को भड़काने की कोशिश कर रहे चिदंबरम'
First published: August 13, 2019, 9:34 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...