लाइव टीवी

तेजस्वी यादव बोले- 2019 में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए अहंकार छोड़े पार्टियां
Patna News in Hindi

भाषा
Updated: June 24, 2018, 9:01 PM IST
तेजस्वी यादव बोले- 2019 में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए अहंकार छोड़े पार्टियां
तेजस्वी यादव

भाजपा के पास नरेंद्र मोदी के तौर पर प्रधानमंत्री पद का चेहरा होने का फायदा है, इस पर तेजस्वी यादव ने दावा किया कि राजग के सहयोगी दलों के बीच दरार है और इस बात का कोई भरोसा नहीं है कि गठबंधन बरकरार रहेगा या टूट जाएगा.

  • Share this:
राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता तेजस्वी यादव ने कहा है कि उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों में जहां कांग्रेस सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी नहीं है वहां उसे अन्य दलों को ड्राइविंग सीट पर रखना चाहिए. उन्होंने कहा कि 2019 में भाजपा का मिलकर मुकाबला करने के लिए पार्टियों को अहंकार से दूर रहने की जरूरत है.

राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद के छोटे बेटे और बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री उम्मीदवार का मुद्दा महत्वपूर्ण नहीं है. संविधान बचाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरत यह है कि सभी विपक्षी दल एक साथ आएं.

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने एक साक्षात्कार में कहा, 'मेरी नजर में प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के बारे में बात करना प्राथमिकता नहीं है क्योंकि देश खतरे का सामना कर रहा है. संविधान, लोकतंत्र और आरक्षण खतरे में है.'



तेजस्वी ने कहा कि सामाजिक न्याय और धर्म निरपेक्षता में विश्वास करने वाले विपक्ष के सभी राजनीतिक दलों को अपने अहंकार और मतभेदों को पीछे छोड़कर संविधान बचाने के लिए एक साथ आना चाहिए. विपक्षी गठबंधन की जरूरत पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते कांग्रेस पर दूसरे दलों को साथ लेकर चलने की बड़ी जिम्मेदारी है. तेजस्वी ने कहा कि बिहार में हमारी (राजद) सबसे बड़ी पार्टी है तो कांग्रेस को इसके अनुसार रणनीति बनानी चाहिए. इसके लिए उन्होंने उदाहरण के तौर पर उत्तर प्रदेश का जिक्र किया.



तेजस्वी ने कहा कि कांग्रेस को अपनी रणनीति में केवल अपने हित ही नहीं बल्कि अपने सहयोगियों के हितों को भी ध्यान में रखना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उन्हें पूरा सम्मान दिया जाए. उन्होंने कहा कि करीब 18 राज्यों में भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला है. यह पूछे जाने पर कि भाजपा के पास नरेंद्र मोदी के तौर पर प्रधानमंत्री पद का चेहरा होने का फायदा है, इस पर यादव ने दावा किया कि राजग के सहयोगी दलों के बीच दरार है और इस बात का कोई भरोसा नहीं है कि गठबंधन बरकरार रहेगा या टूट जाएगा.

राजद नेता ने कहा कि लोगों ने चार वर्षों से मोदी को देखा है, उन्होंने कुछ नहीं किया. लोगों को पूछना चाहिए कि वह देश के लिए क्या कर रहे हैं. उन्होंने सरकार की विदेश नीति पर भी निशाना साधा और कहा कि कोई ऐसा क्षेत्र नहीं है, जिसमें सरकार ने अच्छा प्रदर्शन किया हो. सीटों के बंटवारे के मुद्दे पर यादव ने कहा कि सीटों का बंटवारा अंदरूनी मुद्दा है और वह इस पर विचार करेंगे. उन्होंने कहा कि पार्टी 2019 के आम चुनावों के लिए एक साथ आने वाले विपक्षी दलों की राह में रोड़ा नहीं बनेगी.
First published: June 24, 2018, 4:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading