लाइव टीवी

तेजस्वी की रैली में महफिल लूट ले गए तेजप्रताप यादव, खुद को बताया लालू का असली उत्‍तराधिकारी
Patna News in Hindi

News18 Bihar
Updated: February 24, 2020, 10:05 AM IST
तेजस्वी की रैली में महफिल लूट ले गए तेजप्रताप यादव, खुद को बताया लालू का असली उत्‍तराधिकारी
राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेज प्रताप यादव ने खुद को लालू का असली उत्तराधिकारी बताया है. (फाइल फोटो)

पटना में हुई आरजेडी की रैली में तेजप्रताप (Tej Pratap Yadav) ने यह कहकर सबको चौंका दिया कि वह लालू के असली उत्तराधिकारी हैं.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: February 24, 2020, 10:05 AM IST
  • Share this:
पटना. राजद सुप्रीम लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की गैरहाजिरी में भले ही पार्टी की कमान तेजस्वी यादव (Tejashvi Yadav) के हाथों में है, पार्टी भले ही तेजस्वी को अपना भावी मुख्यमंत्री मान रही हो, लेकिन तेजप्रताप यादव का दावा है कि बिहार का असली लालू वही हैं. तेजप्रताप ने आरजेडी की पटना में हुई रैली में यह कहकर सबको हैरत में डाल दिया. खुद तेजस्वी भी एक पल के लिए सन्न रह गए थे, तभी तेजप्रताप ने छोटे भाई की ओर देखते हुए कहा कि अर्जुन आप घबराओ मत. आप भी असली लालू हैं. मैं कोई आपका मजाक नहीं उड़ा रहा, आपके लिए तो हम खून का एक-एक कतरा बहा देंगे.

तेजप्रताप आरजेडी की रैली में पूरे फार्म में दिखे. तेजप्रताप यादव ने सबसे पहले तो अपने विरोधियों को ललकारा. उन्‍होंने कहा, 'जो लोग हमारे अर्जुन और मुझे जेल भेजने की तैयारी कर रहे हैं, अगर वो माई के लाल हैं तो हम दोनों भाइयों को गिरफ्तार करके दिखाएं. हम तो डंके की चोट पर रथ पर चढ़ेंगे और खुद तेजस्वी के रथ का सारथी भी बनेंगे. इसके बाद तेजप्रताप ने बताया कि वो आखिर किन दो लोगों से डरते हैं. तेजप्रताप अपने पापा लालू यादव से बहुत डरते हैं और उनका बहुत सम्मान भी करते हैं. उसके बाद तेजप्रताप को अपने जगदानन्द अंकल के अनुशासन से बहुत डर लगता है.'

तेजप्रताप के समर्थकों पर क्यों भड़के जगदानन्द बाबू?
आरजेडी की कमान जब से जगदानन्द सिंह के हाथों में आई है, तब से वह पार्टी को अनुशासित करने में जुटे हैं. कुछ हद तक जगदानन्द सिंह ने पार्टी में अनुशासन लाया भी है, लेकिन आरजेडी की रैली में तेज़-तेजस्वी के समर्थकों ने पार्टी के अनुशासन की धज्जियां उड़ा दी. फिर जो जगदानन्द सिंह भड़के. उन्होंने पार्टी के समर्थकों को यहां तक कह दिया कि अगर आप इस तरह से अनुशासन तोड़ेंगे तो उन्हें मजबूरन सभा रोकनी पड़ेगी. जगदानन्द बाबू ने मंच के पास नारा लगा रहे आरजेडी समर्थकों को खूब खड़ी खोटी सुनाई. इतने पर तेजप्रताप यादव भी भड़क गए और अपने कुछ समर्थकों को मंच पर बुलाने के लिए जगदानन्द से अड़ गए. आखिरकार जगदानन्द सिंह को लालू के लाल के सामने झुकना ही पड़ा.



ये भी पढ़ें- विधानमंडल का बजट सत्र आज से, कल पेश होगा बिहार का बजट

ये भी पढ़ें- पटना: दुकान बंद करने के दौरान पहुंचे बाइक सवार लुटेरे फिर लूट ले गए कैश और चेन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 24, 2020, 8:55 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर