• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • तेजप्रताप के हाथ से अब 'लालटेन' भी छूटा? इस्तेमाल की इजाजत नहीं, पढ़ें पूरा मामला

तेजप्रताप के हाथ से अब 'लालटेन' भी छूटा? इस्तेमाल की इजाजत नहीं, पढ़ें पूरा मामला

तेजप्रताप यादव ने राजद की छात्र इकाई से इतर अपनी एक नई छात्र इकाई गठित की है.

तेजप्रताप यादव ने राजद की छात्र इकाई से इतर अपनी एक नई छात्र इकाई गठित की है.

Bihar Politics: तेजप्रताप यादव ने अपनी नई छात्र इकाई को पहचान दिलाने के लिये हाथ में लालटेन वाली तस्वीर लगाई थी. मगर जो जानकारी मिल रही है, उसके मुताबिक तेजप्रताप को आरजेडी का चुनाव चिन्ह लालटेन के इस्तेमाल की इजाजत नहीं दी गई है.

  • Share this:

पटना. आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव (Lalu Yadav) के बड़े लाल तेजप्रताप यादव (Tejpratap Yadav) हाल ही में छात्र राजद से दूरी बनाकर छात्र जनशक्ति परिषद नामक संगठन का गठन कर लिया है. तेजप्रताप ने अपने इस नई छात्र इकाई को पहचान दिलाने के लिये हाथ में लालटेन वाली तस्वीर लगाई थी. मगर अब जो बड़ी और अहम जानकारी मिल रही है, उसके मुताबिक तेजप्रताप को आरजेडी का चुनाव चिन्ह लालटेन के इस्तेमाल की इजाजत नहीं मिली. लिहाजा अब 2 अक्टूबर को छात्र जनशक्ति परिषद फैसला करेगा कि संगठन का लोगो क्या होगा. और आगे की रूपरेखा क्या होगी.

छात्र जन शक्ति परिषद के संगठन प्रभारी के रूप में डॉ सुमंत राव को जिम्मेदारी दी गई है. वहीं प्रदेश अध्यक्ष प्रशांत यादव को बनाया गया है. सूत्रों के मुताबिक संगठन की घोषणा और इसके प्रतीक चिन्ह के रूप में हाथ में लालटेन की तस्वीर को लेकर राजद ने सवाल खड़ा किया. जिसके बाद छात्र जनशक्ति परिषद ने हाथ में लालटेन वाली तस्वीर को हटा लिया है. इतना ही नहीं छात्र जनशक्ति परिषद राष्ट्रीय जनता दल यानी आरजेडी के नाम का भी इस्तेमाल नहीं करेगी. इस बात की पुष्टि खुद छात्र जनशक्ति परिषद के संगठन प्रभारी और राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ सुमंत राव ने की है.

डॉ सुमंत राव के मुताबिक छात्र जनशक्ति परिषद किसी विवाद में नहीं पड़ना चाहता, क्योंकि यह कोई राजनीतिक दल नहीं है. इसका काम चुनाव लड़ना भी नहीं है. मगर इतना तय है कि हम राजद को मजबूत करने के लिए काम कर रहे हैं. और आगे भी करते रहेंगे. राव ने कहा कि छात्र जनशक्ति परिषद से जुड़े तमाम लोग अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजप्रताप के हर निर्देश का अनुपलान करेंगे. फिलहाल राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के निर्देश के मुताबिक किसी विवाद से बचने के लिए हाथ में लालटेन वाली तस्वीर को हमने हटा दिया है.

आगामी 2 अक्टूबर, 11 अक्टूबर और 17 अक्टूबर को छात्र जनशक्ति परिषद के विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन होगा, जिसमें संगठन को लेकर आगे की रूपरेखा पर विस्तार से चर्चा होगी.

बता दें कि तेज प्रताप यादव छात्र राजद के संरक्षक के तौर पर काम कर रहे थे. पिछले महीने प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह से हुए विवाद के बाद छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष के पद पर गगन यादव की नियुक्ति कर दी गई. तेज प्रताप यादव ने इस पर नाराजगी जताते हुए जगदानंद सिंह पर कार्रवाई की मांग की थी. इस विवाद के बाद तेज प्रताप यादव ने छात्र राजद से अपना नाता तोड़ लिया और छात्र जनशक्ति परिषद नामक अलग छात्र संगठन का गठन किया. इस पूरे घटनाक्रम के बाद सवाल ये उठ रहा है कि क्या तेजप्रताप यादव का नाता RJD से टूट चुका है?

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज