लाइव टीवी

तेजप्रताप ने कहा कुछ ऐसा कि लालू यादव को भी किया जा रहा है याद

Amit Singh | News18Hindi
Updated: January 27, 2020, 8:06 AM IST
तेजप्रताप ने कहा कुछ ऐसा कि लालू यादव को भी किया जा रहा है याद
बाजार में रुक कर तेजप्रताप यादव ने कुल्हड़ की चाय का मजा लिया.

कुछ दिनों पहले ही ग्वाले का रूप धरने पर देशभर में वे सुर्खियों में बने रहे थे और अब उन्होंने कुछ ऐसा कहा है कि उनके साथ ही उनके पिता को भी याद किया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 27, 2020, 8:06 AM IST
  • Share this:
पटना. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बेटे तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) कुछ न कुछ कर हर समय चर्चा में बने ही रहते हैं. कुछ दिनों पहले ही ग्वाले का रूप धरने पर देशभर में वे सुर्खियों में बने रहे थे और अब उन्होंने कुछ ऐसा कहा है कि उनके साथ ही उनके पिता को भी याद किया जा रहा है. दरअसल तेजप्रताप ने अब कहा है कि प्लास्टिक की जगह मिट्टी के कुल्हड़ में चाय पीनी चाहिए. उन्होंने अपने पिता की तरह ही कुल्हड़ पर अब अपना दांव आजमाया है.

कुल्हड़ खांटी है, देश की माटी है
तेजप्रताप ने इस दौरान कहा कि कुल्हड़ खांटी है और देश की माटी है. उन्होंने कहा कि प्लास्टिक के कप में चाय पीने से आपको खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं. ऐसे में यदि आप कुल्हड़ में चाय पीएंगे तो बीमारियों से बचेंगे. साथ ही मिट्टी की खुशबू आपको इसमें मिलेगी. इन सभी से ऊपर गरीब कुम्हारों को भी इससे फायदा होगा उनकी आर्थिक हालत सुधरेगी. गौरतलब है कि तेजप्रताप कई बार सड़क किनारे कुल्हड़ में चाय पीते नजर आते हैं. नालन्दा में आयोजित घुड़सवारी प्रतियोगिता से लौटने के बाद तेजप्रताप बख्तियारपुर बाजार में रुककर कुल्हड़ में चाय पीते नजर आए.

लालू की पब्लिसिटी!

दरअसल तेजप्रताप यादव के इस अभियान के पीछे एक बड़ा मकसद भी छिपा है. तेजप्रताप कुल्हड़ के बहाने लालू यादव की पब्लिसिटी करने में लगे हैं. तेजप्रताप यादव कहते हैं कि आज की सरकारें प्लास्टिक बैन और प्लास्टिक से लोगों को होने वाले खतरे के बारे में बताती तो हैं फिर भी लोग इस प्लास्टिक का धड़ल्ले से इस्तेमाल कर रहे हैं जबकि आज से कई साल पहले जब लालू जी देश के रेलमंत्री थे तभी उन्होंने कुल्हड़ को प्राथमिकता दी थी.

लोगों को खूब रिझाया
इससे पहले सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले में रविवार को तेजप्रताप ने लोगों को खूब रिझाया. नालन्दा के तेघड़ा में एक घुड़सवारी प्रतियोगिता में शामिल हुए तेजप्रताप यादव ने अपने खास अंदाज कभी कृष्ण बनकर बांसुरी बजाई तो कभी सारथी बनकर रथ चलाने लगे.

ये भी पढ़ेंः वशिष्ठ नारायण को पद्म श्री, परिवार ने कहा- वे भारत रत्न के हकदार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 26, 2020, 11:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर