होम /न्यूज /बिहार /Patna: राजधानी में प्रचंड रूप से बढ़ गई है गर्मी, अभी तक मॉर्निंग नहीं हुए स्कूल

Patna: राजधानी में प्रचंड रूप से बढ़ गई है गर्मी, अभी तक मॉर्निंग नहीं हुए स्कूल

X
प्रतीकात्मक

प्रतीकात्मक तस्वीर.

Patna News: स्कूलों की डे टाइमिंग को लेकर अब दिक्कतें होने लगी है. गर्मी बढ़ने से छात्र-छात्राओं की सेहत पर भी असर पड़ ...अधिक पढ़ें

उधव कृष्ण
पटना.
गर्मी को देखते हुए राज्य के कई जिलों में आगामी 01 अप्रैल से सरकारी और निजी स्कूलों को मॉर्निंग शिफ्ट में संचालित किया जाएगा. लेकिन राजधानी में इस तरह का कोई पत्र अभी तक जारी नहीं हुआ है. बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के कार्यकारी अध्यक्ष मनोज कुमार बताते हैं कि आजादी के बाद से ही ऐसा चलन रहा है कि गर्मी के दिनों में प्राथमिक विद्यालय स्वतः ही प्रातकालीन सत्र में आयोजित होने लगती है.

बिहार की बात करें तो यहां पूर्व में अप्रैल के पहले सोमवार से गर्मी छुट्टी तक अपने आप ही विद्यालयों की कक्षा मॉर्निंग शिफ्ट में आयोजित होने लगती थी. लेकिन अब आरटीई एक्ट 2009 के लागू होने के बाद से मौसम के हिसाब से विद्यालय के समय सारणी में परिवर्तन का अधिकार जिला पदाधिकारी को दे दिया गया है. मनोज कुमार कहते हैं कि इस बार भी कई जिलों में 01 अप्रैल से स्कूलों को मॉर्निंग करने संबंधी आदेश जारी कर दिया गया है, जबकि कई जिला में ऐसा नहीं हुआ है. जिसमें राजधानी भी शामिल है.

क्या कहता है नियम
मनोज कुमार बताते हैं कि हाल के वर्षों तक निदेशक प्राथमिक शिक्षा और निदेशक माध्यमिक शिक्षा मौसम के हिसाब से पत्र जारी कर समय में बदलाव करने संबंधी आदेश जारी करते थे, पर अब इस प्रकिया को बेवजह उलझा दिया गया है. मनोज कुमार की माने तो डीईओ द्वारा लेटर जिला पदाधिकारी को प्रेषित करना होता है, जिसमें काफी समय लग जाता है. हालांकि मनोज कुमार कहते हैं कि विभाग द्वारा जारी होने वाले अवकाश तालिका में ही समय तालिका भी जोड़ दिया जाता, तो इस तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता.

स्कूलों को प्रातकालीन सत्र में किया जाए संचालित
मनोज कुमार बताते हैं कि फिलहाल स्कूल 9:00 बजे से संचालित होते हैं. जबकि पूर्व में अप्रैल महीने की शुरुआत से ही स्कूल को 6:30 बजे से 11:30 बजे तक संचालित किया जाता रहा है. हालांकि पिछले साल भी मॉर्निंग शिफ्ट होने में विलंब देखा गया था.

Tags: Bihar News, PATNA NEWS

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें