Home /News /bihar /

लोकसभा चुनाव 2019: चुनाव रणभेरी बजने के बाद भी 'मैन इन वेटिंग' हैें बिहार के ये चार दिग्गज

लोकसभा चुनाव 2019: चुनाव रणभेरी बजने के बाद भी 'मैन इन वेटिंग' हैें बिहार के ये चार दिग्गज

अरुण कुमार, अनंत सिंह, पप्पू यादव, मुकेश सहनी

अरुण कुमार, अनंत सिंह, पप्पू यादव, मुकेश सहनी

बिहार में जिन उम्मीदवारों की पार्टी को लेकर सस्पेंस बरकरार है उनमें अरूण कुमार, अनंत सिंह और पप्पू यादव शामिल हैं. इन तीन नेताओं में से दो बिहार के सीटिंग एमपी हैं.

लोकसभा चुनाव की रणभेरी बजने के बाद बिहार में उम्मीदवारी का दौर अंतिम चरण में है. एनडीए और महागठबंधन के नेता जहां टिकट पाने वाले उम्मीदवारों के नाम को फाइनल करने में जुटे हैं वहीं कुछ लोगों को लेकर सस्पेंस अभी भी बरकरार है. इस कड़ी में बिहार के दो सीटिंग सांसद भी हैं जिनका चुनाव लड़ना तो तय है लेकिन ये तय नहीं हो सका है कि वो कहां से और किस पार्टी या खेमे से चुनाव लड़ेंगे.

जहानाबाद सीट पर कुछ ऐसी ही स्थिति है. यहां के सीटिंग एमपी डाक्टर अरूण कुमार का चुनाव लड़ना तय माना जा रहा है लेकिन इस बात का फैसला अभी तक नहीं हो सका है कि कुमार महागठबंधन के खेमें से उम्मीदवार होंगे या नहीं. न्यूज 18 से बात करते हुए अरूण कुमार ने कहा कि मैं जहानाबाद सीट से ही चुनाव लडूंगा इसके साथ ही मेरी पार्टी बिहार की उजियारपुर और मुजफ्फरपुर सीट से अपने उम्मीदवार दे सकती है और इसका फैसला आने वाले दो-तीन दिनोें में हो जाएगा. कुमार ने कहा कि वो एनडीए को छोड़ चुके हैं लेकिन उनकी महागठबंधन से बात चल रही है और बहुत जल्द ही इस बात पर फैसला होगा.

ये भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव 2019: हाजीपुर सीट से छोटे भाई को दिल्ली भेजने की तैयारी में रामविलास पासवान

मोकामा से बाहुबली विधायक अनंत सिंह का उम्मीदवारी की तस्वीर अभी तक साफ नहीं हो सकी है. अनंत ने राहुल गांधी की पटना में हुई रैली से पहले जिस तरह का दमखम दिखाया था उससे माना जा रहा था कि अनंत की कांग्रेस में एंट्री और मुंगेर सीट से उम्मीदवारी तय है लेकिन बात नहीं बनी और अनंत अभी तक मैन इन वेटिंग में गिने जा रहे हैं. अनंत से सीट मिलने से पहले ही मुंगेर से न केवल अपनी दावेदारी ठोकी थी बल्कि जीत का भी दंभ भरा था. मुंगेर सीट को लेकर अभी तक न तो एनडीए और न ही महागठबंधन ने अपने उम्मीदवार दिए हैं ऐसे में अनंत की उम्मीदवारी अभी तक ठंडे बस्ते में है.

ये भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव 2019: पटना में नहीं बनी बात, अब दिल्ली में होगा महागठबंधन के सीटों का बंटवारा

मधेपुरा के सांसद और जन अधिकार पार्टी के संरक्षक पप्पू यादव का. पप्पू बिहार की मधेपुरा सीट से सांसद हैं लेकिन इस बार का चुनाव वो कहां से लड़ेंगे वो अभी तक तय नहीं हो सका है इसके साथ ही ये बात भी अभी तक क्लियर होनी है कि वो किसके खेमे से ये चुनाव लड़ेंगे. ये कयास लगाए जा रहे हैं कि पप्पू कांग्रेस की टिकट पर महागठबंधन के बैनर तले मधेपुरा से उम्मीदवार होेंगे लेकिन आज जो खबर निकल कर आई उसके मुताबिक पप्पू एक साथ दो सीटों यानी मधेपुरा और पूर्णिया से उम्मीदवारी के मूड में हैं. पप्पू की महागठबंधन में एंट्री को लेकर राजद-कांग्रेस आमने सामने हैं क्योंकि पप्पू किसी जमाने में राजद में ही हुआ करते थे और पार्टी छोड़ने के बाद वो लगातार राजद के खिलाफ आग उगलते रहे हैं ऐसे में कांग्रेस में जाने के बाद भी राजद उनको समर्थन करने के मूड में फिलहाल नहीं है.

ये भी पढ़ें- सीट शेयरिंग को लेकर अब दिल्ली में होगा फैसला, राहुल गांधी ने कांग्रेस के शीर्ष नेताओं को बुलाया

मुकेश सहनी की उम्मीदवार को लेकर भी बिहार में कन्फ्यूजन की स्थिति कायम है. वीआईपी पार्टी यानी विकासशील इंसान पार्टी के बैनर तले महागठबंधन का हिस्सा बने मुकेश सहनी दरभंगा सीट से अपनी दावेदारी कर रहे हैं. इस सीट से अभी बीजेपी छोड़कर कांग्रेस का हाथ थामने वाले कीर्ति आजाद सांसद हैं और उनका इस सीट से दोबारा लड़ना तय माना जा रहा है. दूसरी ओर मुकेश भी इस सीट से अपनी दावेदारी लगातार जारी रखे हैं ऐसे में दरभंगा सीट को लेकर भी सस्पेंस जारी है, हालांकि यह तय माना जा रहा है कि मुकेश सहनी की पार्टी को बिहार में महागठबंधन के खाते से एक सीट मिलेगी.

Tags: Bihar News, PATNA NEWS

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर