• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • Covid 19- त्योहारों के मौसम में कोरोना को कंट्रोल कर पायेगा बिहार ? जानें क्या कहते हैं आंकड़े

Covid 19- त्योहारों के मौसम में कोरोना को कंट्रोल कर पायेगा बिहार ? जानें क्या कहते हैं आंकड़े

बिहार में सितंबर महीने में कोरोना नियंत्रण में रहा है (फाइल फोटो)

बिहार में सितंबर महीने में कोरोना नियंत्रण में रहा है (फाइल फोटो)

Corona Third Wave In Bihar: बिहार में कोरोना के वैक्सीनेशन की स्थिति देखने के बाद ये अनुमान जा रहा है कि अगर कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ती भी है तो डेथ रेशियो में काफी हद तक कमी रहेगी, इसका कारण वैक्सीनेशन के कारण 70 प्रतिशत आबादी की इम्युनिटी पहले की तुलना में बेहतर होना माना जा रहा है.

  • Share this:

पटना. पिछले दो सालों से दुनिया में तबाही मचानेवाली कोरोना जैसी घातक महामारी (Corona Pandemic) ने सब कुछ बदल कर रख दिया है और लाख कोशिशों के बाद भी इस वायरस को हराने में अबतक पूरी तरह से कामयाबी नहीं मिल सकी है. बिहार की अगर बात करें तो सितंबर माह में संक्रमित मरीजों (Bihar Corona Cases) की संख्या सामान्य से भी कम देखी गई और कोरोना कंट्रोल रहा लेकिन अब अक्टूबर से त्योहारों के मौसम में मरीजों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई गई है.

बिहार में एक्टिव मरीजों की संख्या की बात करें तो अभी आंकड़ा 56 पर है जबकि रोजाना 3 से लेकर 12 तक पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हो रही है, हालाकि रिकवरी रेट अब भी 98.66 प्रतिशत है जो कि काफी बेहतर मानी जा रही है. सीएम नीतीश कुमार के निर्देश के बाद भी अब तक रोजाना सैम्पल जांच की संख्या 2 लाख तक नहीं पहुंच सकी है और 1 लाख 12 हजार से लेकर 1 लाख 40 हजार तक ही राज्य में रोजाना सैम्पल की जांच हो पा रही है.

पिछले 24 घन्टे में महज तीन मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है लेकिन यह आंकड़ा घट-बढ़ रहा है. पटना के न्यू गार्डिनर अस्पताल के निदेशक डॉ मनोज सिन्हा की मानें तो कोरोना कहीं नहीं गया है बल्कि लापरवाही बरतने पर फिर से यह लोगों को प्रभावित कर सकता है इसीलिए लोग अब भी मास्क लगाकर ही निकलें और सोशल डिस्टेंसिंग का हर हाल में पालन करें. उन्होंने अनुमान जताया है कि अगर इस बार कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ती भी है तो डेथ रेशियो में काफी हद तक कमी रहेगी क्योंकि वैक्सीनेशन अभियान चलाए जाने के बाद 70 प्रतिशत आबादी की इम्युनिटी पहले की तुलना में बेहतर हुई होगी.

वैक्सीन के कारण अब कोरोना का संक्रमण जानलेवा कम साबित हो सकता है. बिहार में अब भी जिन जिलों में एक्टिव मरीज हैं उनमें अररिया में 3, बेगूसराय 1, भोजपुर 4, दरभंगा 4, गोपालगंज में 5, कटिहार 2, किशनगंज 1, मधेपुरा 4, सुपौल 2, रोहतास 2, वैशाली 1, सीतामढ़ी 1, समस्तीपुर में 1 और सबसे ज्यादा एक्टिव मरीज आज भी मधुबनी में हैं जहां 16 मरीज संक्रमण से जंग लड़ रहे हैं.

डॉक्टरों की मानें तो बिहार के लिए अक्टूबर से चुनौतियां बढ़ेंगी क्योंकि दुर्गापूजा और छठ में बाहर से आनेवाले लोगों की संख्या बढ़ेगी और भीड़भाड़ वाले जगहों पर अगर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होता है और लोग मास्क का इस्तेमाल नहीं करते हैं तो तस्वीरें फिर से भयावह हो सकती है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज