Bihar Corona Update: 24 घन्टे में 1080 नए मरीज, दो ने इलाज के दौरान तोड़ा दम

Bihar Corona Update: 24 घन्टे में 1080 नए मरीज, दो ने इलाज के दौरान तोड़ा दम  (सांकेतिक फोटो)

Bihar Corona Update: 24 घन्टे में 1080 नए मरीज, दो ने इलाज के दौरान तोड़ा दम (सांकेतिक फोटो)

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोनी की समीक्षा बैठक की. इस बैठक में उन्होंने राज्य के उन आठ जिलों के बारे में भी जानकारी ली जहां कोरोना का संक्रमण (Corona Virus) सबसे अधिक है

  • Share this:
पटना. सूबे में कोरोना का दूसरा दौर तेजी से फैल रहा है और संक्रमण के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है. राज्य में 24 घंटे में कोरोना के 1080 नए मरीज मिले हैं और इसी के साथ एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 4954 पहुंच चुकी है. चिंता की बात ये है कि 99.56 तक रिकवरी रेट वाले बिहार में अब रिकवरी रेट भी घटकर 97.58 पर पहुंच गया है. सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज पटना जिले में मिले हैं जहां एक साथ 486 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है.

भागलपुर में भी कोरोना के 61 मरीज मिले हैं जबकि मुजफ्फरपुर में 60, जहानाबाद में 54 और गया में 41 सर्वाधिक मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है. इधर सीएम नीतीश के निर्देश पर कोरोना जांच में तेजी आयी है और 24 घन्टे में सबसे ज्यादा 81 हजार 314 सैम्पल की जांच हुई है. राज्य में 24 घंटे में दो मरीजों की मौत भी हुई है. पटना जिला प्रशासन पूरी तरह से सतर्क है और प्रखंड से पंचायत तक टेस्टिंग, वैक्सीनेशन और कोविड प्रोटोकॉल को लेकर तेजी से अभियान चला रहा है.

जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने कोरोना की रोकथाम एवं बचाव के लिए कोषांग के अधिकारियों और अनुमंडल पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी और प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक की साथ ही आवश्यक निर्देश भी दिया. बैठक में अवगत कराया गया कि कल बुधवार को ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड वैक्सीनेशन का कार्य नहीं होगा बल्कि नियमित टीकाकरण का कार्य होगा वहीं शहरी क्षेत्र में कोविड  टीकाकरण का कार्य अन्य दिनों की भांति कल भी जारी रहेगा.

जिलाधिकारी ने सभी अनुमंडल पदाधिकारी और प्रखंड विकास पदाधिकारी को प्रखंड स्तर पर एक -एक क्वॉरेंटाइन सेंटर की तैयारी करने और सेंटर पर आवश्यक व्यवस्था करने का निर्देश दिया है, इसके लिए सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को स्थलीय भ्रमण करने तथा आवश्यक तैयारी  करने को भी कहा गया है. जिलाधिकारी ने आरटीपीसीआर का लक्ष्य प्रतिदिन प्राप्त करने और रैपिड एंटीजन टेस्टिंग बढ़ाने का निर्देश दिया है.
केंद्र सरकार के आदेश पर  मुंबई-पुणे  से 7 स्पेशल ट्रेन  दानापुर ,पटना जंक्शन आना है जिससे आने वाले यात्रियों का शत प्रतिशत टेस्टिंग भी किया जाना है. जिलाधिकारी ने अधिकारियों की टीम के साथ दानापुर स्टेशन का निरीक्षण भी किया साथ ही स्थिति का जायजा लिया. इस संबंध में जिलाधिकारी ने रेलवे के अधिकारियों से भी बातचीत की और उन्होंने स्टेशन पर टेस्टिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश प्रशासनिक अधिकारियों को दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज