Bengal Elections: JDU के निशाने पर TMC के विधायक, ममता से टूटकर कई MLA जेडीयू से लड़ सकते हैं चुनाव

बंगाल चुनाव में भाजपा के बाद जेडीयू ममता विधायकों पर निशाना लगा रही है.

बंगाल चुनाव में भाजपा के बाद जेडीयू ममता विधायकों पर निशाना लगा रही है.

पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी को परखनी देने की पूरी तैयारी में भाजपा लगी हुई है. तृणमूल कांग्रेस के कई विधायक ममता का दामन छोड़ भाजपा का दामन थाम चुके हैं, अब ममता के घर में JDU ने भी सेंध लगाने की तैयारी कर ली है.

  • Last Updated: March 12, 2021, 11:56 AM IST
  • Share this:
पटना. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में ममता बनर्जी को पटखनी देने की पूरी तैयारी में भाजपा लगी हुई है, तृणमूल कांग्रेस (TMC) के कई विधायक भाजपा का दामन थाम चुके है. अब ममता के घर में JDU ने भी सेंध लगाने की बड़ी तैयारी कर ली है. ममता के कई विधायक टूट कर JDU के टिकट पर बंगाल में चुनावी क़िस्मत आजमा सकते हैं.

बंगाल में JDU के प्रभारी एमएलसी गुलाम रसूल बलियावि बंगाल में जेडीयू की चुनावी कमान थामे हुए हैं, उनकी कोशिश है की बंगाल में JDU की उपस्थिति मजबूत हो. बलियावि ने दावा किया है की ममता बनर्जी की पार्टी के कई विधायक JDU के संपर्क में है और बहुत जल्द JDU में शामिल होकर पार्टी के टिकट पर बंगाल विधानसभा चुनाव लड़ेंगे, बलियावि की माने तो बंगाल के पूर्व स्पीकर कलीमुद्दीन शम्स के बेटे मोइनुद्दीन शम्स, विधायक नलहट्टी ने उनसे मुलाक़ात की है. अटकल है कि मंगलवार को कई और पूर्व और वर्तमान विधायकों के साथ वे JDU में शामिल हो जाएंगे.

बंगाल प्रभारी गुलाम रसूल लगातार JDU आलाकमान को बंगाल की ज़मीनी हकीकत की जानकारी दे रहे हैं. JDU आलाकमान को बताया जा रहा है कि कौन सी सीट पर JDU का लड़ना ज़्यादा फ़ायदेमंद रहेगा, और क्यों? लेकिन JDU के लिए मुश्किल की बात ये है की पहले चरण में जहां चुनाव होने वाले हैं. उसमें JDU ने चार उम्मीदवारों को टिकट दिया था. लेकिन तीन उम्मीदवारों का टिकट तकनीकी वजह से रद्द हो गया था, अब JDU इस मामले को देखते हुए फूंक-फूंक कर कदम उठा रही है.

दरअसल बंगाल विधानसभा चुनाव में कई पार्टियों ने सिटिंग विधायकों का टिकट काटा है, साथ ही कई उम्मीदवारो को किसी भी पार्टी ने टिकट नही दिया है. जिसमें TMC, कांग्रेस जैसी पार्टियां हैं, वैसे पार्टी के मजबूत उम्मीदवारों पर JDU की नज़र है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज