पटना AIIMS में कल से शुरू होगा कोरोनिक वैक्सीन का ट्रायल, प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 2,880
Patna News in Hindi

पटना AIIMS में कल से शुरू होगा कोरोनिक वैक्सीन का ट्रायल, प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 2,880
बिहार में कोरोना के साढ़े 11 हजार मामले सामने आ चुके हैं. (प्रतीकात्मक फोटो)

एम्स के अधीक्षक सीएम सिंह (CM Singh) ने कहा कि 7 जुलाई से उन वालंटियर्स पर ट्रायल शुरू किया जाएगा जो स्वेच्छा से इसमें शामिल होना चाहते हैं.

  • Share this:
(रिपोर्ट- धर्मेंद्र कुमार) 

पटना. बिहार की राजधानी पटना स्थित एम्स (AIIMS) को कोरोनिक वैक्सीन ट्रायल (Coronic Vaccine Trial) के लिए देश के 12वें संस्थान के रूप में चुना गया है. भारत बायोटेक इंटरनेशनल के इजाद किये गए कोरोना वैक्सीन का पटना एम्स में 7 जुलाई से इंसानों पर ट्रायल शुरू किया जाएगा. यह ट्रायल तीन फेज में किया जाएगा. एम्स के अधीक्षक सीएम सिंह (CM Singh) ने बताया कि पहले फेज में सेफ्टी के साथ कम लोगों पर ही ट्रायल किया जाएगा. सफलता मिलने के बाद दूसरे और तीसरे स्तर का ट्रायल एम्स के डॉक्टरों और वैक्सीन बनाने वाली कंपनी के साथ केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और वैज्ञानिकों की देख रेख में किया जाएगा.

सीएम सिंह ने कहा कि 7 जुलाई से उन वालंटियर्स पर ट्रायल शुरू किया जाएगा जो स्वेच्छा से इसमें शामिल होना चाहते हैं. उन्होंने बताया कि वालंटियर की सभी प्रकार की जांच की जाएगी और जो लोग फिट होंगे उनको वैक्सिंग दिया जाएगा. एम्स के अधीक्षक ने बताया कि फिर वैक्सीन के रिजल्ट को ऑब्जर्व किया जाएगा.पटना एम्स के अधीक्षक सीएम सिंह ने यह कहा है कि बिहार में 74.09 फीसदी रिकवरी रेट है.





प्रवासी मजदूरों की वापसी के बाद मरीजों में अचानक वृद्धि दर्ज की गई है
उन्होंने कहा कि पूरे देश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. बिहार में कोरोना के साढ़े 11 हजार मामले सामने आ चुके हैं. जबकि 88 लोगों की बिहार में मौत हो चुकी है. प्रदेश में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 2,880 है. जबकि कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट 74.09 फीसदी है. सीएम सिंह ने कहा कि राज्य में प्रवासी मजदूरों की वापसी के बाद कोरोना संक्रमित मरीजों में अचानक वृद्धि दर्ज की गई है. तीन मई के बाद बिहार पहुंचे ज्यादातर प्रवासी व्यक्तियों में कोरोना पॉजिटिव पाया गया है. इसमें महाराष्ट्र, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान से आने वाले प्रवासी श्रमिक शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज