Assembly Banner 2021

सिर से जुड़ी 23 साल की जुड़वा बहनों सबाह और फराह ने पहली बार की वोटिंग

वोट डालने पहुंचीं दोनों बहनें

वोट डालने पहुंचीं दोनों बहनें

दोनों बहनों को 2015 में हुए विधानसभा चुनावों में एक ही पहचान पत्र जारी किया गया था और इस वजह से दोनों के वोट एक ही माने गए थे लेकिन इस बार दोनों को अलग-अलग पहचान पत्र जारी किए गए.

  • Share this:
लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के तहत वोटिंग प्रक्रिया जारी है. लोकतंत्र के इस महापर्व को लेकर राजधानी पटना में भी वोटर्स का उत्साह देखते ही बन रहा है. इस कड़ी में पटना के ही समनपुरा इलाके स्थित बूथ पर सिर से जुड़ी जुड़वां बहनें सबाह और फराह ने भी अपने मताधिकार का उपयोग किया और अपना-अपना वोट डाला.

अपने अभिभावकों के साथ वोट डालने पहुंची 23 साल की सबाह और फराह वोटिंग कर के काफी खुश थीं. दोनों बहनों को वोट दिलवाने लाइजनिंग अधिकारी सह सीडीपीओ प्रीति पटले पहुंची थीं. उन्होंने बताया कि वोट दिलवाने के लिए प्रशासन की तरफ से सुगम वाहिनी की व्यवस्था की गई थी और दोनों को पूरी व्यवस्था के साथ पोलिंग बूथ पहुंचाया गया.

ये भी पढ़ें- LIVE:बिहार में ग्रामीणों ने BDO को बनाया बंधक



दोनों बहनों ने बताया कि हमलोगों ने पहली बार वोटिंग किया है और लोकसभा चुनाव में अपना वोट डाला है. दोनों बहनों के मुताबिक उन लोगों ने विकास के मुद्दे पर ही वोट डाला है. वोट डालने के बाद दोनों ने लोगों से अपना वोट देने की कि अपील. पटना के समनपुरा इलाके में रहने वाली 23 वर्षीय सबाह और फराह का सिर जन्म से ही एक साथ जुड़ा है. दोनों बहनों को 2015 में हुए विधानसभा चुनावों में एक ही पहचान पत्र जारी किया गया था और इस वजह से दोनों के वोट एक ही माने गए थे लेकिन इस बार दोनों को अलग-अलग पहचान पत्र जारी किए गए.
ये भी पढ़ें- सुबह 11 बजे तक बिहार में 18.55 प्रतिशत वोटिंग

पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि के मुताबिक इन बहनों को उनकी शारीरिक स्थिति के चलते अलग-अलग पहचान से वंचित नहीं किया जा सकता. इसलिए फैसला लिया गया कि उन्हें अलग-अलग मतदाता पहचानपत्र जारी किया जाए जिससे वो अपना वोट डाल पाएं. पटना के बूथ पर दोनों बहनों को देखने के लिए लोगों की काफी भीड़ लगी रही.

ये भी पढ़ें- वोटर लिस्ट में तेजस्वी यादव के नाम के आगे किसी और की तस्वीर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज