• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • PATNA TWITTER ACCOUNT BLOCK OF LALU DAUGHTER ROHINI ACHARYA SUSHIL MODI COMPLAINED TO TWITTER NODBK

लालू की बेटी रोहिणी आचार्या का ट्विटर अकाउंट ब्लॉक, सुशील मोदी ने की थी शिकायत

कोविड-19 अस्प्ताल बनाने की नसीहत देने के बाद रोहिणी आचार्य सुशील मोदी पर लगातार हमले किए जा रही थीं.

Rohini-Sushil Twitter War: बीजेपी सांसद के ट्वीट करने के बाद रोहिणी आचार्य ने तल्ख तेवर अख्तियार कर लिया था. सुशील मोदी पर लगातार हमला बोलते हुए राजद सुप्रीमो की बेटी ने ट्वीट कर लिखा था कि यह तो आपकी किस्मत अच्छी थी कि हम वहां पर नहीं थे.

  • Share this:
पटना. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की बेटी रोहिणी आचार्य (Rohini Acharya) द्वारा ट्विटर पर भाजपा नेता सुशील मोदी पर लगातार हमले किए जा रहे हैं. हमले के बाद उनका अकाउंट ट्विटर ने ब्लॉक कर दिया है. दरअसल, बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद सुशील मोदी (Sushil Modi) ने रोहिणी आचार्य के खिलाफ ट्विटर से शिकायत की थी. सुशील मोदी ने इस बारे में एक और ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी साझा की. सुशील मोदी ने ट्वीट में लालू प्रसाद की दो बेटियों के डॉक्टर होने और तेजस्वी प्रसाद यादव को सरकारी आवास के बजाय पटना में अर्जित मकानों में से किसी एक को कोविड-19 अस्प्ताल बनाने की नसीहत देने के बाद रोहिणी आचार्य सुशील मोदी पर लगातार हमले किए जा रही थीं.

बीजेपी सांसद के ट्वीट करने के बाद रोहिणी आचार्य ने तल्ख तेवर अख्तियार कर लिया था. सुशील मोदी पर लगातार हमला बोलते हुए रोहिणी आचार्य ने ट्वीट कर लिखा था कि यह तो आपकी किस्मत अच्छी थी कि हम वहां पर नहीं थे. रोहिणी ने ट्वीट में सृजन घोटाले की भी चर्चा की और सुशील मोदी को आड़े हाथों लिया था. सुशील मोदी ने इन मुद्दों को लेकर ट्वीट के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी. सुशील मोदी ने ट्वीट कर पूछा कि मंत्री बनाने के एवज में जो 2 मंजिला भवन गिफ्ट किया गया था. उसमें या राबड़ी देवी के पास जो फ्लैट बचे हैं उसमें आप अस्पताल क्यों नहीं खोल लेते.

उन्होंने इसे केवल नाटक करार दिया था
एक दूसरे ट्वीट में सुशील मोदी ने यह भी ट्वीट किया कि यदि राजद नेतृत्व में गरीबों की सेवा के लिए तत्परता और गंभीरता होती तो अस्पताल शुरू करने के पहले सरकार से अनुमति ली जाती और उसके मानकों का पालन भी किया जाता. बगैर डॉक्टर स्वास्थ्यकर्मी उपकरण के किसी परिसर में केवल लगा देने से अस्पताल नहीं बन जाता उन्होंने इसे केवल नाटक करार दिया था.
First published: