पटना में बड़ा हादसा, नमामि गंगे प्रोजेक्ट का काम कर रहे दो मजदूरों की दम घुटने से मौत

पटना में मजदूरों की मौत के बाद शव को निकालता जेसीबी

पटना में मजदूरों की मौत के बाद शव को निकालता जेसीबी

Patna News: सोमवार को पटना में हुए इस हादसे में जान गंवाने वाले दोनों मजदूरों की पहचान मुर्सिदाबाद के मोहम्मद इदरिश और मोहम्मद इकबाल के रूप में हुई है.

  • Share this:

पटना. सोमवार को पटना में बड़ा हादसा हुआ. शहर के बेउर इलाके में एलएंडटी (L&T) के द्वारा बनाए जा रहे नमामि गंगे के प्रोजेक्ट (Namami Gange) में लगे दो कर्मचारियों की दम घुटने से सिवरेज में ही मौत हो गई है. बताया जाता है की सिवरेज का चैम्बर बनाने के दौरान काम करने के लिए मुर्सिदाबाद के रहनेवाले दो कर्मचारी मोहम्मद इदरिश और मोहम्मद इकबाल उतरे थे लेकिन उन्हें मालूम नहीं था कि वो अंदर ही रह जायेंगे. दोनों जैसे ही सिवरेज में उतरे उसके अंदर बनी जहरीली गैस की चपेटे में आ गए और वहीं उनकी मौत हो गई.

मजदूरों की मौत के बाद वहां काम कर रहे एलएंडटी के सारे कर्मचारी काम छोड़कर भाग खड़े हुए. स्थानीय लोगों ने देखा तो बेउर थाना को सूचना दी जिसके बाद बेउर थाना के प्रशिक्षु डीएसपी अमित कुमार और इंस्पेक्टर मनीष कुमार अपने दल बल के साथ पहुचे और तुरंत जेसीबी लगाकर दोनों शवों को बाहर निकाला. दोनों की पहचान काफी देर तक L&T के अधिकारियों और कर्मचारियों ने नहीं की, बाद में उसके गांव का एक कर्मचारी मोहम्मद हनिस आया तो उसकी पहचान हुई.

पुलिस ने शवों को निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए पटना एम्स भेज दिया है. फिलहाल पुलिस अपनी कार्रवाई में जुटी है, वहीं कर्मचारियों ने इस मामले पर अपना आक्रोश जताया है और काम के दौरान सुरक्षा के सही इन्तेजाम नहीं होने की बात कही है. इस में सबसे बड़ी बात यह रही कि जब दोनों शवों को खोदकर निकाला जा रहा था, तब L&T  के कोई कर्मचारी नहीं आये.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज