होम /न्यूज /बिहार /Ukraine-Russia Conflict: यूक्रेन में फंसे बिहारी छात्रों के परिवारवाले उनकी घर वापसी के लिए चिंतिति, PM मोदी और CM नीतीश से लगाई गुहार

Ukraine-Russia Conflict: यूक्रेन में फंसे बिहारी छात्रों के परिवारवाले उनकी घर वापसी के लिए चिंतिति, PM मोदी और CM नीतीश से लगाई गुहार

यूक्रेन में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे बिहार के मनेर निवासी शुभम मिश्रा के माता-पिता अपने बेटे से वॉट्सएप वीडियो कॉलिंग के माध्यम से लगातार जुड़े रहते हैं

यूक्रेन में मेडिकल की पढ़ाई कर रहे बिहार के मनेर निवासी शुभम मिश्रा के माता-पिता अपने बेटे से वॉट्सएप वीडियो कॉलिंग के माध्यम से लगातार जुड़े रहते हैं

Bihar News: बिहार से मेडिकल की पढ़ाई करने यूक्रेन गए छात्र दोनों देशों के बीच तनाव के माहौल में घर वापसी को लेकर परेशान ...अधिक पढ़ें

पटना. रूस और यूक्रेन के बीच तनाव (Ukraine-Russia Dispute) और तनातनी के माहौल में बिहार (Bihar) समेत देश भर के हजारों छात्र उक्रेन (Ukraine) में फंसे हुए हैं. बिहार से मेडिकल की पढ़ाई (Medical Education) करने यूक्रेन गए छात्र घर वापसी को लेकर परेशान हैं. इन छात्रों के माता-पिता और परिवारवाले दोनों देशों के इस संभावित युद्ध को लेकर काफी चिंतित दिखाई पड़ रहे हैं. यूक्रेन में फंसे छात्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से अपनी जान की रक्षा की गुहार लगा रहे हैं. पटना जिला के मनेर नगर पंचायत के बरैया टोला निवासी राजेश कुमार मिश्र ने अपने बेटे शुभम मिश्रा पिछले वर्ष मेडिकल की पढ़ाई के लिए यूक्रेन के खरखीवा नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी में अपना एडमिशन करवाया था.

लगातार बिगड़ रहे हालात को देखते हुए शुभम उक्रेन स्थित इंडियन एंबेसी में गया. लेकिन, वहां से उसे कोई खास सहयोग नहीं मिला. वहीं, बिहार में उसके परिवारवाले काफी परेशान हैं. वो लगातार वॉट्सएप पर वीडियो कॉल कर उससे बातचीत कर रहे हैं. शुभम के वहां से निकलने का कोई रास्ता नहीं दिखने पर परिवार के लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से गुहार लगायी है. शुभम मिश्रा की मां सविता मिश्रा ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अपने बेटे की सकुशल घर वापसी को लेकर गुहार लगाई है.

वहीं, शुभम के पिता राजेश मिश्रा ने बताया कि जब से यह विवाद (यूक्रेन-रूस विवाद) शुरू हुआ है तब से हमें डर लगा रहता है कि कहीं कुछ अनहोनी न हो जाए. कल (रविवार) न्यूज़ में देखा कि एक स्कूल पर बम गिरा दिया गया है, इससे हम सभी लोग और डर गए हैं. हमारी देश की सरकार और राज्य सरकार से मांग है कि यूक्रेन में फंसे मेरे बेटे शुभम को सुरक्षित वापस वतन लाने का कार्य करें. उन्होंने कहा कि जब से यह विवाद हुआ है केवल वॉट्सएप वीडियो कॉल और अन्य माध्यम से बेटे से बात हो रही है. बेटा शुभम वहां काफी डरा और सहमा हुआ है. यूक्रेन स्थित इंडियन एंबेसी ने मेरे बेटे की कोई खास मदद नहीं की है.

Tags: Bihar News in hindi, Danapur news, PATNA NEWS, Ukraine

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें