मंत्री अश्विनी कुमार चौबे को अफसोस, डॉक्टर बनकर कर पाता समाज की सेवा

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे (Ashwini Kumar Choubey) को डॉक्टर (Doctor) नहीं बनने का मलाल है. केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने रविवार को अपने दिल की बात बयां कर दी.

News18 Bihar
Updated: August 12, 2019, 4:34 AM IST
मंत्री अश्विनी कुमार चौबे को अफसोस, डॉक्टर बनकर कर पाता समाज की सेवा
अश्विन चौबे ने कहा, 'मुझे भी डॉक्टर बनना था. माता पिता ने मेरा नाम भी अश्विनी कुमार इसीलिए रखा था. File Photo
News18 Bihar
Updated: August 12, 2019, 4:34 AM IST
केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे (Ashwini Kumar Choubey) को डॉक्टर (Doctor) नहीं बनने का मलाल है. केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने रविवार को अपने दिल की बात बयां कर दी. पटना (Patna) में एक निजी अस्पताल (Private Hospital) के उद्घाटन कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय पहुंचे थे.

जहां डॉक्टरों को संबोधित करते वक्त अश्विनी चौबे ने अपने दिल की बात कही. अश्विन चौबे ने डॉक्टरों की तारीफ करते हुए कहा, 'मुझे भी डॉक्टर बनना था. माता-पिता ने मेरा नाम भी अश्विनी कुमार इसीलिए रखा था. लेकिन मैं डॉक्टर नहीं बन पाया. इसका मुझे अफसोस है.'

माता-पिता का सपना चकनाचूर हो गया
केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा कि मैंने 1972 में ही मेडिकल क्वालिफाई किया था. लेकिन गोविंदाचार्य ने मुझे सलाह दी थी कि तुम्हें डॉक्टर नहीं बनना है. बल्कि डॉक्टर के कारखाने में जाना है. यह सोचकर मैं डॉक्टर नहीं बना और मेरे माता-पिता का सपना चकनाचूर हो गया. अश्विनी चौबे ने मलाल जताते हुए कहा कि आज मुझे अफसोस है कि काश, मैं डॉक्टर होता तो शायद और समाज की सेवा अपने हाथों से कर पाता.

बिहार के राज्यपाल फागू चौहान से की थी मुलाकात
इससे पहले शनिवार को अश्विनी कुमार चौबे ने बिहार के राज्यपाल फागू चौहान से मुलाकात की. चौबे ने महामहिम राज्यपाल को बिहार का कार्यभार संभालने पर बधाई देते हुए उनके कार्यकाल के सुखद भविष्य की कामना करते हुए हार्दिक शुभकामनाएं दी थी. इस दौरान मंत्री ने महामहिम से बिहार में मंजूर हुए मेडिकल कॉलेजों के स्थापना कार्यों को जल्द से जल्द शुरू करने, बिहार के लिए मंजूर हुए दूसरे एम्स के स्थान चयन और निर्माण कार्य त्वरित गति से करवाने, पर्यावरण कार्यक्रमों को गति देने और उद्योग धंधों को बढ़ावा देने जैसे कामों को करवाने के लिए आग्रह करते हुए इसको प्राथमिकता देने का आग्रह किया.

(रिपोर्ट- रजनीश कुमार)
Loading...

ये भी पढ़ें--

ज्यादा चहकना बंद करे पाकिस्तान, उसके हर मर्ज की दवा है पीएम मोदी के पास: शाहनवाज हुसैन
First published: August 12, 2019, 4:34 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...