• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • आज पटना पहुंच रहे हैं RCP सिंह, एयरपोर्ट पर बजेगा ढोल-नगाड़ा, जानें 'भव्य स्वागत' के पीछे की पॉलिटिक्स

आज पटना पहुंच रहे हैं RCP सिंह, एयरपोर्ट पर बजेगा ढोल-नगाड़ा, जानें 'भव्य स्वागत' के पीछे की पॉलिटिक्स

केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह और जेडीयू अध्यक्ष ललन सिंह. (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह और जेडीयू अध्यक्ष ललन सिंह. (फाइल फोटो)

JDU Politics: केंद्र में मंत्री बनने के बाद जदयू के वरिष्ठ नेता रामचंद्र प्रसाद सिंह आज पहली बार बिहार आ रहे हैं. पार्टी की ओर से इनकी अगवानी के लिए भव्य तैयारियां की गई हैं. हालांकि सियासी जानकार उनकी इस यात्रा को जदयू में नीतीश कुमार के बाद 'नंबर-2 की जंग' भी मान रहे हैं.

  • Share this:

    पटना. केंद्र की मोदी सरकार में जनता दल (यूनाइटेड) की तरफ से मंत्री का ओहदा पाने के बाद रामचंद्र प्रसाद सिंह (RCP Singh) आज पहली बार पटना पहुंच रहे हैं. दोपहर 12 बजे उनके पटना पहुंचने की उम्मीद है. खबर है कि दिल्ली स्थित अपने आवास से वे निकल चुके हैं. केंद्रीय मंत्री के स्वागत को लेकर पटना में जेडीयू की तरफ से भव्य तैयारियां की गई हैं. पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं की भीड़ एयरपोर्ट पर जमा है. ढोल-नगाड़े के साथ आरसीपी सिंह के स्वागत की तैयारी है. कहने को आरसीपी सिंह का पटना दौरा सामान्य ही है, लेकिन सियासी जानकार इसे दूसरे नजरिये से देख रहे हैं. जदयू का अध्यक्ष बनने के बाद राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह के पटना आने पर भव्य स्वागत समारोह का आयोजन हुआ था. आरसीपी सिंह की अगवानी भी इसी अंदाज में करने की तैयारी है, जिसे विश्लेषक जेडीयू में ललन बनाम आरसीपी के शक्ति परीक्षण के तौर पर देख रहे हैं.

    आरसीपी के पटना आने के पीछे की राजनीति दिलचस्प है. दरअसल, ललन सिंह के स्वागत में जिस तरह जेडीयू कार्यकर्ताओं और नेताओं ने उत्साह दिखाया था, कुछ ऐसी ही उम्मीद आरसीपी सिंह की अगवानी को लेकर भी की जा रही है. यही वजह है कि केंद्रीय इस्पात मंत्री के पटना दौरे को लेकर पिछले एक हफ्ते से ज्यादा समय से सियासी चर्चाओं का दौर जारी है. हालांकि पार्टी ने इसे औपचारिक स्वरूप ही दे रखा है, लेकिन जेडीयू की अंदरूनी राजनीति को समझने वाले इसे पार्टी में नीतीश कुमार के बाद नंबर-2 की जंग के तौर पर ही देख रहे हैं. ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि ललन सिंह के स्वागत समारोह के मुकाबले आरसीपी की अगवानी को उनके समर्थक कितना ‘ऐतिहासिक’ बना पाते हैं.

    जेडीयू की तरफ से केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह के दौरे को लेकर स्पष्ट निर्देश जारी किया गया है. पार्टी की ओर से इसके लिए निर्देश जारी किया गया है, जिसमें लिखा है कि केंद्र में मंत्री बनने के बाद जेडीयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह का पहली बार 16 अगस्त को बिहार आगमन हो रहा है. वे करीब 12 बजे पटना एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे, जिसके बाद पार्टी के प्रदेश कार्यालय में साथियों से मिलेंगे. पार्टी की ओर से कार्यकर्ताओं को स्पष्ट रूप से कहा गया है कि आरसीपी के स्वागत में कोई कमी न रह जाए.

    स्वागत के पीछे की पॉलिटिक्स
    आरसीपी सिंह के पटना दौरे और उनके स्वागत को लेकर चल रही कयासबाजी यूं ही नहीं चल रही है. उनसे पहले जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह पटना आए, तो कार्यकर्ताओं व समर्थकों ने जोरदार अंदाज में उनका स्वागत किया. आरसीपी चूंकि ललन सिंह से पहले इस पद पर रह चुके हैं, तो जाहिर है उनके समर्थक भी स्वागत में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाह रहे हैं. यही बातें, पार्टी के भीतर की खेमेबाजी को हवा दे रही है. ललन सिंह और आरसीपी के समर्थक, अपने-अपने नेताओं के स्वागत समारोह के जरिये इस कोशिश में जुटे हैं कि उनका नेता ही जेडीयू में नंबर-2 की हैसियत रखता है. पार्टी में नीतीश कुमार के बाद अगर कोई है, तो उनका नेता है. यही वजह है कि ललन सिंह के समर्थकों ने तो स्वागत समारोह में भीड़ लाकर अपना काम कर दिया, अब बारी आरसीपी सिंह की है. देखना रोचक होगा कि स्वागत समारोह में किसका दम ज्यादा दिखता है.

    जेडीयू में गुटबाजी के सबूत
    जदयू में खेमेबाजी को लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेता चाहे जितना इनकार कर लें, लेकिन आरसीपी बनाम ललन की जंग में उनके समर्थक आपस में बंटे हुए हैं, यह दिख रहा है. इसका एक प्रमाण आरसीपी सिंह के स्वागत में लगे पोस्टर में दिखा. आरसीपी समर्थक अभय कुशवाहा ने अपने नेता की अगवानी के लिए जो पोस्टर लगवाए, उसमें ललन सिंह और उपेन्द्र कुशवाहा की तस्वीर नहीं है. इस पर बवाल मचा तो तुरंत संशोधन किया गया, लेकिन तब भी पोस्टर से कुशवाहा गायब ही रहे. जेडीयू के भीतर गुटबाजी का यह सबूत जब सबको नजर आया, उसके बाद आरसीपी बनाम ललन के बीच नंबर-2 की जंग की कयासबाजियां और तेज हो गई. देखना दिलचस्प होगा कि अब से कुछ देर बाद आरसीपी सिंह जब पटना एयरपोर्ट पर लैंड करेंगे और वहां से जेडीयू कार्यालय जाएंगे, इस दौरान उनकी अगवानी का अंदाज क्या होता है. इसी ‘अंदाज’ के आधार पर जेडीयू की अंदरूनी राजनीति का भविष्य नजर आएगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज