Unlock 1.0: आज सिर्फ़ 15 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें आएगी बिहार, 24 हजार मजदूर आएंगे
Patna News in Hindi

Unlock 1.0: आज सिर्फ़ 15 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें आएगी बिहार, 24 हजार मजदूर आएंगे
श्रमिक स्पेशल ट्रेन (File Photo)

प्रवासी मज़दूरों (Migrant Workers) के बिहार आने का सिलसिला अब थमने लगा है. पहले जहां एक दिन में सौ से अधिक ट्रेनों से मज़दूर बिहार पहुँच रहे थे अब उन श्रमिक स्पेशल ट्रेनों की संख्या घटकर सिर्फ़ 15 बच गई है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
पटना. प्रवासी मज़दूरों (Migrant Workers) के बिहार (Bihar) आने का सिलसिला अब थमने लगा है. पहले जहां एक दिन में सौ से अधिक ट्रेनों के ज़रिए प्रवासी मज़दूर बिहार पहुँच रहे थे अब उन श्रमिक स्पेशल ट्रेनों (Shramik Special Trains) की संख्या घटकर सिर्फ़ 15 बच गई है. आज सिर्फ़ 15 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें हीं बिहार आएगी और इन ट्रेनों से सिर्फ़ 24 हज़ार मज़दूर ही बिहार पहुंचेंगे.

15 श्रमिक ट्रेनें आज पहुँचेगी बिहार

तिरुप्पूर - मुज़फ़्फ़रपुर, तिरुप्पूर - हाजीपुर तिरूर, नवादा चेन्नई- मधुबनी नासिक रोड, कटिहार CSMT, दरभंगा कालका, बरौनी मडगाँव, अररिया मडगाँव, बाँका कनहांगड, कटिहार कालीकट, मधुबनी त्रिशूर, मुज़फ़्फ़रपुर त्रिवेंद्रम, बेतिया अलाप्पूजा, बेतिया आलाप्पूजा बरौनी



20 लाख श्रमिक इन ट्रेनों के जरिए पहुँचे हैं बिहार



रेलवे ने 4 मई से अब तक राज्य सरकार की मांग पर क़रीब 15 सौ श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन किया है और इन ट्रेनों के ज़रिये अब तक तक़रीबन 20 लाख प्रवासी मज़दूर बिहार पहुँच चुके हैं. अब दूसरे राज्यों से आने वाले मज़दूरों की संख्या ना के बराबर रह गई है. इस वजह से ट्रेनों की संख्या में भारी कमी कर दी गई है. कुछ राज्यों में जो मज़दूर बच गए हैं सिर्फ़ उन्हें लाने के लिए ही अब थोड़ी बहुत ट्रेनें चलाई जाएंगी.

31 मई तक मज़दूरों को बिहार लाने की थी की तैयारी

बिहार सरकार ने 31 मई तक दूसरे राज्यों में फंसे मज़दूरों को बिहार लाने की तैयारी की थी लेकिन अब सरकार की तरफ़ से यह कहा गया है कि अभी कुछ दिनों तक श्रमिक स्पेशल के ज़रिए दूसरे राज्यों में छूटे हुए मज़दूरों को लाने का काम चलेगा लेकिन इनकी संख्या अब ना के बराबर रह गई है.

15 जून को बंद कर दिया जाएगा क्वारंटाइन सेंटर

सराकर ने पहले ही ब्लॉक स्तर पर बने क्वारंटाइन सेंटरों को 15 जून से बंद करने की घोषणा कर दी है यानी जो मज़दूर 31 मई तक बिहार आएंगे उनका क्वारंटाइन पीरियड 15 जून को ख़त्म हो जाएगा और उसके बाद ब्लॉक स्तर पर बने क्वारंटाइन सेंटरों को बंद कर दिया जाएगा. स्पष्ट है कि राज्य सरकार ने पहले से यह तैयारी की हुई थी कि 31 जून तक सभी मज़दूरों को बिहार ले आया जाएगा. यही कारण है कि अब गिनी चुनी श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का परिचालन ही किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें: Unlock 1 में पटना से उड़े 16 विमान, आज से गो एयर भी शुरू करेगा उड़ान

तेजस्वी पर BJP MLA मिथिलेश तिवारी ने किया हमला, कहा- घर की बहू को न्याय दिलाएं
First published: June 2, 2020, 11:12 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading