लाइव टीवी

बाढ़ में क्यों डूब गया पटना शहर? उच्चस्तरीय जांच करवाएगी बिहार सरकार

News18 Bihar
Updated: October 5, 2019, 9:25 AM IST
बाढ़ में क्यों डूब गया पटना शहर? उच्चस्तरीय जांच करवाएगी बिहार सरकार
पटना में ड्रेनेज सिस्टम के नाकाम रहने की बात नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा ने स्वीकार की. (फाइल फोटो)

राज्य के नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा ने न्यूज़ 18 से बात करते हुए कहा कि जलजमाव को लेकर उच्चस्तरीय जांच करवाई जाएगी और दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी.

  • Share this:
पटना. भारी बारिश के बाद बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) में भयावह जलजमाव (Water Logging) को हुए छह दिन से अधिक हो गए. बावजूद इसके कई इलाकों में अब भी पानी जमा हुआ है. राजेंद्र नगर (Rajendra Nagar), पाटलिपुत्र कॉलोनी (Patliputra Colony), राजीव नगर (Rajeev Nagar) और नेपाली नगर (Nepali Nagar) जैसे कई मोहल्लों में अब भी तीन फीट तक पानी जमा है. शहर में नाले के पानी की निकासी की सुचारु व्यवस्था कर पाने में असफल रहा नगर प्रशासन की बदइंतजामी और राज्य शासन की नाकामी को जगजाहिर कर दिया है. इस मामले में अब जाकर सरकार ने उच्चस्तरीय जांच कराने की बात कही है.

बिहार के नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा ने न्यूज़ 18 से खास बात करते हुए कहा कि जलजमाव को लेकर उच्चस्तरीय जांच करवाई जाएगी और जो दोषी अधिकारी होंगे उन पर कार्रवाई  होगी. जलजमाव से निपटने के बाद इस पर बड़ा फैसला लेंगे.

बारिश-rain
पिछले हफ्ते हुई मूसलाधार बारिश के बाद पटना के कई इलाकों में अब भी जलजमाव की स्थिति है


उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि नगर प्रशासन के एजेंसियों के बीच तालमेल का अभाव के कारण नालों की ठीक से सफाई नहीं हुई है और इस कारण ही ऐसी परिस्थिति उत्पन्न (पैदा) हुई. उन्होंने कहा कि नगर निगम और बुडको को समन्वय बनाकर काम करना होगा.

केंद्रीय मंत्री ने जलजमाव की स्थित को लेकर बैठक की

इस बीच दिल्ली से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की एक टीम पटना पहुंची है. केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्वनी चौबे ने पटना में जलजमाव को लेकर टीम के साथ बैठक की. केंद्रीय मंत्री ने दावा किया कि जलजमाव के बाद महामारी की स्थिति नहीं होने देंगे.

Ashwini Choubey
केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा है कि सरकार बाढ़ के हालात के बाद शहर में महामारी नहीं होने देगी

Loading...

उन्होंने बताया कि केंद्रीय टीम लगातार घूम रही है. शहर में शनिवार से कई जगहों पर कैंप लगाए जाएंगे. इसमें एम्स के डॉक्टर इलाज करेंगे. बैठक में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा , विधायक अरुण सिन्हा, नितिन नवीन, संजीव चौरसिया के अलावा केंद्र सरकार के स्पेशल सेक्रेटरी संजीव कुमार के नेतृव वाली पांच सदस्यीय टीम भी मौजूद थी.

बता दें कि कोलकता से डॉ. पी रविंद्रम के नेतृत्व में कॉलरा की स्पेशल टीम भी पटना में है. बैठक में राज्य सरकार के स्वास्थ विभाग के कई अधिकारी भी मौजूद रहे.

(इनपुट- बृजम पांडे)

ये भी पढ़ें- 


बिहार कैबिनेट का फैसला: जमाबंदी-होल्डिंग के बाद ही जमीन बेचने और दान का अधिकार




बाढ़ की त्रासदी से जूझते बिहार के लिए मोदी सरकार देगी 400 करोड़

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 8:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...