• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • गैर मान्यता प्राप्त और फर्जी अस्पताल के कर्मियों को वैक्सीन नहीं दी जाएगी : स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे

गैर मान्यता प्राप्त और फर्जी अस्पताल के कर्मियों को वैक्सीन नहीं दी जाएगी : स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे

16 हजार 755 लोग टीकाकरण अभियान में शामिल: स्वास्थ्य मंत्रालय (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

16 हजार 755 लोग टीकाकरण अभियान में शामिल: स्वास्थ्य मंत्रालय (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

राज्य में वैसे अस्पताल कर्मियों को ही पहले फेज में वैक्सीन दी जाएगी, जो अस्पताल क्लिनिकल स्टैब्लिशमेंट एक्ट के तहत रजिस्टर्ड हैं यानि गैर मान्यता प्राप्त और फर्जी अस्पताल के कर्मियों को वैक्सीन अभी नहीं दी जाएगी.

  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) में कोरोना वैक्सीनेशन (Corona vaccination) को लेकर सभी प्रकार की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. अब सिर्फ इंतजार वैक्सीन पहुंचने का है. ये बातें स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) मंगल पांडेय (Mangal Pandey) ने न्यूज18 से खास बातचीत में की. इसके अलावा उन्होंने कई अहम जानकारियां दीं और ये साफ कर दिया कि राज्य में वैसे अस्पताल कर्मियों को ही पहले फेज में वैक्सीन दी जाएगी, जो अस्पताल क्लिनिकल स्टैब्लिशमेंट एक्ट के तहत रजिस्टर्ड हैं यानि गैर मान्यता प्राप्त और फर्जी अस्पताल के कर्मियों को वैक्सीन अभी नहीं दी जाएगी.

राज्य के 4 लाख 67 हजार 684 हेल्थ वर्कर्स को मिलेगी वैक्सीन

मंत्री ने कहा कि एयरपोर्ट पर वैक्सीन उतरते ही रेफ्रिजरेटर वैन से स्टेट वैक्सीन सेंटर भेजी जाएगी. वहीं स्टेट वैक्सीन सेंटर से फिर 10 रीजनल सेंटर वैक्सीन भेजी जाएगी, जहां से जिलों को मुहैया कराई जाएगी. हालाकि इन्होंने ये खुलासा नहीं किया कि कौन-सी वैक्सीन बिहार आएगी. लेकिन बिहार में दोनों वैक्सीन के लिए तैयारी पूरी कर ली गई है. स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि क्लिनिकल स्टैब्लिशमेंट एक्ट के तहत रिजिस्टर्ड अस्पतालों को ही मिलेगी वैक्सीन. राज्य के 4 लाख 67 हजार 684 हेल्थ वर्कर्स को मिलेगी वैक्सीन.

इन्हें भी पढ़ें :

बिहार: JDU ने उमेश कुशवाहा को बनाया प्रदेश अध्‍यक्ष, बैठक में लगी मुहर

नाबालिग कहती रही 'भैया, प्लीज मुझे जाने दो' लेकिन दरिंदे करते रहे गैंगरेप

पहले फेज के लिए बिहार आएगी 5 लाख वैक्सीन

उन्होंने जानकारी दी कि पहले फेज के लिए बिहार आएगी 5 लाख वैक्सीन. राज्य के 300 संस्थानों में टीकाकरण कार्यक्रम किए जाने की तैयारी है. इनमें 21 सदर अस्पताल, 17 अनुमंडलीय अस्पताल, 208 पीएचसी /सीएचसी, 3 रेफरल, 1 नर्सिंग होम, 9 सरकारी मेडिकल कॉलेज, 5 प्राइवेट मेडिकल कॉलेज और 36 अन्य प्राइवेट संस्थान में टीकाकरण का कार्यक्रम किया जाएगा. भंडारण का प्रमुख केंद्र एनएमसीएच स्थित स्टेट वैक्सीन सेंटर को बनाया गया है. राज्य में भंडारण के लिए अलग से 10 रीजनल सेंटर भी बनाए गए हैं. वैक्सीनेशन को लेकर सभी केंद्रों पर 5 सदस्यीय टीम का गठन किया गया है. एक केंद्र पर एक दिन में 100 लोगों को दिए जाएंगे टीके.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज