Home /News /bihar /

गबन के आरोपी वीसी राजेंद्र प्रसाद गए मेडिकल लीव पर, कार्रवाई के बदले राजभवन ने छुट्टी की मंजूर

गबन के आरोपी वीसी राजेंद्र प्रसाद गए मेडिकल लीव पर, कार्रवाई के बदले राजभवन ने छुट्टी की मंजूर

गबन के आरोपी वीसी की छुट्टी राज्यपाल फागू चौहान ने मंजूर की. (फाइल फोटो)

गबन के आरोपी वीसी की छुट्टी राज्यपाल फागू चौहान ने मंजूर की. (फाइल फोटो)

Bihar Rajbhawan News: राजभवन के द्वारा छुट्टी मंजूर किए जाने की सूचना जारी होते ही फिर से आरोपी पर मेहरबानी की चर्चा शुरू हो गई है. बता दें कि वीसी राजेन्द्र प्रसाद पर आरोप लगने के बाद विजिलेंस जांच चल रही है और बिहार से लेकर यूपी तक वीसी के कई ठिकाने पर लगातार छापेमारी भी हुई है. इसके बाद 30 करोड़ के गबन का पर्दाफाश हुआ है.

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार के विश्वविद्यालयों में भ्रष्टाचार के एक के बाद एक काले कारनामे सामने आने के बाद भी राजभवन कार्रवाई के मूड में नहीं दिख रहा है,  बल्कि  इसके विपरीत आरोपी पर ही मेहरबान है. मामला मगध विश्वविद्यालय के गबन के आरोपी वीसी राजेन्द्र प्रसाद (VC Rajendra Prasad) से जुड़ा है जिन पर 30 करोड़ रुपये गबन का आरोप है. इतने के बाद भी राजभवन ने राजेन्द्र प्रसाद पर कार्रवाई के बदले उनके मेडिकल लीव पर मुहर लगा दी है. इसके बाद वीसी राजेन्द्र प्रसाद को राज्यपाल फागु चौहान (Governor Fagu Chauhan) ने 24 नवम्बर से 23 दिसम्बर तक छुट्टी पर जाने की अनुमति दे दी है. राज्यपाल ने विश्वविद्यालय के प्रो वीसी विभूति नारायण सिंह को कुलपति का प्रभार दे दिया है.

राजभवन के द्वारा छुट्टी मंजूर किए जाने की सूचना जारी होते ही फिर से आरोपी पर मेहरबानी की चर्चा शुरू हो गई है. बता दें कि वीसी राजेन्द्र प्रसाद पर आरोप लगने के बाद विजिलेंस जांच चल रही है और बिहार से लेकर यूपी तक वीसी के कई ठिकाने पर लगातार छापेमारी भी हुई है. इसके बाद 30 करोड़ के गबन का पर्दाफाश हुआ है.

इधर  मौलाना मझहरुल हक अरबी फारसी विश्विद्यालय के तत्कालीन प्रभारी वीसी एसपी सिंह पर भी टेंडर घोटाला का आरोप लगा है, जिसके बाद भी राज्यपाल ने उन्हें मंगलवार को ही बेस्ट वीसी का अवार्ड दिया था. इस बीच मंगलवार को ही पीएमओ ने भी राज्यपाल फागु चौहान को तलब किया है.

मिली जानकारी के अनुसार बुधवार  की दोपहर 2 बजे की फ्लाइट से राज्यपाल दिल्ली रवाना हो रहे हैं, जहां माना जा रहा है कि हाल में बिहार के विश्विद्यालयों में उजागर हुए भ्र्ष्टाचार को लेकर भी राज्यपाल से सवाल जवाब हो सकता है. कयास यह भी लगाए जा रहे हैं कि पीएमओ आने वाले समय में कुछ सख्त कदम भी उठा सकता है.

Tags: Bihar News, Fagu Chauhan, PATNA NEWS

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर