Home /News /bihar /

vigilance raids on gm premises of bmsicl found immovable assets worth rs 8 crore nodaa

BMSICL के जीएम के ठिकानों पर विजिलेंस का छापा, 8 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति मिली

संजीव रंजन के शेखपुरा ग्राम धनीपुर के आलीशान मकान पर विजिलेंस के अधिकारी.

संजीव रंजन के शेखपुरा ग्राम धनीपुर के आलीशान मकान पर विजिलेंस के अधिकारी.

Corruption in Bihar: BMSICL के जीएम संजीव रंजन की 8 करोड़ की अचल संपत्ति की जानकारी मिली है. इसमें शेखपुरा में 5 करोड़ का आलिशान मकान भी शामिल है. अधिकारी के बैंक खाते में 50 लाख रुपए जमा पाए गए हैं. संजीव रंजन पर सरकारी पद का दुरुपयोग कर अवैध और काली कमाई जमा करने के आरोप में स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने अपने ही थाने में मुकदमा दर्ज करने के बाद यह कार्रवाई की है.

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार में भ्रष्टाचार और घोटाला कर धनकुबेर बने अफसरों की खैर नहीं है. लगातार विभिन्न एजेंसियां इन अफसरों को राडार पर रखकर एक्शन ले रही हैं. ताजा मामले में बिहार स्वास्थ्य सेवाएं आधारभूत संरचना निगम (BMSICL) के जीएम संजीव रंजन के ठिकानों पर विशेष निगरानी इकाई ने मंगलवार को छापेमारी की है.

सूत्रों ने बताया कि संजीव रंजन के ठिकानों से देर रात 8 करोड़ की अचल संपत्ति की जानकारी मिली है. इसमें शेखपुरा में 5 करोड़ का आलिशान मकान भी शामिल है. अधिकारी के बैंक खाते में 50 लाख रुपए जमा पाए गए हैं. संजीव रंजन पर सरकारी पद का दुरुपयोग कर अवैध और काली कमाई जमा करने के आरोप में स्पेशल विजिलेंस यूनिट ने अपने ही थाने में मुकदमा दर्ज करने के बाद यह कार्रवाई की है. संजीव रंजन के पटना स्थित रामकृष्णपुरम आवास समेत दो अन्य आवास और कार्यालय में देर रात तक छापेमारी जारी थी.

स्पेशल विजिलेंस यूनिट के अधिकारियों की मानें तो यह अधिकारी ऐशो-आराम के जीवन का शौकीन रहा है. कार्रवाई के दौरान संजीव रंजन के शेखपुरा ग्राम धनीपुर में 5 करोड़ का आलीशान मकान होने का साक्ष्य मिला है. तिमंजिला मकान में तमाम ऐशो-आराम के साधन के साथ एक स्विमिंग पूल भी है. इस आवास को लाखों रुपए खर्च करके अच्छी तरह सजाया गया है. आरोपी अधिकारी पटना क्लब का सदस्य भी है, जिसकी सदस्यता नंबर एस/470 है. आरोपी अधिकारी ने पत्नी के नाम पर कर्नाटक और बंगलुरु में मकान खरीदे हैं. ये मकान उसने डेल इंटरनेशनल नाम की कंपनी को किराए पर दे रखा है.

अपनी कमाई का ज्यादातर हिस्सा इस अधिकारी ने अपनी पत्नी के नाम पर अचल संपत्ति के रूप में निवेश कर रखा है. स्पेशल विजिलेंस यूनिट के अनुसार, सर्च के दौरान स्टेट बैंक, एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक के साथ ही इंडसइंड बैंक में 50 लाख से अधिक रुपए जमा पाए गए हैं. साथ ही एलआईसी, एसबीआई लाइफ, मैक्स लाइफ, अविव्वालाइव, ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस में भारी मात्रा में निवेश पाया गया है. अधिकारी ने रांची के बरियातू हाउसिंग कॉलोनी में फ्लैट, कांके में हम्बई मौजा में 86 डिसमिल जमीन और पटना के बाढ़ के बाजितपुर में 91 डिसमिल आवासीय जमीन की खरीद की है.

मंगलवार दोपहर करीब 3 बजे से स्पेशल विजिलेंस ने अधिकारी के ठिकानों पर छापेमारी शुरू की. हालांकि अभी फ्रेंड्स कॉलोनी दीघा के डेवलप कंट्री अपार्टमेंट के उसके फ्लैट नंबर 109 को बंद पाया गया है. इसे खुलवाने की कोशिश जारी थी. अभियुक्त के ऑफिस से भी 50 हजार रुपए नगद बरामद किए गए हैं. सर्च में अब तक 8 करोड़ की संपत्ति मिली है. तलाशी अभियान देर रात तक जारी है.

Tags: Bihar News, Corruption case, Vigilance Raid

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर