होम /न्यूज /बिहार /

'पत्नी ने मटन खाने घर बुलाया तो बहाना बनाकर गए, तभी बॉस ने बुला लिया' IPS अफसर का वीडियो वायरल

'पत्नी ने मटन खाने घर बुलाया तो बहाना बनाकर गए, तभी बॉस ने बुला लिया' IPS अफसर का वीडियो वायरल

बिहार के आइपीएस अधिकारी रहे प्रांतोष कुमार दास का रिटायरमेंट स्पीच वायरल.

बिहार के आइपीएस अधिकारी रहे प्रांतोष कुमार दास का रिटायरमेंट स्पीच वायरल.

IPS Officer Prantosh Kumar Das Video Viral: अपने स्पीच में प्रांतोष कुमार दास (Prantosh Kumar Das) बताते हैं कि एक बार वह घर पर मटन खाने गए थे, उनकी पत्‍नी ने कॉल कर बुलाया था.तभी उनके वरिष्‍ठ अधिकारी (एसपी) ने उन्‍हें बुला लिया. वीडियो में वह कहते हैं नया गांव नाम की जगह पर एक व्‍यक्ति को करंट लग गया था, जिसके बाद लोगों ने जाम लगा दिया था. इसमें पुलिस कमिश्नर भी फंस गए थे.

अधिक पढ़ें ...

    पटना. बिहार पुलिस में पुलिस महानिरीक्षक रहे प्रांतोष कुमार दास (Prantosh Kumar Das) अब रिटायर्ड हो गए हैं. रिटायर्मेंट के समय दिया गया उनका एक स्पीच ऐसा वायरल हुआ है कि लोग इसे लगातार शेयर कर रहे हैं. विशेष बात तो यह है कि सेवानिवृति के समय वरीय अधिकारियों की उपस्थिति में दिया गया उनके संबोधन का यह वीडियो बिहार सरकार के गृह विभाग के फेसबुक पेज से शेयर किया गया है. इसके अलावा यह यूट्यूब पर भी शेयर किया गया है. अपने रिटायरमेंट स्पीच के दौरान प्रांतोष कुमार दास ने अपनी सर्विस के दिनों की कई अविस्मरणीय यादों को अपनी जुबान दी और कई ऐसी बातें बताईं जो किसी भी पुलिस अफसर के लिए प्रेरणादायक हैं.

    अपने स्पीच में वे बताते हैं कि एक बार वह घर पर मटन खाने गए थे, उनकी पत्‍नी ने कॉल कर बुलाया था.तभी उनके वरिष्‍ठ अधिकारी (एसपी) ने उन्‍हें बुला लिया. वीडियो में वह कहते हैं नया गांव नाम की जगह पर एक व्‍यक्ति को करंट लग गया था, जिसके बाद लोगों ने जाम लगा दिया था. इसमें पुलिस कमिश्नर भी फंस गए थे. फोन आने के बाद वह कैसे घटनास्‍थल तक पहुंचे और महज आधे घंटे के अंदर जाम खुलवा दिया था. इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि कैसे एक वरीय अधिकारी के साथ वे बेहद ही सहज अंदाज में अपनी बात रख जाते थे और आवंटित कार्य को भी परिणाम तक पहुंचाते थे.

    इस वीडियो में वह यह सच भी स्वीकार करते हैं कि मटन खाने जब वह घर जा रहे थे तो उन्होंने बहाना हाईकोर्ट जाने का बनाया था. लेकिन, इसी बीच एसपी का फोन आया और पूछा कि कहां हो, तब उन्‍होंने हाईकोर्ट बताया था. लेकिन वह असल में घर पर थे, इसके बाद वह घटनास्‍थल पहुंचे और जो समय एसपी को बताया था उसके अंदर जाम खुलवा दिया. उन्‍होंने कहा कि ऐसा इसलिए हुआ क्‍योंकि उन्‍होंने 500 कम्‍युनिटी पुलिस के लड़कों को तैयार किया था. उन्‍होंने जाम खुलवाने में मदद की. अपने रिटायरमेंट स्‍पीच में उन्‍होंने कहा कि वह आगे भी अपनी सेवा देने को तैयार हैं.

    बता दें कि प्रांतोष कुमार दास अपने बेबाक अंदाज के लिए जाने जाते हैं. इससे पहले भी प्रांतोष कुमार दास का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वे बोलते हुए दिखते हैं कि पुल बनाने की उनकी औकात नहीं है, मेरा काम तो ठेला हटाने भर का है. उन्‍होंने पटना में लेन ड्राइविंग का उदाहरण दिया. वह बोले हर एसपी को जमीन पर उतरना चाहिए, ऐसे में चैंबर में बैठकर काम नहीं होता है. प्रांतोष कुमार विभिन्न जिलों में अलग-अलग पदों पर रहे हैं. वे बिहार पुलिस में पुलिस महानिरीक्षक के पद पर रह चुके हैं.

    Tags: Bihar latest news, Patna News Update, Viral video

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर