लाइव टीवी

पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव के लिए मतदान जारी, आज देर रात तक आएगा परिणाम

News18 Bihar
Updated: December 7, 2019, 9:40 AM IST
पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव के लिए मतदान जारी, आज देर रात तक आएगा परिणाम
पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव के लिए मददान जारी.

इस बार जहां छात्र जदयू ,आइसा, छात्र राजद और एबीवीपी सभी संगठन अकेले चुनाव लड़ रहे हैं वहीं, जन अधिकार छात्र परिषद और एआइएसएफ ने गठबंधन कर लिया है. एक साथ चुनाव लड़ रहे ये दो-तीन के फॉर्मूले पर चुनावी मैदान में हैं.

  • Share this:
पटना यूनिवर्सिटी (Patna University) में छात्रसंघ के चुनाव (Students Union Election) के लिए वोटिंग शुरू हो गई है. हालांकि कई जगहों पर मतदान (Voting) थोड़ी देरी से शुरू हुई. मतदान का समय सुबह 8 बजे से लेकर 2 बजे तक निर्धारित है. वहीं आज शाम 4 बजे से मतगणना (Vote counting) का काम शुरू हो जाएगा और देर रात तक परिणाम भी घोषित कर दिया जाएगा.

किसी भी तरह की अनहोनी न हो इसके लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं. चप्पे पर पुलिस बलों को तैनात कर दिया गया है. मतगणना के दौरान हर घंटे मतगणना का रुझान अनाउंस भी किया जाएगा और त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान से लेकर मतगणना का कार्य संपन्न कराया जाएगा.

पीयू छात्र संघ चुनाव के लिए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं.


बता दें कि इस बार कुल 22 हजार वोटर मतदान करेंगे और अध्यक्ष समेत 5 पदों पर प्रत्याशी मैदान में हैं.  सेंट्रल पैनल के पांच पदों के लिए कुल 45 प्रत्याशी मैदान में हैं तो अध्यक्ष पद के लिए 12 उम्मीदवार मैदान में हैं. इनमें छह निर्दलीय शामिल हैं.

वहीं, उपाध्यक्ष पद के लिए 10, महासचिव के लिए 7 और संयुक्त सचिव के लिए 6 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. इसके साथ  ही कोषाध्यक्ष के लिए 10 वहीं, काउंसलर पद के लिए 69 उम्मीदवार मैदान में हैं. कुल 21 हजार वोटर प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे.

पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव के लिए मतदान जारी है. 48 घंटे पहले सभी संगठनों ने अपने अंदाज में जमकर चुनाव प्रचार किए.


इस बार जहां छात्र जदयू ,आइसा, छात्र राजद और एबीवीपी सभी संगठन अकेले चुनाव लड़ रहे हैं वहीं, जन अधिकार छात्र परिषद और एआइएसएफ ने गठबंधन कर लिया है. एक साथ चुनाव लड़ रहे ये दो-तीन के फॉर्मूले पर चुनावी मैदान में हैं.

पैनल में अध्यक्ष और संयुक्त सचिव पद के लिए जाप उम्मीदवार खड़े हैं. तो  एआइएसएफ की ओर से उपाध्यक्ष, महासचिव और कोषाध्यक्ष  के लिए उम्मीदवार उतारे गए  हैं. सबसे बड़ी बात ये है  कि लेफ्ट के कई संगठन आइसा, एवाइडीएसओ से एआइएसएफ ने गठबंधन नहीं कर छात्र जनाधिकार परिषद के साथ गठबंधन किया है.


इनपुट- रजनीश कुमार


ये भी पढ़ें


News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2019, 9:16 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर