Bihar Phase 2 Voting: पहले दो घंटे में मतदान की रफ्तार धीमी, जानें किस जिले में पड़े कितने वोट

बिहार के नालंदा में वोट डालने पहुंचे मंत्री श्रवण कुमार
बिहार के नालंदा में वोट डालने पहुंचे मंत्री श्रवण कुमार

Bihar Election: बिहार में दूसरे फेज के चुनाव में 94 सीटों पर वोटिंग हो रही है. राजधानी पटना समेत अन्य जिलों में भी पहले के दो घंटों में वोटिंग की रफ्तार धीमी रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2020, 10:38 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में हो रहे विधानसभा चुनाव (Bihar Election 2020) के तहत दूसरे फेज की वोटिंग जारी है. कोरोना महामारी के बीच हो रहे इस चुनाव में वोटिंग की रफ्तार इस बार भी शुरुआती समय में कम दिख रही है. सुबह के 9 बजे तक बिहार के विभिन्न जिलों में मतदान का प्रतिशत 10 से भी कम रहा है. सबसे अधिक वोटिंग गोपालगंज (Gopalganj) में दर्ज की गई है जहां सुबह 9 बजे तक 9.84 % लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है. पटना में भी शुरूआती घंटों में वोटिंग की रफ्तार धीमी रही है और यहां 9.52 प्रतिशत लोगों ने वोट डाले हैं. पहले 2 घंटे में हुई वोटिंग की बात करें तो विभिन्न जिलों में वोटिंग का प्रतिशत कुछ ऐसा रहा है.

पश्चिमी चंपारण - 9.68
पूर्वी चंपारण- 6.79
शिवहर- 9.05
सीतामढ़ी- 8.27
मधुबनी - 6.99


दरभंगा - 5.79
मुज़्ज़फ़रपुर - 9.08
गोपालगंज - 9.84
सिवान - 6.76
सारण - 7.04
वैशाली- 7.85
समस्तीपुर - 9.38
बेगूसराय - 7.66
खगड़िया - 5.12
भागलपुर - 7.69
नालंदा - 9.61
पटना - 9.52

दूसरे चरण की वोटिंग के दौरान विभिन्न जिलों से ईवीएम मशीन के खराब होने की सूचना आई है वहीं कई जगह पर लोगों में मतदान को लेकर खासा उत्साह भी देखने को मिला है. पटना में बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने अपने छोटे बेटे तेजस्वी यादव के साथ वोट डाला और बिहार की नीतीश सरकार की विदाई की बात दोहराई.



इस चरण में जिन प्रमुख उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा उनमें राजद के तेजस्वी यादव भी शामिल हैं. तेजस्वी विपक्षी महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद के प्रत्याशी हैं. तेजस्वी यादव वैशाली जिले की राघोपुर विधानसभा सीट से दूसरी बार जीत दर्ज करने के लिए चुनाव मैदान में हैं. उन्होंने 2015 में भाजपा के सतीश कुमार को हराकर यह सीट फिर अपनी पार्टी के लिए जीती थी.

सतीश ने 2010 में इस सीट पर यादव की मां और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को हराया था. यही नहीं, भाजपा ने इस बार भी सतीश कुमार को ही यादव के खिलाफ मैदान में उतारा है. वहीं, तेजस्वी के बड़े भाई तेजप्रताप यादव हसनपुर से राजद प्रमुख लालू प्रसाद के समधी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू के टिकट पर परसा से चुनावी मैदान में हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज